हिंसक वारदातों एवं आगजनी के बाद टोंक में तनावपूर्ण शांति, इंटरनेट सेवाएं बंद

Published Date 2018/03/19 07:43, Written by- FirstIndia Correspondent

टोंक। टोंक में रविवार शाम हिन्दू संगठनों की रैली में पथराव और हिंसक वारदातों के साथ हुई विभिन्न स्थानों पर आगजनी के बाद आज सुबह शहर में तनावपूर्ण शांति रही। जगह—जगह भारी पुलिस बल तैनात किया गया। वहीं आज सुबह भी कुछ जगह लोगों के एकत्र होने की सूचना पर खुद उपखंड अधिकारी प्रभाती लाल जाट और पुलिस उपाधीक्षक संजय कुमार ने मौके पर पहुंचकर लोगों को वहां से बाहर निकाला।

शहर में भले ही धारा 144 लागू हो, लेकिन उसका असर देखने को नहीं मिला। फिलहाल टोंक जिला मुख्यालय पर नेट सेवाएं बंद है और कल हुई आगजनी की घटनाओं वाले स्थानों से पुलिस ने जली हुई गाड़ियों को हटा दिया है। वहीं सआदत अस्पताल में भर्ती घायलों से सिर्फ देवली—उनियारा विधायक राजेन्द्र गुर्जर ही मिलने पहुंचे है। इससे घायलों के परिवारों में टोंक के नेताओं के प्रति गहरा आक्रोश है।

कुल मिलाकर टोंक में सोमवार सुबह से तनावपूर्ण शांति बनी रही। इससे पहले कल शाम टोंक में भगवा रैली में बड़ा कुआ जामा मस्जिद के बाहर जमकर पथराव के बाद शहर में हालात तनाव पूर्ण हो गए थे और उसके बाद लोगों को घेर-घेर कर मारपीट की गई थी।वहीं पुलिस प्रसाशन ये सब मूकदर्शक बन देखता रहा। कुल 13 घायल अस्पताल पहुंचे थे, जिससे कई ज्यादा निजी अस्पतालों में पहुचे थे।

बता दें कि हिन्दू संगठनों की रैली के दौरान अचानक पथराव शुरू हो गया था और शहर का माहौल बिगड़ गया था। इसके बाद आज सुबह से ही लोग अफवाहों और आशकाओं के माहौल में रहे। फिलहाल टोंक में हालात तनावपूर्ण शांति के हैं। इस घटना में कई लोग घायल हुए हैं, जिनमें खुद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार, दो पुलिसकर्मी के साथ 1 दर्जन लोग शामिल है। एक गंभीर घायल को जयपुर रैफर किया गया है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in


loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------