अब ड्रोन करेंगे मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान की निगरानी

Divya Gaur Published Date 2018/01/11 03:13

जयपुर। मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान की निगरानी अब ड्रोन कैमरे के जरिये रखी जाएगी। साथ ही इस अभियान से जुड़े लोगों को भी आधुनिक तकनीकों से लैस किया जायेगा। राजस्थान नदी बेसिन एवं जल संसाधन योजना प्राधिकरण के अध्यक्ष वेदिरे ने ये बात इस अभियान के तृतीय चरण के शुभारम्भ की तैयारियों की लेकर समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुए कही।

राजस्थान नदी बेसिन एवं जल संसाधन योजना प्राधिकरण के अध्यक्ष श्रीराम वेदिरे ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के आगामी चतुर्थ एवं 5वें चरण के कार्याें का सर्वे ड्रोन से किया जाएगा, जिससे समय एवं मानवश्रम की बचत होने के साथ ही गुणवत्ता भी रहेगी।

उन्होंने स्वायत्त शासन विभाग के अधिकारियों को शहरी क्षेत्र में जल-भराव ग्रसित (वाटर लॉक्ड) क्षेत्र को चिन्हित कर जनवरी के अन्त तक कार्याें के प्रस्ताव तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। बैठक में प्रमुख शासन सचिव स्वायत्त शासन मंजीत सिंह, प्रमुख शासन सचिव जल संसाधन शिखर अग्रवाल, सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Private video

Rajasthan Gaurav Yatra | झुंझुनू, बुहाना में CM Vasundhara Raje का संबोधन
रावणा राजपूत समाज के मान-सम्मान की करेंगे रक्षा : सचिन पायलट
मूलांकअनुसार क्या कहता है राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और संगठन महासचिव अशोक गहलोत का भविष्य
जीका वायरस की दस्तक पर चिकित्सा विभाग अलर्ट, जाने क्या है ज़ीका वायरस
खंडेला विधानसभा का क्या है सियासी मिजाज ? | चुनावी यात्रा
CM राजे की बानसूर सभा में हंगामा, सिक्योरिटी ने संभाले हालात