किसानों ने की मुआवजे की मांग

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/07/02 11:23

अलवर। भारतीय किसान संघ सदस्यों के द्वारा उपखंड़ अधिकारी विकास राजपुरोहित को ज्ञापन देकर उद्योगों के खिलाफ कार्रवाई करने एवं किसानों की खराब हुई कपास की फसलों का मुआवजा सरकार या उद्योगों के दिलाने की मांग की गई। लेकिन कभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। हजारों हैक्टयर भूमी में दर्जनों गांवों के किसानों की खरब हुई फसल से किसानों को लाखों रुपए का नुकसान हो रहा है। लेकिन अन्नदाता की सुन्ने वाला कोई नहीं है।

वहीं खेतों में खरपतवार को खत्म करने के लिए दवा बनाने वाली कंपनी सोतानाला उद्योगिक क्षेत्र स्थित जय अंबे लेबोरेट्री के जनरल मैनेजर गुलाम रब्बानी ने सफाई देते हुए कहा कि उनके उद्योग में ऑटोमेअिक उपकरण लगे हुए हैं। तेज हवा के चलने एवं पाउडर उड़ने की संभाना से स्वतं ही स्थिति की नियंत्रण में कर लेते हैं। उनके  द्वारा किसी भी प्रकार का प्रदूषण एवं लापरवाही बरती नहीं जा रही। लेकिन किसान जय अंबे लेबोरेट्री सोतानाला, एग्रो अलाइड केशवाना पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

पाकिस्तान से कोई बातचीत नहीं!

#SpecialReport : कश्मीर में कायरों की क्रूरता
#RafaleDeal : राहुल गांधी के बयान पर गुजरात सीएम ने दिया जबाव
प्रधानमंत्री ने बंद दरवाजे के पीछे निजी तौर पर राफेल डील पर बात की - राहुल गांधी
राफेल पर फ्रांस के राष्ट्रपति के खुलासे से खलबली
तीन राज्यों के दौरे पीएम नरेन्द्र मोदी
भरभराकर गिरा निर्माणाधीन मकान, दो मजदूर मलबे में दबे
राज्य के मुख्य सचिव, डीजीपी को NHRC का नोटिस