उन्नाव-कठुआ गैंगरेप पर सियासत गर्म, राहुल बोले- ‘पीएम चुप क्यों हैं’, राजनाथ ने किया पलटवार- ‘दोषी कोई भी हो सजा मिलेगी

Published Date 2018/04/13 05:55,Updated 2018/04/13 06:10, Written by- FirstIndia Correspondent

नई दिल्ली। उन्नाव और कठुआ गैंगरेप को लेकर इस समय पूरे देस की सियासत गर्म है, एक तरफ राहूल गांधी कैंडल मार्च कर कर रहें है, तो वहीं दूसरी तरफ विपक्ष की सभी पार्टियां इन मामलों में ताबड़तोड़ बयानबाजी कर रही है। सत्ता पक्ष को पता है कि इन दोनों मामलों से उसे क्या नुकसान हो सकता है और कितना नुकसान हो सकता है, शायद यही कारण है कि वो इन दोनों मामलों पर किसी भी तरह का बयान दने से बच रही है। लेकिन कांग्रेस की कोशिश इस समय सराकार को इतने आसानी से जाने देने की नहीं है। 
 

इन दोनों मामलों पर विपक्ष सरकार को घेरना चाहती है और वो ये काम बखूबी कर भी रही है, इसी बात का प्रमाण है कि इन इस समय कांग्रेस ने विरोध-प्रदर्शन को खुद से जोड़ लिया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला करते हुए सवाल किया है कि "आखिर पीएम मोदी चुप क्यों हैं "। वहीं दूसरी तरफ केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी पार्टी का बचाव करना शुरू कर दिया है। राजनाथ सिंह ने कहा है कि आप चिंता मत कीजिए, इन मामलों में जो भी दोषी होगा उसे कड़ी सजा अवश्य मिलेगी।
 

वहीं दूसरी तरफ मामले के माडिया में आ जाने से इन दोनों केसों की जांच तेज हो गई है। बता दें कि सीबीआई टीम ने इस मामले में लापरवाह और दोषी पुलिस कर्मियों को हिरासत में लिया है। बताया जा रहा है कि इन सभी पुलिस कर्मियों को पूछताछ के लिए लखनऊ लाया जा रहा है। 
 

वैसे हम आपको बता दें कि ऐसा भी नहीं है कि बीजेपी पार्टी का हर आदमी इस समय आरोपियों को बचाना चाहत है, कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इस मामले में निषपक्ष जांच चाहते हैं। असम से भाजपा सांसद आरपी शर्मा तो इन हादसों इस कदर दूखी हैं कि उन्होंने दोषियों के लिए फांसी की सजा तक की मांग कर दी है। वहीं केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी भी रेप के मामले में किसी प्रकार समर्थन आरोपियों को नहीं देना चाहती और उन्होंने भी ये साफ कर दिया है कि नाबालिग से दुष्‍कर्म मामले में लोगों को सिर्फ फांसी की सजा होनी चाहिए।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

21219