राजस्थान उपचुनाव में हार पर भाजपा विधायक ज्ञानदेव आहूजा का आॅडियो वायरल, सियासत में आया उबाल

Published Date 2018/02/11 11:00,Updated 2018/02/11 11:19, Written by- Pawan Tailor

जयपुर। राजस्थान में अजमेर व अलवर लोकसभा और मांडलगढ़ विधानसभा सीट पर बीती 29 जनवरी को हुए उपचुनाव के नतीजों में भाजपा को मिला करारी हार के बाद पार्टी में भीतरखाने नेतृत्व परिवर्तन की बातें उठने लगी है। हालांकि हाल ही में विधानसभा के दौरा भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी ने इस प्रकार की बातों को सिरे से खारिज कर दिया था, लेकिन अब एक भाजपा विधायक का कथित आॅडियो टेप सोशल मीडिया में वायरल होने से प्रदेश की राजनीति में एक बार फिर से सियासी उबाल आ गया है। वायरल हो रहे इस आॅडियो में भाजपा विधायक उपचुनाव में हुई हार को सरकार की हार बता रहे हैं और आने वाले समय में पार्टी में बहुत कुछ परिवर्तन होने की बात कहते सुनाई दे रहे हैं। वायरल हुए इस आॅडियो टेप की First India News पुष्ठि नहीं करता है।

राजस्थान उपचुनाव में भाजपा की करारी हार के बाद भाजपा के ही एक विधायक का कथित आॅडियो टेप वायरल होने से प्रदेश की राजनीति में सियासी उबाल आ गया है। सोशल मीडिया में एक आॅडियो वायरल हो रहा है, जिसमें अलवर के रामगढ़ से भाजपा विधायक ज्ञानदेव आहूजा एक कार्यकर्ता से बात करते सुनाई दे रहे हैं। इस टेप में भाजपा के एक विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ मुखरित होते सुनाई दे रहे हैं, वहीं उपचुनाव में हुई भाजपा की हार को प्रत्याशी की बजाय सरकार की हार होना बता रहे हैं। इसके साथ ही विधायक आने वाले समय में बहुत कुछ परिवर्तन होने की बात भी कहते सुनाई दे रहे हैं। 

आॅडियो की शुरूआत में आहूजा बड़े शायराना अंदाज में गा रहे हैं, 'जैसा किया है तूने, वैसा ही तूं भरेगा। तेरी बदी का बदला तुझको यहीं मिलेगा। खुश हो रहा था कितना तूं रुलाके, जब खुद पे बात आई फिर क्यूं खयाल आया।' इस आॅडियो में विधायक ज्ञानदेव आहूजा किसी ओमप्रकाश नाम के शख्स के बात कर रहे हैं, जिसके अंश इस प्रकार हैं...

