आनंदपाल के शव के दाह संस्कार पर अभी भी असमंजस, छावनी बना सांवराद गांव

Published Date 2017/07/02 14:03, Written by- FirstIndia Correspondent

डीडवाना। आनन्दपाल सिंह का एनकाउंटर हुए आज 8 दिन पूरे हो चुके हैं, मगर अब तक शव का दाह संस्कार नहीं हो पाया है। अभी तक परिजन अपनी मांगों को लेकर कायम है, वहीं पुलिस अब भी सख्त रवैया अपनाए हुए हैं। सरकार और पुलिस ने अब तक परिजनों की मांग को नहीं माना है, जिससे शव के दाह संस्कार को लेकर अब तक असमंजस की स्थिति बनी हुई है। पहले माना जा रहा था कि रविवार को आनंदपाल के शव का दाह संस्कार हो जाएगा। हालांकि पुलिस और प्रशासन के अधिकारी लगातार परिजनों से बातचीत करते हुए समझाइश में लगे हैं, लंकिन परिजनों और पुलिस प्रशासन के बीच मांगों को लेकर कोई सहमति नहीं बन पाने से दाह संस्कार पर संशय बना हुआ है।


इधर, रविवार को भी सांवराद में भारी पुलिस जाब्ता तैनात रहा। इसके तहत समूचे गांव में भारी तादाद में पुलिसकर्मी मुस्तेद हैं, जिनमें पुलिस के जवान, कमांडो, एसटीएफ, क्यूआरटी, आरएसी शामिल है। इसके अलावा सैंकड़ों पुलिसकर्मियों को अलग—अलग थानों में रिजर्व रखा गया है। मामले को लेकर पुलिस इस कदर सख्त है कि गांव में किसी भी बाहरी व्यक्ति को प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है। गांव में प्रवेश के सभी रास्तों पर अस्थाई पुलिस चौकियां स्थापित कर हर आने जाने वाले की जांच की जा रही है। यहां तक कि आनंदपाल के शव को सुरक्षित रखने के लिए बर्फ भी नहीं लाने दिया जा रहा है और पानी लाने पर भी पाबन्दी लगा दी गई है।


इस संबंध में आनन्दपाल की बेटी छोटी योगिता और भाभी वकील के साथ अधिकारियों से मिले और अपनी मांगें दोहराई, लेकिन सहमति नहीं बन पाई। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी भी सांवराद में डेरा डाले हुए हैं। रविवार को भी सांवराद में जिला पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ज्ञानचंद यादव, अतिरिक्त जिला कलक्टर छगनलाल गोयल सहित डीडवाना, कुचामन, नावां, परबतसर के उपखंड अधिकारी ओर तहसीलदार भी मौजूद थे।

 

Nagaur Didwana Rajasthan Anand Pal Singh Police Encounter Rajasthan News

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------