VIDEO : नेशनल स्पोर्ट्स एकेडमी खिलाड़ियों के लिए बड़ी घोषणा, डाइट के खर्चे में हुई बढ़ोतरी

Published Date 2018/07/05 05:02, Written by- Naresh Sharma

जयपुर (नरेश शर्मा)। कहते हैं खिलाड़ी ही खिलाड़ी की पीड़ा जानता है और इसी कारण केंद्रीय खेल मंत्री और ओलिंपिक मेडलिस्‍ट राज्‍यवर्धन सिंह राठौड़ ने अहम फैसला करते हुए नेशनल स्पोर्ट्स एकेडमी के खिलाड़ियों के लिए बड़ी घोषणा की है। केंद्रीय मंत्री राठौड़ ने इन खिलाड़ियों के लिए डाइट का खर्चा बढ़ाकर 450 रुपए प्रतिदिन कर दिया हैं। खेल मंत्री ने भारतीय खेल प्राधिकरण यानी साई को लेकर भी अहम ऐलान किया है।

राठौड़ ने इसको लेकर माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट कर ट्वीट में कहा है कि खिलाड़ियों की डाइट पूर्ण होनी चाहिए। आज गवर्निंग बॉडी की मीटिंग में हमने सभी नेशनल स्पोर्ट्स एकेडमी के खिलाड़ियों के लिए डाइट का खर्चा 450 रुपए प्रतिदिन कर दिया है। एक एक्सपर्ट कमेटी बनी है, जो खिलाड़ियों के लिए सही डाइट और उसकी लागत बताएगी, ताकि हम सही राशि सैंक्शन कर सकें।

खेल मंत्री बनने के बाद कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ खेल व खिलाड़ी हित में नए नए फैसले ले रहे हैं। राठौड़ ने कुछ दिनों पहले ही ओलंपिक व एशियन गेम्स जैसे अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट की तैयारी करने वाले खिलाड़ियों के लिए 50 हजार रुपए की पॉकेट मनी की घोषणा की थी। अब उन्होंने साई सेंटर की स्थितियां सुधारने का संकल्प लिया है।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले पुरुष हॉकी टीम के कोच हरेंदर सिंह ने साइ के बेंगलुरु केंद्र में खिलाड़ियों को मिलने वाले भोजन और रिहायशी व्यवस्था की आलोचना की थी, लेकिन अब मंत्री राठौड़ ने कुछ अहम कदम उठाए हैं। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों की डाइट पूर्ण होनी चाहिए। इसलिए साई की गवर्निग बॉडी की मीटिंग में डाइट खर्चा बढ़ाने का फैसला किया है।

राठौड़ ने एक एक्सपर्ट कमेटी भी बनाई है, जो जो खिलाड़ियों के लिए सही डाइट और उसकी लागत बताएगी, ताकि उसके अनुसार ही सही राशि स्वीकृत की जा सके। बैठक में यह भी तय किया गया कि कोचों को निर्णय लेने की प्रक्रिया में शामिल किया जाएगा। साई से यह भी कहा गया कि साई की रिहायशी योजना के तहत रिहायशी और खान—पान सुविधाओं के प्रबंधन के लिए सेवा क्षेत्र की नामचीन कंपनियों को लाया जाए।

वहीं भारतीय खेलों को कंट्रोल करने वाली भारतीय खेल प्राधिकरण यानी साई संस्था का अब नाम बदलने जा रहा है। अब इसे स्पोर्ट्स इंडिया कहा जाएगा। यह घोषणा खेलमंत्री राज्यवर्धन ने साई की एक बैठक के दौरान की। राठौड़ ने कहा कि 34 साल पुरानी इस संस्था का नाम बदला जाएगा और इसमें से प्राधिकरण शब्द हटा दिया जाएगा। इसे अब स्पोर्ट्स इंडिया कहा जाएगा। 

बता दें कि साई की स्थापना 1984 में हुई थी। साई स्टेडियमों के निर्माण के लिए सार्वजनिक और निजी साझेदारियों के विकल्प पर भी विचार कर रहा है, जिसमें अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों से साझेदारी शामिल होगी। इसके लिए उस अतिरिक्त भूमि का इस्तेमाल किया जाएगा, जिसे खिलाड़ी फिलहाल इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं।

गौरतलब है कि जबसे केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ बने हैं, तबसे वह खेल और खिलाड़ियों की स्थिति को सुधारने के लिए नए-नए प्रयास कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि खेल मंत्री खुद एक एथलीट हैं। वह एक भारतीय निशानेबाज हैं, जिन्होंने 2004 ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक, एथेंस में डबल ट्रैप स्पर्धा में रजत पदक जीता था। मंत्रालय नौकरियों में खिलाड़ियों के लिए कोटा तय करवाने की भी कोशिश करेगा।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

25962