राजस्थान बनेगा एक हजार करोड़ का स्पेशल टूरिज्म जोन

Published Date ,Updated 2018/06/06 04:54, Written by- FirstIndia Correspondent

जयपुर (निर्मल तिवारी)। प्रदेश को पर्यटन के क्षेत्र में एक और वृहद योजना मिल गई है। एक हजार करोड़ का स्पेशल टूरिज्म जोन बनने जा रहा है, जो प्रदेश की अर्थव्यवस्था और विकास को नई गति देगा। बड़ी बात यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल पर ही स्पेशल टूरिज्म जोन योजना तैयार की गई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल पर केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय ने देश में पांच स्पेशल टूरिज्म जोन बनाने की योजना तैयार की है। इनमें से एक एसटीज़ेड राजस्थान में बनेगा। स्पेशल जोन तैयार करने पर एक हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे जो पूरी तरह केंद्र सरकार वहन करेगी। राज्य सरकार को इसके लिए भूमि निशुल्क उपलब्ध करानी होगी। करीब 500 एकड़ में बनने वाले इस स्पेशल ट्यूरिज्म जोन को सरकार की ओर से आधारभूत ढांचा उपलब्ध कराया जाएगा। हालांकि योजना की अभी पूरी तरह से गाइडलाइन जारी नहीं हुई हैं। 

सूत्रों का कहना है कि एसटीज़ेड में दिल्ली की ऐरो सिटी की तर्ज पर प्लॉट्स तैयार कर निवेशकों को सीधे ही बेचे जाएंगे। निवेशक यहां होटल, रिसॉर्ट, स्पा, एम्यूजमेंट पार्क, आर्ट गैलेरी, मल्टीप्लेक्स या जो भी बनाना चाहता हो बना सकता है। एसटीज़ेड में सरकार की तरफ से लैंडस्केपिंग, सीवरेज, बिजली, पानी, सड़क की सुविधा तैयार की जाएगी। मेट्रो से जोड़ा जाएगा। हैलीपेड होंगे और एयरपोर्ट, बस अड्डे व रेलवे स्टेशन से कनेक्टिविटी होगी। एसटीज़ेड में तमाम सुविधाएं विश्वस्तर की होंगी जो पर्यटकों को मुहैया करवाई जाएंगी। 

अभी प्रदेश में एसटीज़ेड कौन से जिले या शहर में बनेगा यह निश्चित नहीं हुआ है लेकिन जयपुर को सबसे बड़ा दावेदार माना जा रहा है। एसटीज़ेड के अलावा विश्व विरासत में शुमार आमेर महल को भी देश के उन 15 स्मारकों में चुना गया है, जिन्हें केंद्र सरकार वर्ल्ड टूरिज्म डेस्टीनेशन के तौर पर तैयार करेगी। इस योजना पर राशि खर्च करने की कोई सीमा तय नहीं की गई है। इन स्मारकों पर पांच सितारा सुविधाएं तैयार की जाएंगी। जिनमें टिकटिंग, टॉयलेट, रेस्ट रूम, इलेक्ट्रिक कार्ट्स से लेकर वो तमाम आधुनिक सुविधा और उपकरण लगाए जाएंगे जिनकी सैलानी कल्पना करते हैं। कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि स्पेशल टूरिज्म जोन मिलना और आमेर को वर्ल्ड टूरिज्म डेस्टीनेशन में शुमार करने से प्रदेश के पर्यटन की दिशा और दशा बदल जाएगी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in


loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------