यूं चला पूरा मामला :
1-2 अक्टूबर 1998 : मामला जोधपुर के कंकाणी गांव का है, जहां 1-2 अक्टूबर 1998 की रात में दो काले हिरणों का शिकार किया गया था। यह केस आर्म्स एक्ट में एडिशनल चार्ज फ्रेम होने की वजह से जुलाई 2012 तक पेंडिंग रहा और अब सेशन कोर्ट में चल रहा है। फिल्म हम साथ-साथ हैं कि शूटिंग के दौरान सितंबर-अक्टूबर 1998 के दौरान शिकार का आरोप है। इसमें सलमान के साथ सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेंद्रे और निलम पर भी शिकार के लिए सलमान को उकसाने का आरोप है।

17 फरवरी 2006 : इस के बाद इस मामले में सलमान खान को पहली बार 17 फरवरी 2006 के दिन एक साल की सजा हुई। उन पर जोधपुर के पास भवाद गांव में 26-27 सितंबर 1998 की रात शिकार करने का आरोप था।

10 अप्रैल 2006 : एक हिरण के शिकार के मामले में सलमान को 10 अप्रैल 2006 को पांच साल की सजा हुई। यह सजा उन्हें जोधपुर के मथानिया के पास घोड़ा फार्म में 28-29 सितंबर 1998 की रात एक काले हिरण के शिकार के मामले में सुनाई गई और उन्हें जेल जाना पड़ा। लेकिन 8 दिन बाद वह जोधपुर हाईकोर्ट से बेल पर छूट गए थे। इन दोनों मामलों में जोधपुर हाईकोर्ट में तभी से रोजाना सुनवाई होती रही।

इतने दिन रहे जेल में : सलमान खान को चिंकारा शिकार के मामले में और घोड़ा फार्म हाउस शिकार मामले में 12 अक्टूबर 1998 से 17 अक्टूबर तक पुलिस और न्यायिक हिरासत में रहे। 10 से 15 अप्रैल 2006 तक 6 दिन के लिए उन्हें केंद्रीय कारागृह में भी रहना पड़ा था।

फोरेस्ट डिपार्टमेंट ने किया था गिरफ्तार : हिरण शिकार के तीन मामलों में अब तक पुलिस और न्यायिक अभिरक्षा के तहत 18 दिन जोधपुर जेल में रह चुके हैं। शिकार के मामले में सलमान को वन विभाग ने सबसे पहले 12 अक्टूबर 1998 में हिरासत में लिया था। इसके बाद सलमान 17 अक्टूबर तक पुलिस और न्यायिक हिरासत में रहे।

सेंट्रल जेल में भी रहे सलमान : घोड़ा फार्म हाउस शिकार मामले में सलमान को 10 से 15 अप्रैल 2006 तक 6 दिन केंद्रीय कारागृह में रहना पड़ा। सेशन कोर्ट द्वारा इस सजा की पुष्टि करने पर सलमान को 26 से 31 अगस्त 2007 तक जेल में रहना पड़ा था।

4 जनवरी 2018 : किला हिरण शिकार मामले में जोधपुर की सीजेएम कोर्ट ने 4 जनवरी 2018 को सुनवाई पूरी कर ली थी, लेकिन इस मामले में फैसला सुरक्षित कर लिया था। अदालत ने अगली सुनवाई के लिए 5 अप्रैल की तारीख तय की थी।

", "sameAs": "http://www.firstindianews.com/news/suspicion-on-salman-punishment-in-blackbuck-poaching-case-842705394", "about": [ "Works", "Catalog" ], "pageEnd": "368", "pageStart": "360", "name": "हिरण शिकार मामला : सलमान की सजा पर संशय बरकरार, खबरें महज अफवाह", "author": "FirstIndia Correspondent" } ] }

हिरण शिकार मामला : सलमान की सजा पर संशय बरकरार, खबरें महज अफवाह

Published Date 2018/04/05 12:26,Updated 2018/04/05 02:11, Written by- FirstIndia Correspondent

जोधपुर। जोधपुर के कांकाणी में हुए काला हिरण शिकार मामले में सलमान को दोषी करार दिए जाने के बाद उनकी सजा को लेकर अभी संशय बरकरार है। इस मामले में कोर्ट ने अभी तक उनकी सजा का ऐलान नहीं किया है, वहीं इससे पूर्व सलमान को इस मामले में दो साल की सजा सुनाए जाने की खबरें महज अफवाह साबित हुई है। सलमान की सजा को लेकर कोर्ट में सुनवाई जारी है और उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही उनकी सजा का फैसला सामने आ सकता है।

