आज शनि देव मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना का आयोजन

Published Date 2017/05/27 15:38, Written by- FirstIndia Correspondent

शनिवार को शनिदेव की पूजा अर्चना करने से विशेष फल प्राप्त होता है। शनिदेव भक्तों के कष्ट दूर करते है और उन्हें सच्चाई और मेहनत के मार्ग पर चलने की प्रेरणा देते है। जिन लोगों की कुंडली में शनि ग्रह से संबंधित दोष है उनको शनिदेव की विशेष पूजा-अर्चना करनी चाहिए। शनि ग्रह से संबंधित चीजों का दान करना चाहिए और ईमानदारी से कर्म करने का प्रण लेना चाहिए। यदि कोई पूरी आस्था से ये सब करता है तो शनि से संबंधित सारे दोष शनिदेव हर लेते हैं और दौलत, शोहरत प्रदान करते हैं।

 


पति की लंबी आयु के लिए वट सावित्री व्रत
ज्येष्ठ मास की अमास्या को वट सावित्री व्रत का विधान धर्म ग्रंथों में बताया गया है। महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए  उनके जीवन से परेशानी दूर करने के लिए वट सावित्री व्रत पूरी आस्था से रखती है। शास्त्रों के अनुसार ये व्रत सौभाग्य को बढ़ावा देने वाला और पुण्य प्रदान करने वाला माना जाता है ये व्रत पति-पत्नी के बीच प्रेम भाव को और बढ़ाता है, घर में खुशहाली आती है। सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।

 

शनि को प्रसन्न करने के लिए सुबह जल में गंगाजल मिलाकर स्नान करें। सूर्य देव को जल में तिल मिलाकर अर्घ्य दे और पीपल के पेड़ पर जल अपिर्त करें ऐसा करने से शनिदेव अत्यधिक प्रसन्न होते है और भक्तों की मनोकामना पूर्ण करते है।

वट सावित्री व्रत रखने वाली महिलाएं यम देवता का पूजन करें, सामर्थ के अनुसार दान करें। सभी लोग शनि देव का पूजन शनि मंदिर जा कर करें।

 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 9 ग्रहों में शनि सबसे धीरे चलने वाले ग्रह माने जाते हैं इनका प्रभाव मनुष्य पर लंबे समय तक रहता है, इसलिए शनिदेव को प्रसन्न रखना चाहिए ताकि हमारे जीवनयापन में किसी प्रकार की परेशानी न आए।
 


कौन हैं शनिदेव के माता-पिता
ऐसा माना जाता है कि ज्येष्ठ मास की अमावस्या तिथि को सूर्य और उनकी पत्नी छाया के पुत्र के रूप में शनिदेव का जन्म हुआ था। यानी सूर्य और छाया शनिदेव के माता-पिता हैं।

 


Shani dev, Saturday special, Pooja, Lord Shani, Shani Dev temples, Special day, Shani dev mantra, Shani chalisa

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------