राजस्थान विधानसभा में आज बजट पेश होने से पहले ही जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस ने काले कानून को वापस लेने की मांग को लेकर हंगामा किया। इस दौरान पक्ष और प्रतिपक्ष के बीच जमकर नोंकझोंक हुई। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि राजस्थान में किसानों पर 30 सितंबर तक के 50 हजार तक के लोन और ओवर ड्यू पर ब्याज की माफ होगा।उन्होंने कहा कि इससे राज्य सरकार पर आठ हजार करोड़ रुपए का भार आएगा। राज्य कृषि ऋण आयोग के गठन की घोषणा की। प्रतिपक्ष ने पूर्ण कर्जमाफी की घोषणा की मांग को लेकर हंगामा किया। इसके चलते मुख्यमंत्री को अपना बजट भाषण रोकना पड़ा। 

सीएम राजे के बजट भाषण के अंश इस प्रकार से हैं...

  • 2017—18 संशोधित बजट अनुमान और 2018—19 का राज्य बजट 
  • 20 दिसंबर 2013 को विजन 20—20 के तहत अपने विजन पेश किए।
  • बाड़मेर रिफाइनरी को रीमोडिफाई करके 40 हजार करोड़ रुपए का बजट प्रस्ताव पेश किया।
  • हमारी सरकार आम आदमी के साथ ही हर राजस्थानी को समर्पित है।
  • जयपुर को वर्ल्ड सिटी के तौर पर मानचित्र को विकसित किया।
  • रामनिवास गार्डन स्थित भूूमिगत पार्किंग, अमानीशाह नाले का द्रव्यवति नदी के रूप में विकसित किए जाने से इसका कायाकल्प होगा।
  • 2 करोड़ ऐतिहासिक लेखों को डिजिटाइजेशन किया है।
  • 2 लाख युवाओं को कौशल प्रशिक्षण
  • 1.5 लाख युवाओं कारकारी नौकरी
  • जैसलमेर और बाडमेर में मुडंला पोर्ट से जोडने के लिए नई रेल लाइन प्रस्तावित।
  • बीकेनेर राजस्थान स्टेट आर्काईव देश का प्रथम डिजिटल आर्काइव बन गया है।
  • भामाशाह योजना से 5 करोड लोगों को लाभ पहुंचाया जा रहा है।
  • स्किल यूनिवर्सिटी से 2 लाख युवाओं को रोजगार।
  • मिसिंग लिंक्स सड़कों को 767 करोड़ रुपए की लागत से मुख्य सड़कों से जोड़ने की योजना।
  • वाहन लाइसेंस के लिए फ्रंट आॅफिस को परिवहन कार्यालय के रूप में सं​चालित किया जाएगा।
  • वाहन लाइसेंस के कार्य को पेपरलेस किए जाने की घोषणा।
  • फलौदी, जौधपुर जैसे मेगा हाइवे को इंमरजेंसी लैंडिंग के रूप में भी विकसित किया जाएगा।
  • 360 करोड रुपए टॉयलेट पर खर्च होंगे।
  • ग्राम राजस्थान में हमने 2 लाख किसानों से सीधा संवाद किया।
  • हमने बाड़मेर रिफाइनरी का सपना सच किया।
  • राज्य में रोजगार के 13 लाख नए अवसर पैदा हुए।
  • हमने 1.5 लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां दी।
  • 1 लाख 84 हजार महिला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मानदेयकर्मी होंगी लाभान्वित।
  • महिला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मानदेयकर्मियों का मानदेय बढ़ाया।
  • ऊंटनी के दूध के प्रसंस्करण व वितरण के लिए जयपुर में बनेगा मिनी-प्लांट।
  • राज्य में 28 नए पीएचसी खोले जाएंगे।
  • 1000 नए अन्नपूर्णा भंडार खोले जाएंगे।
