वीडियो : 'आनंदपाल की मौत से आज हमारे बेटे खुमाराम की आत्मा को शांति मिली है'

Published Date 2017/06/26 16:28, Written by- FirstIndia Correspondent

खींवसर (नागौर)। कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल की पुलिस एनकाउंटर में मौत के साथ ही उसके आतंक का खात्मा बताया जा रहा है, वहीं उसके गांव में लोग आक्रोशित है और इसे मामले में सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। दूसरी ओर, खींवसर पंचायत समिति के ग्राम पंचायत गुड़ा भगवानदास में आनंदपाल की मौत के बाद खुशी की लहर दिखाई दी। यहां उस घर में खासी खुशी दिखाई दे रही है, जिसमें कभी नागौर पुलिस कमांडो खुमाराम जाट रहा करता था।


दरअसल, साल 2016 में 21 मार्च को नागौर—फलौदी मार्ग पर नाकाबंदी तोड़कर भाग रहे राजू ठेहट गैंग के तथाकथित शॉर्प शूटरों की गुढ़ा भगवानदास के पास क्यूआरटी दल (क्विक रेस्पॉन्स टीम) से मुठभेड़ हुई थी। दोनों तरफ से फायरिंग की घटना में दो कमांडों हरेंद्र चौधरी और खुमाराम जाट घायल हुए थे। कमांडो खुमाराम की जोधपुर के एमडीएम अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। बताया जाता है कि इस मुठभेड़ मेंं आनंदपाल भी शामिल था।


गुढा भगवानदास में रहने वाले खुमाराम के पिता मोहनराम कस्वां ने आनंदपाल की मौत को लेकर कहा कि, हमारी जिंदगी में खुमाराम की कमी तो कभी भी पूरी नहीं हो सकती, लेकिन जब तक आनंदपाल जिंदा था, खुमाराम की आत्मा को शांति नहीं मिली। अब पुलिस ने आनंदपाल को मार गिराया है। इससे हमें तो खुशी है ही, साथ ही आतंक का पर्याय बन चुके एक गैंगस्टर का अंत होने से जिले में अपराध भी कम होंगे। इसके साथ ही खुमाराम की आत्मा को भी आज शांती मिलेग और खुमाराम की शहादत सचमुच सार्थक हुई है।


वहीं अपने बेटे की शहादत को याद कर खुमाराम की मां की आंखे भर आई और उन्होंने कहा कि मेरा बेटा पुलिस में भर्ती हुआ ही था कि आनंदपाल ने उसे हमारे ही गांव की सरहद में गोली मार दी। कहां हम होली के त्योहार की खुशियां मनाने की तैयारियां कर रहे थे और कहां उसने हमें उम्रभर का दर्द दे दिया। एेसे अपराधियों का समाज में कोई स्थान नहीं होना चाहिए। एसपी साहब ने आनंदपाल को पकड़ने का वादा किया था, जिसे उन्होंने आज पूरा किया है। ऐसे में हम एसपी साहब का धन्यवाद ज्ञापित करते हैं।

 

Khimsar Nagaur Anand Pal Singh Khuma Ram Jat Gudha Bhagwan Das Raju Thehat Rajasthan News

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------