GST के चलते बिगड़ा बजट तो बारिश ले डूबी सब्जियां

Published Date 2017/07/09 17:57, Written by- Dinesh Kumar Dangi

जयपुर | एक और GST के चलते कईं चीजों के दाम बढ़ने से लोगों के घर का बजट बिगड़ गया है| वहीं सब्जियों के दाम बढने से जेब पर भार और बढ गया| कईं सब्जियों के दाम तो चार गुना बढ गए हैं| टमाटर और टिंडा के दाम तो 80 रुपए किलो तक पहुंच गए हैं| दरअसल बारिश नहीं होने से सब्जियों की पैदावार खराब हुई, जिसके चलते मंडियों में आवक कमजोर हो गई है| बारिश नहीं होने से सब्जियों के दाम आसमान पहुंच गए हैं|

 


बारिश नहीं होने से खेतों में तैयार सब्जियों की पैदावार खराब हो गई, जिसके चलते सब्जियों के दामों में बेतहाशा बढोतरी हो गई है| आलम यह है कि कुछ दिनों पहले जो सब्जियां 20 से 40 रुपए प्रति किलो बिक रही थी वो अब 60 से 80 रुपए किलो बिक रही है|

 


आइए ग्राफिक्स के जरिए सब्जियों के मौजूदा कीमतों से आपको रुबरु कराते हैं:
सब्जी                   पहले                        अब
टमाटर                   80                      40 से 50
टिंडा                      80                          40
तुरई                  70 से 80                 30 से 40
हरी मिर्च            60 से 80                      30
लौकी                    40                           20
भिंडी                 50 से 60                  30 से 40
ग्वारफली                60                         40

 


सब्जी में लाल टमाटर के बिना तड़का लगना संभव नहीं है| लिहाजा टमाटर की डिमांड ज्यादा होने से उसके दामों में बेतहाशा बढोतरी हुई है| लोकल टमाटर की पैदावार खराब हो चुकी है| ऐसे में सब्जी मंडियों में कर्नाटक और महाराष्ट्र से टमाटर की आवक हो रही है| गलियों में और ठेलों पर इन्हीं सब्जियों के दाम 10 से 20 रुपए और बढ जाते हैं| सब्जियों के भाव सुनते ही ग्राहकों के होश उड़ जाते है, लेकिन जीना है तो खाना है| लिहाजा पहले किलो दो किलो खरीद रहे थे अब पाव आधा किलो से काम चला रहे हैं लेकिन महंगी सब्जियां खरीदने के अलावा कोई ऑप्शन भी ग्राहकों के पास नहीं है|

 

 

हालांकि हर बार बारिश देरी से होने के चलते सब्जियां इस सीजन में महंगी हो जाती है, लेकिन इस बार बारिश में ज्यादा देरी होने के चलते सब्जियों की पैदावार ज्यादा प्रभावित हुई है| हालांकि आलू, प्याज औऱ लहसुन के भाव उल्टे हैं| ये तीनों सब्जियों के मुकालबे बेहद सस्ते हैं| सब्जी विक्रेताओं की माने तो अब बारिश होने के बाद ही नई पैदावार मंडी में आएगी| अगर बारिश ज्यादा हुई तो उससे भी पैदावार प्रभावित होगी| ऐसे में 15 अगस्त तक ही सब्जियों के सस्ती होने के उम्मीद है|

 

 

Jaipur, Rajasthan, GST, Monsoon, Vegetables, Monthly budget, Karnataka, Maharashtra, GST impact

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------