  • राजकीय विद्यालयों में नामांकन में 12 लाख की वृद्धि हुई है।
  • 54000 थर्ड ग्रेड शिक्षकों की होगी भर्तियां।
  • 9000 सेकंड ग्रेड शिक्षकों की होगी भर्तियां।
  • 24 आईटीआई में महिला विंग खोले जाएंगे।
  • राज्य के युवा क्रिकेटर कमलेश नागरकोटि को अंडर 19 वर्ल्ड कप मे उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए 25 लाख रुपए दिए जाने की घोषणा।
  • खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन के लिए 'यूथ आइकन स्कीम' की घोषणा।
  • भामाशाह कार्ड धारक NFSA परिवारों के लिए “भामाशाह सुरक्षा कवच” की घोषणा।
  • 7वें वेतन आयोग का एरियर मिलेगा।
  • महिला कर्मचारियों को कार्यकाल में 2 वर्ष की 'चाइल्ड केयर लीव' दी जाएगी।
  • जयपुर के रामनिवास बाग से बनेगा अंडरपास, दिल्ली जाने वाले लोगों की यात्रा होगी सुगम।
  • राजधानी के जयपुरिया अस्पताल मे स्वाइन फ्लू जांच केंद खोला जाएगा।
  • 28 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे।
  • उदयपुर में मदनमोहन मालवीय आयुर्वेद अस्पताल क्रमोन्नत होगा। पीजी डिप्लोमा के नए कोर्स शुरू होंगे।
  • बाल विकास परियोजनाओं में भर्ती निकलेगी।
  • अन्नपूर्णा भंडार के तहत स्कूल कॉलेज में सैनेट्री पैड्स का वितरण किया जाएगा। 76 करोड खर्च होंगे।
  • किसानाें के लिए 30 सितंबर तक के 50 हजार रुपए तक के लोन और ओवर ड्यू पर ब्याज माफ होगा। राज्य सरकार पर आएगा 8 हजार करोड़ रुपए का भार।
  • 936 नए सब स्टेशन स्थापित किए जाएंगे।
  • सात लाख नए बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे, किसानाें काे दाे लाख नए कनेक्शन।
  • बूंदी-झालीजी का बराना पेयजल परियोजना की घोषणा । 109 करोड़ 29 रुपए खर्च होंगे।
  • पोकरण फलसुंड बालोतरा परियोजना 2018 सितम्बर तक पूर्ण होगी।
  • कछावन पेयजल याेजना शुरू की जाएगी।
  • 500 नए आरआे प्लांट लगाने की घाेषणा।
  • गांवाें सीसी सड़कें बनेंगी। नालियां बनार्इ जाएंगी।
  • विश्व बैंक के सहयोग से पाली, जोधपुर और नागौर में 882 KM सड़कें बनेंगी।
  • 77 हजार एक सौ रिक्त पदों पर होगी भर्ती।
  • 18 उपखंडों पर नए राजकीय कॉलेज खोले जाएंगे।
  • पेमाइनस पेंशन के आधार पर रिटायर्ड व्याख्याता रखे जाएंगे।
  • हर जिले में एक नंदी गौशाला को 50 लाख का अनुदान।
  • ऊटों के संरक्षण के लिए जयपुर में मिनी प्लांट स्थापित होगा।
  • एक हजार नर्सिंग ट्रेनिंग टीचर की भर्ती की घोषणा।
  • 27 जिला अस्पतालों में आधुनिक फायर स्टेशन स्थापित होंगे।
  • शाहपुरा चिकित्सालय को किया जाएगा अपग्रेड 28 नए पीएसची खोली जाएगी।
  • 5 हजार 518 स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी।
  • बीकानेर मेडिकल कॉलेज में नए कैथ लैब स्थापना होगी।
  • अजमेर मेडिकल कॉलेज में भी नए कैथ लैब की स्थापना होगी।
