बाड़मेर से जसवंत सिंह की टिकट कटी, तब कहां थे राजेन्द्र राठौड़ : खाचरियावास

Dinesh Kumar Dangi Published Date 2018/01/15 06:08

जयपुर। राजस्थान में होने वाले उपचुनाव को लेकर भाजपा और कांग्रेस में बयानबाजी का दौर तेज होता जा रहा है। भंवर जितेन्द्र सिंह को कांग्रेस से अलवर से टिकट नहीं देने को लेकर पंचायतीराज मंत्री राजेन्द्र राठौड़ के बयान पर कांग्रेस ने पलटवार किया है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता प्रतापसिंह खाचरियावास ने बयान को लेकर राठौड़ को आड़े हाथों लिया है।

खाचरियावास ने कहा कि कद्दावर भाजपा और राजपूत नेता जसवंत सिंह आज कोमा में है। वाजपेयी के हनुमान कहे जाने वाले जसवंत सिंह का पार्टी ने बाड़मेर से टिकट काट दिया। इससे सदमे में आकर वो कोमा में चले गए। इसके लिए भाजपा जिम्मेदार है, लेकिन तब राठौड़ नहीं बोले।

खाचरियावास ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व उपराष्ट्रपति ने राजस्थान में भाजपा को खड़ा किया, लेकिन आज भाजपा नेता भैरोंसिंह का नाम लेने से भी कतराते हैं। आनंदपाल एनकाऊंटर के बाद सांवराद में राजपूतों पर गोलियां चलाई गई, तब राजेन्द्र राठौड़ क्यों चुप रहे। खाचरियावास ने कहा कि राजपूतों ने हमेशा भाजपा का साथ दिया, लेकिन संकट के समय भाजपा ने उन्हें छोड़ दिया। आज राजपूत समाज इस अन्याय से बहुत दुखी है।

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि, रापजूत समाज के साथ होने वाले अन्याय को लेकर ही आज उसने मांडलगढ़, अजमेर और अलवर में भाजपा को हराने का संकल्प लिया है। प्रतापसिंह ने कहा कि कांग्रेस राजपूत समाज की हर समस्या औऱ मांग को पूरा करने का काम करेगी। प्रताप सिंह ने कहा कि राजेन्द्र राठौड़ को यह बयान काफी महंगा पड़ेगा।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

पूजा पाठ के बाद \'चाणक्य\' ने दिए मंत्र, कार्यकर्ताओं को जीत का पाठ पढ़ा रहे हैं शाह

28 सितंबर को जोधपुर आएंगे पीएम मोदी, तीनों सेनाओं के प्रमुखों से करेंगे संयुक्त कॉन्फ्रेंस
जलते तिरंगे से क्या है \'भगवा\' कनेक्शन ? भरतपुर में क्या महंत ने किया गाय से दुष्कर्म ?
जयपुराइट्स को जल्द मिलेगी बॉटनिकल पार्क की सौगात, द्रव्यवती प्रोजेक्ट के उद्घाटन के साथ खुलेगा पार्क
राजस्थान के चुनावी रण में राहुल गांधी 20 सितंबर को फिर आ रहे दस्तक देने
ईवीएम और वीवीपीएटी मशीनों से ही होंगे प्रदेश में चुनाव
3 साल से रोजगार के इंतजार में आवेदक, अल्पसंख्यक मामलात विभाग में निकली थी भर्ती
बिजली कर्मचारियों का महापड़ाव बना \'शक्तिस्थल\'