तनीषा ने बताया कि कड़ी मेहनत और कॉन्सनट्रेशन की मदद से वह अखबार, मैगजीन या फिर कुछ लिखा हुआ कोई कागज बंद आंखों और आंखों पर पट्टी बांधकर भी बड़ी आसानी से पढ़ सकती है। हालांकि उसने अपनी आंखों पर पट्टी बांधकर चलने में पूरी तरह से कामयाबी हासिल नहीं की है, लेकिन इसके लिए भी वह लगातार कोशिश कर रही है।

दरअसल, तनीषा के पिता एक कैंसर स्पेशलिस्ट है और उन्होंने बताया कि तनीषा के स्कूल में कोई कोर्स था, जिसे तनीषा ने किया था। उसके बाद उसका यह हुनर देखकर उन्हें भी अचंभा होता है कि आखिर उनकी बेटी ऐसा कैसे कर लेती है। निश्चित ही यह शोध का विषय है।

तनीषा के इस हुनर को जो भी लोग देखते हैं, अचंभे में पड़ जाते हैं कि आखिर कैसे संभव है कि कोई इंसान आंखों पर पट्टी बांधकर इतना सब कुछ पढ़ सकता है। तनीषा सिर्फ अखबार या मैगजीन ही नहीं पढ़ सकती, बल्कि कपड़ों के कलर बताने में भी माहिर है। अपने इस हुनर करो लेकर ही वह अपनी कॉलोनी के लोगों में भी काफी फेमस हो चुकी हैं।

", "sameAs": "http://www.firstindianews.com/news/This-girl-can-be-reads-newspaper-or-book-with-closed-eyes-1573756509", "about": [ "Works", "Catalog" ], "pageEnd": "368", "pageStart": "360", "name": "अविश्वसनीय : बंद आंखों से भी अखबार—किताब पढ़ लेती है ये लड़की", "author": "FirstIndia Correspondent" } ] }

अविश्वसनीय : बंद आंखों से भी अखबार—किताब पढ़ लेती है ये लड़की

Published Date 2018/01/06 06:10, Written by- FirstIndia Correspondent

आगरा। कहते हैं कि आंखें है तो जहान है, क्योंकि बिन आंखों के कुछ देख पाना संभव भी नहीं है। लेकिन अगर आपसे ये कहा जाए कि कोई शख्स अपनी आंखें बंद करने के बाद भी उसके सामने रखी गई किसी किताब को पढ़ सकता है। तो जाहिर है कि इस पर यकीन करना नामुमकिन सा है या फिर किसी तरह की कोई शंका होना भी लाजमी है।

दरअसल, आंखें बंद हो या आंखों पर पट्टी बंधी हो ऐसे में कुछ भी देख पाना संभव नहीं है। लेकिन आगरा में एक छात्रा ऐसी भी है, जो आंखों पर पट्टी बंधी होने के बाद भी सब कुछ देख लेती है। इतना ही नहीं, बंद आंखों से किताब पढ़ना या कपड़ों का रंग बताना भी उसके लिए बाएं हाथ का खेल है।

अब तक आपने आंखों पर पट्टी बांधकर गाड़ी चलाने वाले जादूगर को देखे होंगे, लेकिन यहां हम जिस लड़की की बात कर रहे हैं, वह न तो जादूगर है और न ही किसी जादू की तकनीक को जानती है। जी हां, यह न्यू आगरा क्षेत्र में रहने वाली कक्षा 9 की छात्रा तनीषा है, जो आगरा के एक कान्वेंट स्कूल की छात्रा है। इस लड़की ने शौक ही शौक में ऐसे हुनर को जन्म दिया है, जिसे देखकर हर कोई दंग रह जाता है।

तनीषा ने बताया कि कड़ी मेहनत और कॉन्सनट्रेशन की मदद से वह अखबार, मैगजीन या फिर कुछ लिखा हुआ कोई कागज बंद आंखों और आंखों पर पट्टी बांधकर भी बड़ी आसानी से पढ़ सकती है। हालांकि उसने अपनी आंखों पर पट्टी बांधकर चलने में पूरी तरह से कामयाबी हासिल नहीं की है, लेकिन इसके लिए भी वह लगातार कोशिश कर रही है।

दरअसल, तनीषा के पिता एक कैंसर स्पेशलिस्ट है और उन्होंने बताया कि तनीषा के स्कूल में कोई कोर्स था, जिसे तनीषा ने किया था। उसके बाद उसका यह हुनर देखकर उन्हें भी अचंभा होता है कि आखिर उनकी बेटी ऐसा कैसे कर लेती है। निश्चित ही यह शोध का विषय है।

तनीषा के इस हुनर को जो भी लोग देखते हैं, अचंभे में पड़ जाते हैं कि आखिर कैसे संभव है कि कोई इंसान आंखों पर पट्टी बांधकर इतना सब कुछ पढ़ सकता है। तनीषा सिर्फ अखबार या मैगजीन ही नहीं पढ़ सकती, बल्कि कपड़ों के कलर बताने में भी माहिर है। अपने इस हुनर करो लेकर ही वह अपनी कॉलोनी के लोगों में भी काफी फेमस हो चुकी हैं।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------