राहुल ने फिर साधा मोदी पर निशाना, महत्वपूर्ण मुद्दों पर 'चुप्पी साधने' का लगाया आरोप

Published Date 2018/06/12 03:15,Updated 2018/06/12 03:43, Written by- FirstIndia Correspondent

ठाणे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन पर देश के समक्ष मौजूद महत्वपूर्ण मुद्दों पर 'चुप्पी साधने' का आरोप लगाया। राहुल ने भिवंडी अदालत में सुनवाई के बाद मीडिया से कहा, मोदीजी किसानों और बेरोजगारी जैसी बड़ी समस्याओं पर चुप हैं। वह पेट्रोल की बढ़ती कीमतों, मुद्रास्फीति और बेरोजगारी पर मेरे सवालों के जवाब नहीं देते हैं। मुठ्ठी भर 15 उद्योगपति देश चला रहे हैं। आरएसएस के एक कार्यकर्ता द्वारा दायर मानहानि के एक मामले को लेकर राहुल ने कहा, हमारी लड़ाई विचारधारा और व्यवस्था की है। वे मेरे खिलाफ चाहे जितने भी मामले अदालत में दायर करें..मैं उनके खिलाफ लड़ाई जारी रखूंगा, मुझे कोई चिंता नहीं है।

इससे पहले भिवंडी अदालत के न्यायाधीश एआई शेख ने राहुल को गवाहों के कटघरे में खड़ा होने के लिए कहा, और उनके खिलाफ आरोपों को पढ़कर सुनाया। राहुल ने इन आरोपों को स्वीकारने से इंकार कर दिया। सुनवाई की अगली तारीख 10 अगस्त तय हुई है। राहुल जब मुंबई हवाईअड्डे पहुंचे, तो उनके स्वागत में मुंबई हवाईअड्डे के बाहर सड़कों पर 'भावी प्रधानमंत्री' लिखे होर्डिग्स लगे दिखाई दिए। 

इस दौरान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण, मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरूपम, जनार्दन चंदुरकर, भाई जगताप, राजू वाघमारे और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने राहुल का स्वागत किया। राहुल यहां से ठाणे जिले से सटे भिवंडी अदालत के लिए प्रस्थान कर गए, जहां चार साल पहले उनके खिलाफ आरएसएस के एक कार्यकर्ता द्वारा दायर मानहानि के मामले में आरोप तय होने थे। इस दौरान भिवंडी अदालत किले में तब्दील था। 

राहुल पर आरएसएस कार्यकर्ता राजेश कुंटे ने मामला दर्ज करवाया था। राजेश ने मार्च 2014 में एक चुनावी रैली में राहुल गांधी के शब्दों पर विरोध जताया था, जिसमें राहुल ने महात्मा गांधी की हत्या के लिए आरएसएस को दोषी ठहराया था। राहुल इसके बाद मुंबई में गोरेगांव स्थित बम्बई एक्सिबिशिन सेंटर में पार्टी के 15,000 से अधिक बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से मिलेंगे। राहुल शाम को पार्टी के नगरनिगम पार्षदों और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार से भी मुलाकात कर सकते हैं। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in


loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------