दिल्ली रैली में भीड़ जुटाने के टास्क कंट्रोल रुम के जरिये को पूरा करेगी कांग्रेस

Dinesh Kumar Dangi Published Date 2018/04/17 06:27

जयपुर। राहुल गांधी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस पहली बार दिल्ली में बड़ी जनसभा और रैली आयोजित करने जा रही है। लिहाजा, राजस्थान को चुनावी साल और दिल्ली से सटा राज्य होने के चलते भीड़ जुटाने का टारगेट ज्यादा दिया गया है। बताया जा रहा है कि करीब 50 हजार से अधिक भीड़ राजस्थान से दिल्ली ले जाने का टास्क प्रदेश नेतृत्व को दिया गया है।

ऐसे में कांग्रेस के सामने दिक्कत यह होगी कि 29 अप्रैेल से पहले और अगले दिन पीपल पूर्णिमा होने के चलते शादियों की धूम रहेगी। लिहाजा, सावों के चलते भीड़ ले जाना अपने आप में एक चुनौती होगा। ऐसे में कांग्रेस ने कंट्रोल रुम के जरिये भीड़ जुटाने के टास्क को पूरा करेगी।

वहीं कोई नेता किसी तरह की होशियारी नहीं करे, इसके लिए बाकायदा टोल नाकों पर चैक पोस्ट लगाए जाएंगे। वहां गाड़ियों और उनमें बैठे लोगों का रिकॉर्ड लिखित में रजिस्ट्रर में दर्ज किया जाएगा। क्रंटोल रुम कल से शुरु हो जाएगा और इसके लिए वहां 16 नेता मुस्तैद रहेंगे।

कंट्रोल रुम के इंचार्ज मुमताज मसीह ने बताया कि कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता अपने अपने साधनों के साथ ट्रेन के जरिये दिल्ली पहुंचेंगे। इसके लिए सीकर, चूरु झुंझुूनूं, अलवर, जयपुर और भरतपुर से ज्यादा भीड़ ले जाने की रणनीति बनाई है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

कश्मीर घाटी में दहशतगर्दों की कायरना हरकत

भारत और अमेरिका मिलकर युद्धाभ्यास कर रहे हैं, ताकि आतंकिस्तान को नस्तनाबुत किया जा सके
क्या है दूदू विधानसभा के मतदाताओं का मूड ? | चुनावी यात्रा
दोगले पाक का क्या है इलाज, मुलाकात बात या लात | जवाब तो देना पड़ेगा
दोगले पाक का क्या है इलाज, मुलाकात बात या लात | जवाब तो देना पड़ेगा
किशनगढ़ में टोल बूथ के अंदर जा घुसा बीयर से भरा ट्रक
Election Express | 21 September 2018
@7PM Full Bulletin | 21 September 2018