ISRO की अंतरिक्ष में तीसरी ऊंची छलांग, संचार उपग्रह GSAT-17 का सफल प्रक्षेपण

Published Date 2017/06/29 10:28, Written by- FirstIndia Correspondent

बेंगलुरु | गुरुवार तड़के फ्रेंच गुयाना के कोरू से एरियनस्पेस रॉकेट के जरिये भारत के आधुनिक संचार उपग्रह जीसैट-17 का प्रक्षेपण किया गया| इससे पहले ISRO ने इसकी घोषणा करते हुए कहा था, ''एरियन-पांच प्रक्षेपण यान के जरिए 29 जून को भारतीय समयानुसार तड़के दो बजकर 29 मिनट पर जीसैट-17 का प्रक्षेपण किया जाएगा|'' जीसैट-17 का भार करीब 3,477 किलोग्राम है| यह उपग्रह सामान्य सी बैड, विस्तारित सी बैंड और एस बैंड में विभिन्न संचार सेवाएं उपलब्ध कराएगा|

 


लॉन्चिंग के बाद एरियनस्पेस के सीईओ स्टीफन इजराइल ने ट्वीट कर बधाई दी। इसके बाद विक्रम साराभाई स्पेस सेंटर के डायरेक्टर डॉ. के श्रवण ने उन्हें धन्यवाद दिया। जीसैट-17 का वजव करीब 3,477 किलोग्राम है। यह नॉर्मल सी बैंड, एक्टेंडेड सी बैंड और एस बैंड में कई तरह की कम्युनिकेशन सर्विस के लिए काम करेगा। इसरो ने कहा- ''जीसैट-17 के अपने साथ मौसम की जानकारी और सैटेलाइट बेस्ड रेस्क्यू से जुड़ी जानकारियां देने वाले इक्विपमेंट्स भी लेकर गया है। पहले इनसैट सैटेलाइट ये सर्विस देते थे। 'इसरो ज्यादा वजन वाले सैटेलाइट की लॉन्चिंग Ariane-5 रॉकेट से करता है, लेकिन अब हम इस काम के लिए GSLV Mk III पर काम कर रहे हैं। जीसैट-17 से पहले स्पेस एजेंसी 17 टेलिकम्युनिकेशन सैटेलाइट स्पेस में भेज चुकी है।''

 

GSAT-17 successfully launched by Ariane-5 VA-238 from Kourou, French Guianahttps://t.co/yOrCnpjgON pic.twitter.com/uloiIWJjwj

— ISRO (@isro) June 29, 2017

 

ISRO, Communication satellite, GSAT 17, GSAT 17 launched, French Guiana, ISROs third communication satellite

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------