VIDEO: अद्भुत अटल' की 'अटल' यात्रा

Published Date 2018/06/12 09:45,Updated 2018/06/13 12:06, Written by- Pawan Tailor

जयपुर। देश में जनसंघ की स्थापना के बाद भाजपा को राष्ट्रीय स्तर की सबसे बड़ी पार्टी बनाने में अपना एक महत्वपूर्ण स्थान रखने वाले दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी पिछले दो दिनों से एम्स में भर्ती है। वहीं दूसरी ओर, देशभर में उनके जल्द स्वस्थ होने की कामनाएं कर जा रही है। देश के सशक्‍त और प्रभावशाली नेताओं में से एक अटल बिहारी वाजपेयी को यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन के कारण अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है। वहीं दूसरी ओर, खबरों के मुताबिक, अब पूर्व प्रधानमंत्री की सेहत में सुधार है और आज उन्‍हें अस्‍पताल से छुट्टी मिल सकती है।

वाजपेयी 1998 से 2004 तक देश के प्रधानमंत्री थे। उनका स्वास्थ्य खराब होने के साथ ही धीरे-धीरे वह सार्वजनिक जीवन से दूर होते चले गए और कई साल से अपने आवास तक सीमित हैं। मध्‍यप्रदेश के ग्‍वालियर में 25 दिसंबर 1924 को जन्‍में अटल बिहारी वाजपेयी का एक लंबा समय इस शहर में गुजरा है। पिता पंडित कृष्ण बिहारी वाजपेयी उत्तर प्रदेश के बटेश्वर से मध्य प्रदेश की ग्वालियर रियासत में बतौर टीचर नौकरी लगने के बाद यहीं शिफ्ट हो गए थे। माता-पिता की सातवीं संतान अटल की तीन बहनें और तीन भाई थे।

अटल बिहारी वाजपेयी का बचपन से लेकर जवानी तक का सफर इसी शहर की गलियों में तय हुआ था। लिखने-पढ़ने के शौकीन अटल बिहारी बाजपेयी बचपन से ही कवि सम्‍मेलन में जाकर कविताएं सुनना और नेताओं के भाषण सुनने में दिलचस्‍पी रखते थे। ग्‍वालियर के विक्‍टोरिया कॉलेज जिसे अब महारानी लक्ष्‍मीबाई कॉलेज के नाम से जाना जाता है में अटल की पढ़ाई हुई। यहीं से बीए करने के साथ ही अटल ने वाद विवाद की प्रतियोगिताओं में भाग लेना शुरू किया। कॉलेज में उनके भाषणों ने उन्‍हें हीरो बना दिया और बाद में वो पूरे देश में एक हीरो के तौर पर पहचाने जाने लगे।

सिर्फ एक राजनेता ही नहीं हैं, बल्कि अटल बिहारी वाजपेयी ने भारत के स्वतंत्रता संग्राम में भी अहम भूमिका भी निभाई थी। वे पढ़ाई बीच में ही छोड़कर पूरी तरह से राजनीति में सक्रिय हो गए। साल 1942 के 'भारत छोड़ो आंदोलन' में उन्हें 23 दिन के लिए जेल भी गए। भाजपा के सिरोधार माने जाने वाले इस 'अद्भुत अटल' की 'अटल' यात्रा पर आइए नजर डालते हैं और देखते ये फर्स्ट इंडिया न्यूज की ये विशेष प्रस्तुति...

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

23605