चुनाव पर भी महंगाई की मार, 200 करोड़ के पार पहुंचेगा इस बार

Dr. Rituraj Sharma Published Date 2018/10/12 09:14

जयपुर (ऋतुराज शर्मा)। महंगाई का असर राज्य के विधानसभा चुनाव पर भी पड़ रहा है। आलम यह है कि पिछले विधानसभा चुनाव से इस चुनाव का आकलित बजट 39 फीसदी से ज्यादा बढ़ा है। अब यह संभावना जताई जा रही है कि निर्वाचन विभाग के नवाचारों की वजह से यह बजट और भी बढ़ने की संभावना है।

हर बार विधानसभा चुनाव का खर्चा लगातर बढ़ता ही जा रहा है। इसके मद्देनजर इस बार भी निर्वाचन विभाग ने 200 करोड के बजट का आकलन रखा है। पिछली बार यह आंकड़ा 143 करोड़ था और अब अनुमानित आकलन के अनुसार यह बजट 39 फीसदी से ज्यादा बढ़ा है। पिछले लोकसभा चुनाव से यह बजट 33 फीसदी ज्यादा है।

किस-किसमें खपेगा बजट :
— ईवीएम की कंट्रोल यूनिट : 64000
— ईवीएम की बैलट यूनिट : 76700
— वीवीपेट : 66466
— ईवीएम अलकालाइन बैट्री : 67000
— पेपर रोल : 80000
— पावर पैक ऑफ ई‌वीएम बैट्री : 80000
— न मिटने वाली स्याही : 10 सीसी की 1,27,440 शीशी
— एरो क्रॉस मार्क रबर स्टांप : 60000
— ग्रीन पेपर सील : 260000
— पिंक पेपर सील : कंट्रोल यूनिट के लिए :190000, बैलट यूनिट के लिए : 2.30 लाख
— आउटर पेपर स्ट्रीप सील : 2 लाख
— डमी आउटर पेपर स्ट्रीप सील : 60 हजार
— कॉमन एड्रेस टेग फॉर कंट्रोल यूनिट, बैलट यूनिट एंड वीवीपेट : 22,62,000
— स्टेट्यूटरी फॉर्म्स : 25 प्रकार के
— नॉन स्टेट्यूटरी फॉर्म्स : 43 प्रकार के
— कार्ड्स एंड बैच : 19 तरह के 

पुलिस व अर्द्ध सैन्य बल मिलाकर 1 लाख 60 हजार की तैनाती होगी, जिसका खर्चा भी वहन किया जाएगा। इस बार नए अपनाए जा रहे सिस्टम के तहत सुरक्षाकर्मियों, पुलिस बलों, होमगार्ड्स और अर्द्ध सैन्य बलों के खाते में राशि पहुंचाई जाएगी। इसके अलावा इन कर्मियों का लंबा चौड़ा लवाजमा तैनात किया जाना है, जिसमें भी लाखों से करोड़ की राशि व्यय होगी...

— पीआरओ : 65000
— पीओ : 195000
— सेक्टर अधिकारी व माइक्रो ऑब्जर्वर : 6-6 हजार
— ईवीएम टेक्नीशियन : 466
— मीडिया सेल : 1600
— एमसीसी टीम्स : 200
अन्य : 53500

— असिस्टेंट एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर्स : 214
— FST ‌‌व SST : 4298 व 4298
— VST : 642,VVT : 800
अकाउटिंग टीम : 800

इन वाहनों की रहेगी जरूरत :
— बस व मिनी बस : 12500
— कार : 4800, जीप : 13000
— ट्रक : 2500, अन्य वाहन : 3500

इन अधिकारियों की ट्रेनिंग पर भी लाखों से करोड़ों हो रहे खर्च :
SLMT सामान्य-40
SLMT पुलिस-10
संभागीय मास्टर ट्रेनर सामान्य-54
जिलास्तरीय मास्टर ट्रेनर पुलिस-125
जिलास्तरीय मास्टर ट्रेनर ईवीएम,वीवीपेट-सौ
विधानसभा स्तरीय मास्टर ट्रेनर-1436
236 आरओ व 238 एआरओ की भी हुई ट्रेनिंग

जिलास्तरीय नोडल अधिकारियों में एमसीएमसी व पेड न्यूज के लिए : 32
एमसीसी व एक्सपेंडिचर मॉनिटरिंग : 33
लॉ एंड ऑर्डर वल्नरेबल मेपिंग : 26
पोल डे अरेंजमेंट : 39
राज्य व जिलास्तरीय एमसीएमसी : 145
विधानसभा स्तरीय मास्टर ट्रेनर को ट्रेनिंग : 1436
जिलास्तर पर ट्रेनिंग : 2000
पीआरओ व पीओएस को दो बार ट्रेनिंग : 2,70,000

अनुमानित आकलन अनुसार, पिछले विधानसभा चुनाव में 143.92 करोड़, लोकसभा चुनाव 2014 में 150.54 करोड़ खर्चा हुआ तो इस बार यह दो सौ करोड़ से ऊपर जाने की संभावना है। गौरतलब है कि पिछले विधानसभा चुनाव के मुकाबले इस बार बढ़ी महंगाई के हिसाब से प्रत्याशियों के चुनाव खर्च की सीमा भी 16 लाख से बढ़ाकर 28 लाख की गई है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

पूर्व राष्ट्रपति मिसाइल मैन एपीजे अब्दुल कलाम का आज ही के दिन हुआ था जन्म

ये सेल्फी बड़ी खतरनाक है !
एमजे अकबर ने अपनाया कानूनी रास्ता
देश विदेश की बड़ी खबरें फटाफट अंदाज़ में
Big Fight Live | जिन पर तकरार, वो ही बरकरार ! | 15 OCT, 2018
सांगानेर एयरपोर्ट पर कस्टम्स की कार्रवाई , 2 किलो सोना पकड़ा
जयपुर में पीसीसी में मीडिया कमेटी की बैठक में पहुंचे कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा से खास बातचीत
राजस्थान के गढ़ में राहुल : महाजनसभा में राहुल गांधी का संबोधन