पल्लू में 10 दिन से जारी किसान आंदोलन समाप्त 

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/06/10 05:42

रावतसर(हनुमानगढ़)। किसान आंदोलन के समर्थन में पल्लू में किसानों ने एक तारीख से 10 तारीख तक सरस डेयरी के आगे धरना रखा और पूरे क्षेत्र के गांवों से 1 लीटर दूध भी 10 दिन तक डेयरियों पर नहीं लाया गया और साथ ही फल सब्जी बाजार में नहीं लाए। आज आंदोलन के अंतिम दिन सुबह 9:00 बजे से 12:00 बजे तक पल्लू का बाजार बंद रखा। उसके बाद धरना उठाया। 

यह आंदोलन की पहली कड़ी है जिसमें पूरे देश के अन्नदाता की जीत हुई है। किसान संगठन अगला प्रोग्राम दिल्ली से करेंगे। इस मौके पर जिला परिषद सदस्य गौरीशंकर थोरी ने बताया मोदी सरकार और राजस्थान की वसुंधरा सरकार किसानों के प्रति बिल्कुल संवेदनहीन हो गई है। अब किसानों को आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार होना चाहिए। अपने हक और अधिकार के लिए सड़कों पर उतरेंगे। 

उन्होंने कहा कि जब तक किसान को अपना हक नहीं मिलेगा तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। किसानों का संपूर्ण कर्जा माफ, स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने और दूध के वाजिब दाम देने सम्बन्धी बातों पर जब तक केंद्र और राज्य सरकार बात नहीं करेगी किसान सरकार के खिलाफ गांव गांव ढाणी ढाणी में पूरे देश में बगावत करेगा। जिसका नतीजा आने वाले कुछ महीनों में भाजपा को भुगतना पड़ेगा।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Big Fight Live | शर्तों के मेह\'मान\' ! | 16 OCT, 2018

रामपाल की सजा का ऐलान, मरते दम तक रहना होगा जेल में
रामपाल को हत्या और बंधक बनाने के मामले में आजीवन कारावास की सजा
अब इस नाम से जाना जायेगा इलाहाबाद, कैबिनेट में मिली मंजूरी
जानिए कैसे माँ की कृपा से रखे अपने आप को रोग मुक्त | Good Luck Tips
कोटा की रहने वाली मॉडल मानसी दिक्षित की मुंबई में हत्या
पूर्व राष्ट्रपति मिसाइल मैन एपीजे अब्दुल कलाम का आज ही के दिन हुआ था जन्म
ये सेल्फी बड़ी खतरनाक है !