SCO समिट में पीएम मोदी ने उठाया आतंकवाद का मुद्दा, बोले— भारत की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं

Published Date 2018/06/10 11:40,Updated 2018/06/10 03:30, Written by- FirstIndia Correspondent

किंगदाओ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को चीन में 18वें शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन के प्लेनरी सेशन को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने एक बार फिर आतंकवाद का मुद्दा उठाया। साथ ही उन्होंने कहा कि भारत की सुरक्षा के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। पीएम मोदी ने आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान का नाम लिए बिना जमकर आड़े हाथ लिया। मोदी ने अफगानिस्तान को आतंकवाद के प्रभावों का सबसे दुर्भाग्यपूर्ण उदाहरण बताया। उन्होंने कहा, मुझे उम्मीद है कि राष्ट्रपति घनी ने शांति स्थापित करने के लिए जो कदम उठाए हैं, उसका क्षेत्र के सभी देश सम्मान करेंगे। 

मोदी ने कहा कि भारत की सुरक्षा के साथ किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भारत आने वाले विदेशी पर्यटकों में से सिर्फ 6 प्रतिशत ही एससीओ देशों से आते हैं। इसे आसानी से दोगुना किया जा सकता है। हमारी साझा संस्कृतियों के बारे में जागरूकता बढ़ने से इस संख्या को बढ़ाया जा सकता है। पीएम मोदी ने कहा कि हम भारत में एससीओ फूड फेस्टिवल और बौद्ध फेस्टिवल का आयोजन करेंगे।  मोदी ने कहा, 'हम फिर से एक ऐसे स्टेज में आ गए हैं जहां भौतिक और डिजिटल कनेक्टिविटी भूगोल की परिभाषा को बदल रही है। इसलिए, हमारे पड़ोस और एससीओ क्षेत्र में कनेक्टिविटी हमारी प्राथमिकता है। इस सेशन में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी मौजूद थे।  
बता दें कि पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने शनिवार को शंघाई सहयोग संगठन(एससीओ) सम्मेलन से इतर यहां मुलाकात की थी। दोनों नेताओं ने बीजिंग द्वारा नई दिल्ली को ब्रह्मपुत्र नदी के आंकड़े साझा करने और भारत द्वारा चीन को चावल निर्यात करने के समझौतों पर हस्ताक्षर किए। दोनों नेताओं ने अप्रैल में वुहान में हुए महत्वपूर्ण सम्मेलन के बाद भारत-चीन संबंधों में हुए विकास को आगे बढ़ाया। शी और मोदी 3,448 किलोमीटर लंबे अपने विवादास्पद सीमा पर शांति बनाए रखने पर सहमत हुए।
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

23306