कर्नाटक में बदले सियासी समीकरण, अब 'किंगमेकर' बनेगी जेडीएस, जोड़—तोड़ की गणित जारी

Published Date 2018/05/15 03:22,Updated 2018/05/15 03:38, Written by- FirstIndia Correspondent

बेंगलुरु। कर्नाटक की 224 विधानसभा सीटों में से 222 सीटों के लिए 12 मई को हुए मतदान के बाद आज मतगणना की जा रही है। सुबह 8 बजे से शुरू ​हुई मतगणना के शुरूआती रूझानों में कांग्रेस ने बढ़त बनाई, लेकिन बाद में आंकड़े बदलते चले गए और भाजपा लगातार बढ़त बनाती चली जा रही है। जब भाजपा बहुमत के करीब पहुंचती जा रही है, वहीं तीसरे मोर्चे के रूप में मौजूद जेडीएस सरकार बनाने महत्वपूर्ण भूमिका निभाती दिख रही है। इसी बीच कांग्रेस ने राज्य में सरकार बनाने के लिए जेडीएस का समर्थन कर दिया है, जिससे एक बार फिर से सियासी समीकरण बदल गए हैं।

कर्नाटक विधानसभा में अगर कांग्रेस की जीत होती है तो संभावना यहीं जताई जा रही है कि सिद्धारमैया ही मुख्यमंत्री बने रह सकते हैं। वहीं अगर सत्ता BJP के पाले में जाती है तो बीएस येदियुरप्पा ही मुख्यमंत्री बनेंगे। चुनाव के नतीजों को लेकर कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियां अपनी-अपनी जीत की बात कह रही हैं, लेकिन यह तय माना जा रहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा का जनता दल (एस) राज्य में सरकार बनाने के लिए 'किंगमेकर' की भूमिका निभा सकता है।

ऐसे में खबर यह भी मिल रही है कि कांग्रेस ने जेडीएस को समर्थन देने का मन बना लिया है और कांग्रेस कर्नाटक में JDS को समर्थन देने के लिए तैयार हो गई है। कांग्रेस नेता वेणुगोपाल ने कहा है कि उनकी पार्टी तथा JDS मिलकर मंगलवार शाम को ही गवर्नर से मुलाकात करने जा रहे हैं। 

वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आज़ाद ने कहा है कि कांग्रेस की ओर से दिए गए आॅफर को JDS ने अपनी मंजूरी दे दी है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने JDS नेता एचडी देवेगौड़ा से बात की है, जिसमें उन्होंने JDS को समर्थन देने पर सहमति जताई थी और एचडी कुमारस्वामी को CM पद का ऑफर दिया था।

मौजूदा सियासी परिदृश्‍य को देखते हुए राजनीतिक विश्‍लेषकों का मानना है कि कांग्रेस और जेडीएस के पास एक-दूसरे से हाथ मिलाने के अलावा कोई विकल्‍प नहीं है। इसमें सबसे ज्‍यादा फायदा जेडीएस का ही है, क्योंकि जेडीएस यदि बीजेपी के साथ गठबंधन करती है तो वहां उसको मुख्‍यमंत्री की सीट से वंचित होना पड़ सकता है। जबकि कांग्रेस के साथ जाने की स्थिति में जेडीएस के पास सियासी सौदेबाजी में ज्‍यादा फायदा हो सकता है। इस कड़ी में फिलहाल बेंगलुरू में कांग्रेस के दिग्‍गज नेताओं की बैठक हो रही है और जेडीएस नेता और एचडी देवगौड़ा के पुत्र कुमारस्‍वामी को मुख्‍यमंत्री की कुर्सी के लिए समर्थन देने की बात कांग्रेस सूत्रों की तरफ से की जा रही है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

21972