क्रूड ऑयल की खरीद के लिए एक होंगे भारत-चीन

Published Date 2018/04/13 06:26, Written by- FirstIndia Correspondent

नई दिल्ली। दुनिया भर में क्रूड ऑयल एक ऐसी कमोडिटी है, जिससे कई देशों की अर्थव्यवस्था चलती है। फिलहाल हम बात कर रहें है अघोषित दुश्मन भारत और चीन की जो कि लगातार टकराव के कारण अकसर चर्चा में रहते है। लेकिन भारत-चीन बहुत जल्द तेल के मसले में एक-दूसरे से हाथ मिलाएंगे। दोनों देशों की मिलाकर दुनिया की तेल खपत में लगभग 17 फीसदी हिस्सेदारी है। इसलिए अब इस संभावना पर विचार होने लगा है कि क्यों न दोनो देश मिलकर पश्चिम एशिया के तेल उत्पादक देशों से कच्चा तेल खरीदने के मामले  में बेहतर तरीके से वास्तविक मूल्य पर खरीदें।

आपकों बता दें केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री ने कहा है कि 'उपभोक्ता होने के नाते हमारे कुछ साझा हित हैं। अपनी सार्थक बातचीत में हम कारोबार से कारोबार तक (B2B) साझेदारी बनाने पर सहमत हुए और हमें उम्मीद है कि निकट भविष्य में खरीदार भी कीमतें तय करेंगे।' इस राय का चीन के राष्ट्रीय ऊर्जा प्रशासन (NEA) के उप प्रशासक ली फैनरोंग ने भी समर्थन किया है। इस बारे में आगे कैसे काम हो, इसके लिए भारत और चीन की सार्वजनिक कंपनियों के अधिकारी जल्द बातचीत करेंगे।  

खबर के अनुसार, केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद प्रधान और चाइना नेशनल पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (CNPC) के चेयरमैन वांग यिलिन तथा अन्य चीनी अधिकारियों से बातचीत में यह निर्णय किया गया है कि 16वें इंटरनेशनल एनर्जी फोरम के मंत्रिस्तरीय राउंड के अवसर पर सभी लोग जुटे थे और उसी दौरान इस मामले पर बातचीत हुई थी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

21220