राज्यसभा टिकट नहीं मिलने पर नरेश अग्रवाल ने तोड़ा सपा से नाता, भाजपा का थामा दामन

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/03/12 06:33

लखनऊ। राज्यसभा के लिए अपनी पार्टी से टिकट नहीं मिलने को लेकर नाराज समाजवादी पार्टी (सपा) के कद्दावर नेता नरेश अग्रवाल ने अब पार्टी से नाता तोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया है। अग्रवाल ने आज बीजेपी मुख्यालय में औपचारिक रूप से भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी ने नरेश अग्रवाल का पत्ता काटकर जया बच्चन को राज्यसभा का उम्मीदवार बनाए जाने का फैसला किया था।

सपा के कद्दावर नेता नरेश अग्रवाल ने आज यहां भाजपा मुख्यालय में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। सियासी गलियारे में इस बात की चर्चा पिछले काफी समय से थी। दरअसल, कुछ दिन पहले सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी से सपा का राज्यसभा उम्मीदवार जया बच्चन को बनाने की घोषणा की थी, जिसके बाद से ही नरेश अग्रवाल ने पार्टी से नाराजगी जाहिर कर बीजेपी की ओर रुझान जताया था।

भाजपा की सदस्यता ग्रहण किए जाने के मौके पर अग्रवाल ने कहा कि जब तक राष्ट्रीय पार्टी में शामिल नहीं होंगे राष्ट्र की समस्या हल नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि मैं मुलायम और रामगोपाल के साथ कभी नही छोडूंगा, मैं उनके साथ हूं। फ़िल्म में डांस करने वाली के नाम पर मेरा टिकिट काटा गया। उन्होंने कहा कि मेरा बेटा विधायक है और राज्यसभा में बीजेपी के प्रत्याशी को वोट देगा, मोदी अमित शाह को धन्यवाद।

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी के छह राज्यसभा सांसद इस साल रिटायर हो रहे हैं, जिसमें किरणमय नंदा, दर्शन सिंह यादव, नरेश अग्रवाल, जया बच्चन, मुनव्वर सलीम और आलोक तिवारी के नाम हैं। विधानसभा की हालिया स्थिति में सपा के पास सिर्फ 47 वोट हैं, जिनमें से अखिलेश यादव सिर्फ एक नेता को ही संसद भेज सकते हैं। सपा ने इनमें से सिर्फ जया बच्चन को राज्यसभा में भेजने का फैसला किया। सपा अपने 9 अतिरिक्त वोट पार्टी गठबंधन के तहत बीएसपी उम्मीदवार को देगी।

बता दें कि जोड़-तोड़ की राजनीति में माहिर खिलाड़ी नरेश अग्रवाल की पैठ सूबे के सभी राजनीतिक दलों में है। यही वजह है कि अक्सर उनके बारे में पार्टी बदलने की खबर आती रहती है। अग्रवाल नें अपनी राजनीतिक पारी 1980 में कांग्रेस से शुरु की थी. इसके बाद दल बदलने का और जिसकी सत्ता हो उसके करीब रहने का इतिहास रहा है. कांग्रेस छोड़कर लोकतांत्रिक कांग्रेस बनाई और बीजेपी की कल्याण सिंह और राजनाथ सिंह की सरकार में मंत्री बने थे।

  
First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

जयपुर आएंगे BJP के चाणक्य, पंडित दीनदयाल उपाध्याय के राष्ट्रीय स्मारक का करेंगे अनावरण

वर्ल्ड स्मार्ट सिटी एक्सपो कल, वैभव गलियारा, JDA कमिश्नर से खास बातचीत
मुख्यमंत्री राजे की अभिनव पहल, पं. दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा योजना
जयुपर में आवारा पशुओं का आतंक, निगम के अधिकारी की मिलीभगत का ऑडियो वायरल
मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना, 55 नई मृदा प्रयोगशालाओं की हुई स्थापना
हज की आखिरी फ्लाइट आयी जयपुर, नन्हें हाजियों का हज कमेटी ने किया इस्तकबाल
जयपुर के धानक्या गांव में बना प. दीनदयाल उपाध्याय का स्मृति संस्थान
पिंकसिटी में पधारे उपराष्ट्रपति, कल वर्ल्ड स्मार्ट सिटी एक्सपो का होगा आगाज़