इस मामले में सरकारी वकील भवानी सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सलमान को इस मामले में अभी तक दोषी करार दिया गया है। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि सलमान की सजा का ऐलान अभी तक ​नहीं किया गया है। कोर्ट में जज ने दो बजे के बाद सजा सुनाने की बात कही थी, जिसे मीडिया में दो साल की सजा होना समझ लिया गया था।

गौरतलब है कि इससे पहले इस प्रकार की खबरें सामने आई थी कि काला हिरण शिकार मामले में कोर्ट ने सलमान को दो साल की सजा सुनाई है। आपको बता दें कि काला हिरण शिकार मामले में सलमान खान पर कुल चार केस लगे थे, जिनमें से तीन हिरणों के शिकार के थे, जबकि चौथा केस आर्म्स एक्ट का था। बताया जाता है कि पलिस ने सलमान के कमरे से ही उनका निजी पिस्टल और राइफल बरामद किया था।

यूं चला पूरा मामला :
1-2 अक्टूबर 1998 : मामला जोधपुर के कंकाणी गांव का है, जहां 1-2 अक्टूबर 1998 की रात में दो काले हिरणों का शिकार किया गया था। यह केस आर्म्स एक्ट में एडिशनल चार्ज फ्रेम होने की वजह से जुलाई 2012 तक पेंडिंग रहा और अब सेशन कोर्ट में चल रहा है। फिल्म हम साथ-साथ हैं कि शूटिंग के दौरान सितंबर-अक्टूबर 1998 के दौरान शिकार का आरोप है। इसमें सलमान के साथ सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेंद्रे और निलम पर भी शिकार के लिए सलमान को उकसाने का आरोप है।

17 फरवरी 2006 : इस के बाद इस मामले में सलमान खान को पहली बार 17 फरवरी 2006 के दिन एक साल की सजा हुई। उन पर जोधपुर के पास भवाद गांव में 26-27 सितंबर 1998 की रात शिकार करने का आरोप था।

10 अप्रैल 2006 : एक हिरण के शिकार के मामले में सलमान को 10 अप्रैल 2006 को पांच साल की सजा हुई। यह सजा उन्हें जोधपुर के मथानिया के पास घोड़ा फार्म में 28-29 सितंबर 1998 की रात एक काले हिरण के शिकार के मामले में सुनाई गई और उन्हें जेल जाना पड़ा। लेकिन 8 दिन बाद वह जोधपुर हाईकोर्ट से बेल पर छूट गए थे। इन दोनों मामलों में जोधपुर हाईकोर्ट में तभी से रोजाना सुनवाई होती रही।

इतने दिन रहे जेल में : सलमान खान को चिंकारा शिकार के मामले में और घोड़ा फार्म हाउस शिकार मामले में 12 अक्टूबर 1998 से 17 अक्टूबर तक पुलिस और न्यायिक हिरासत में रहे। 10 से 15 अप्रैल 2006 तक 6 दिन के लिए उन्हें केंद्रीय कारागृह में भी रहना पड़ा था।

फोरेस्ट डिपार्टमेंट ने किया था गिरफ्तार : हिरण शिकार के तीन मामलों में अब तक पुलिस और न्यायिक अभिरक्षा के तहत 18 दिन जोधपुर जेल में रह चुके हैं। शिकार के मामले में सलमान को वन विभाग ने सबसे पहले 12 अक्टूबर 1998 में हिरासत में लिया था। इसके बाद सलमान 17 अक्टूबर तक पुलिस और न्यायिक हिरासत में रहे।

सेंट्रल जेल में भी रहे सलमान : घोड़ा फार्म हाउस शिकार मामले में सलमान को 10 से 15 अप्रैल 2006 तक 6 दिन केंद्रीय कारागृह में रहना पड़ा। सेशन कोर्ट द्वारा इस सजा की पुष्टि करने पर सलमान को 26 से 31 अगस्त 2007 तक जेल में रहना पड़ा था।

4 जनवरी 2018 : किला हिरण शिकार मामले में जोधपुर की सीजेएम कोर्ट ने 4 जनवरी 2018 को सुनवाई पूरी कर ली थी, लेकिन इस मामले में फैसला सुरक्षित कर लिया था। अदालत ने अगली सुनवाई के लिए 5 अप्रैल की तारीख तय की थी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


loading...

Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------