गरीब छात्रो के केरोसिन पर घोटाला जारी, 10,000 लीटर केरोसिन का लगाया आशार्थियों ने आरोप

Published Date 2017/03/16 17:49, Written by- FirstIndia Correspondent

छीपाबडौद—बारां। क्षेत्र मे राशन डीलरो के घोटाले रूकने का नाम ही नही ले रहे है| वही दिन पर दिन इन घोटालों मे नया रंग चढ़ने लगा है| सरकारी पोर्टल भी अब इन घोटालो पर मात्र टालम टोल की ही धारा अपनाए हुए है| जानकारी मे सामने आया है कि गरीब ग्रामीण छात्र छात्राओं का करीबन दस हजार लीटर केरोसिन जो एक कथित फर्जी डीलर के यहाँ है वह अभी तक वर्षों बीत जाने के बाद भी वितरित नही कर रहा|

 जिसकी शिकायत अनेको बार उच्चतम अधिकारियों रसद विभाग और सभी पोर्टल पर की जा चुकी है| लेकिन मामले मे कोई प्रगति गरीब छात्र छात्राओं के हित मे नही हुई है, कस्बे मे शुक्रवार को चोथमाता मंन्दिर परिसर मे लगे भामाशाह समस्या समाधान शिविर पोर्टल पर शिकायत का सत्यापन हेतु पहुचे आशार्थी जहा भोजराज तिवारी ने बताया कि छात्रो के हक के लिए यह शिकायत की थी|

जिसके सत्यापन के लिए प्रशासन ने बुलाया लेकिन समय बीतने के बाद भी समाधान नही किया गया,बल्कि पन्द्रह किमी दूर देवरीजोध मे ईसका वितरण अटेचमेंट कर दिया| अब यहाँ का बालक जो ग्रामीण ईलाके से पढ़ने  के लिए कस्बे मे रहता है वह वहां कैसे जाएगा दिन पर दिन गबन बढ़ता ही जा रहा है| शिविरों मे बार बार सत्यापन के लिए बुलाते है, हम जांच से संन्तुष्ट नही है

गरीबो को केरोसिन मिलना चाहिए वही दूसरी ओर उपखंड अधिकारी हीरालाल वर्मा ने इस बारे मे बताया कि छात्रों के हितो को मद्देनजर रखते हुए प्रत्येक छात्र को 2.50 लीटर केरोसिन स्टाक से देने के निर्देश दिये है, ओर भी कोई अनियमितता होगी तो जांच करवाएगे| रसद विभा की ओर से उक्त शिकायत पर पोर्टल पर जवाब भी भेजा है, जिसमे संम्बंधित डीलर से जवाब तलब करने और गडबडी की बात सामने आई है

लेकिन गौरतलब हे कि इतनी सारी अनियमितता होने के बाद भी कोई ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है|  डीलरो से मिल कर विभागीय अधिकारी राहत क्यो देते है यह समझने का विषय है घोटाले मे कही वह भी तो शामिल नहीं ये जांच यहाँ भी होनी चाहिए|

 

RajasthanChhipabarodKeroseneAscam,Students,Rashan Deelers 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in


loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------