ज्ञानदेव आहूजा : हां माय डियर
ओमप्रकाश : हैलो
ज्ञानदेव : हां
ओमप्रकाश : अजी क्या कर रहे हो
ज्ञानदेव : क्या हुआ
ओमप्रकाश : हुयौ काईं, लूट गया... दुनिया मार रही है भयंकर तरीके से... होइगो कांईं यामे
ज्ञानदेव : श हो रहा था कितना तूं रुलाके, जब खुद पे बात आई फिर क्यूं खयाल आया। जैसा किया है तूने, वैसा ही तूं भरेगा। हा अब बता।'
ज्ञानदेव : अब तो मन भर गया तेरा
ओमप्रकाश : नही भरा ना... चक्कर क्या है सुनो।
ज्ञानदेव : 'मैं तो 40 हजार से हारा हूं, फिर भी मस्त हूं और अलमस्त हूं, मौला हूं, हरफनमौला हूं। और बता।'
ओमप्रकाश : इतनी तगड़ी मार सभी जगह पर पड़ी ​है, चक्कर क्या रहा।?
ज्ञानदेव : वसुंधरा बदनाम, जसवंत बदनाम, सरकार बदनाम। ये तो सरकार हारी है। ये तुम थोड़ ही हारे हो, मैं थोड़े ही हारा हूं। ये तो 17 विधानसभा सीटों पर चुनाव हुए हैं, आठ अलवर के, आठ अजमेर के, एक मांडलगढ़। 17 विधानसभा में हारे हैं। और तू ओमप्रकाश भजिट चौधरी नहीं हारा है, ज्ञानदेव आहूजा चुनाव नही हारा हूं। ये सरकार चुनाव हारी है।
ओमप्रकाश : बात आपकी ठीक है, रोष पब्लिक ने मैडम पर निकाला है। बात आपकी एकदम लाख टका सही है, लेकिन विपक्षी हमको गांव में घुसने ही नही दे रहे हैं अब।
ज्ञानदेव : अरे विपक्ष क्या करेगा और पक्ष क्या करेगा... यही होना था।
ओमप्रकाश : तो फिर पहले क्यों नही बजाया आपने डंका,  यही होना था तो पहले ही बजा देते उल्टा सीधा डंका... जो होता जो देखा जाता।
ज्ञानदेव : बजा दिया 25 तारीख को, मेरे यहां सभा थी, तब मैंने पहले रामलालजी संगठन मंत्री दिल्ली भाई साहब और अमित शाह को पत्र लिख दिया था। तीनों सीट बुरी तरह से हारेंगे। अगर नेतृत्व परिवर्तन नहीं किया गया... माननीय परनामी जी और माननीय मुख्यमंत्री जी का तो अभी तीन उपचुनाव हारे है। आगे राजस्थान में बीजेपी की बुरी हालत होने वाली है। यह मैने पत्र में लिख दिया।
ओमप्रकाश : अब तीन दिन के भीतर..भीतर इसको मैडम को बदलवाओ। अगर राजस्थान में कुछ करना है तो एक साल के लिए कोई दूसरा मुख्यमंत्री लेकर आओ।
ज्ञानदेव : वो ही तो...वो ही तो...मेरे बच्चे।
ओमप्रकाश : नही तो फिर मरेंगे हम, फिर कहीं के नहीं रहेंगे।
ज्ञानदेव : 3 दिन.. एक महीना और 15 दिन देखो आप देखो।
ओमप्रकाश : नही एक महीना में लेट हो जाएंगे। डिसीजन तुरंत, उसमे क्या है पब्लिक खुश हो जाएगी।
ज्ञानदेव : आहाहाहाहाहाहाहाहा पब्लिक।
ओमप्रकाश : पब्लिक को अपन को खुश करना है, बताओ मतलब इतनी उम्मीद नहीं थी। देखो शहर में 27 हजार 28 हजार।
ज्ञानदेव : एक बात बताना, शहर में 62 हजार से जीता था, अब 26 हजार से हारा है। 26 और 62 हजार कितने हो गए। यहां एक मुल्ला वोट नहीं हैं। मेरे यहां तो 65 हजार मुल्ला वोट हैं। (गाली)।
ओमप्रकाश : आपके 41 से हुई है, ग्रामीण में 26-27 से हार हुई है। कल कोई तगड़ी सी प्रेस कॉन्फ्रेंस करो
ज्ञानदेव : करते हैं, करते हैं।

बहरहाल, राजस्थान में इसी साल के आखिर में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए राजस्थान विधानसभा में चल रहे बजट सत्र में सोमवार को जब मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे प्रदेश का बजट पेश कर रही होंगी, तब विपक्ष की ओर से इस आॅडियो टेप को लेकर हंगामा किए जाने के आसार दिखाई दे रहे हैं। वहीं विधानसभा चुनावों में भी इसका खासा असर पड़ सकता है। इसके साथ ही विधानसभा चुनावों में हार से बचने के लिए भाजपा में नेतृत्व परिवर्तन की बातें भी कहीं न कहीं, किसी न किसी प्रकार से सुनाई देने लगी है। अब ये बात अलग है कि ये बातें भले ही दबी आवाज में ही की जा रही हो।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Sambandhit khabre

Stories You May be Interested in


loading...

Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------