  • चार सौ केवी का एक सब स्टेशन का लोकार्पण होगा।
  • सात लाख नए विद्युत कनेक्शन दिए जाएंगे।
  • किसानों के हितों में 2 लाख कृषि कनेक्शन दिए जाएंगे।
  • लघु और सीमांत कृषकों के शास्ती और ब्याज माफ की घोषणा की गई।
  • सीएम ने किसानों को एक बारगी 50 हजार रुपए तक के कर्ज की माफी की घोषणा भी की।
  • राजस्थान रोडवेज की बसों में 80 वर्ष से अधिक आयु वाले वृद्धजनों के लिए मुफ्त यात्रा। साथ ही उनके साथ मौजूद एक व्यक्ति को 50 प्रतिशत की रियायत की घोषणा।
  • जयपुर शहर में 40 नई इलेक्ट्रिक बसें चलाए जाने की घोषणा।
  • शहीद सैनिकों के परिजनों को वर्तमान में देय राशि को 20 लाख से बढ़ाकर 25 लाख किए जाने की घोषणा।
  • पुलिस फोर्स के नाकारा वाहनों को बदलवाया जाएगा। 210 वाहनों के लिए 7 करोड़ 10 लाख का बजट।
  • पुलिस थानों का आधुनिकीकरण किए जाने की घोषणा।
  • पत्रकारों, फोटो जर्नलिस्ट्स के कैमरा एवं अन्य उपकरणों के लिए इंश्योरेंस की योजना।
  • ऐसे पत्रकार जिनके नाम पर कोई भूखण्ड नहीं है, उन्हें मकान बनाने के लिए 25 लाख रुपए तक का ऋण उपलब्ध कराने के लिए योजना बनाने की घोषणा।
  • पत्रकारों व उनके परिवारों को असाध्य रोगों की स्थिति में 1 लाख रुपए तक की सहायता उपलब्ध कराए जाने की घोषणा।
  • 1832 स्कूलों को क्रमोन्नत किया जाएगा।
  • 77 हजार एक सौ रिक्त पदों पर होगी भर्ती।
  • 18 उपखंडों पर नए राजकीय कॉलेज खोले जाएंगे।
  • हर जिले में एक नंदी गौशाला को 50 लाख का अनुदान।
  • एक हजार नर्सिंग ट्रेनिंग टीचर की भर्ती की घोषणा।
  • 27 जिला अस्पतालों में आधुनिक फायर स्टेशन स्थापित होंगे।
  • शाहपुरा चिकित्सालय को अपग्रेड किया जाएगा।
  • 28 नए पीएसची खोली जाएगी।
  • 5 हजार 518 स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी।
  • बीकानेर मेडिकल कॉलेज में नए कैथ लैब स्थापना होगी।
  • अजमेर मेडिकल कॉलेज में भी नए कैथ लैब की स्थापना होगी।
  • मानदेयकर्मियों का आंगनबाड़ी 4700-6000, 3365-4500, सहायिका 3500, साथिन 3300, आशा सहयोगिनियों को 2500 प्रतिमाह, 
  • 25 करोड़ रुपए से अधिक लागत पर मदरसों को बनाया जाएगा आदर्श मदरसे।
  • RPSC, UPSC में इंटरव्यू वालों को रोडवेज़ में फ्री यात्रा।
  • राजकीय आयुर्वेद कॉलेज में नए पाठ्यक्रम की घोषणा।
  • जोधपुर, बीकानेर, झालावाड़ में 3 लैब की घोषणा।
  • इंजीनियरिंग कॉलेज में डिजाइन के लिए लैब की घोषणा।
  • राजस्थान के स्टार क्रिकेटर मुकेश नगरकोटी को सरकार देगी 25 लाख रुपए।
  • 10वीं और 12वीं कक्षा की छात्राओं को 85% से अधिक अंक लाने पर प्रत्येक 200 को स्कूटी दी जाएगी।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आखिर में अपने बजट भाषण को एक खूबसूरत शेर पढ़ते हुए समाप्त किया। राजे ने कहा कि, 'मंजिलें यूं ही नहीं मिलती दोस्तों। एक जज्बा जगाना पड़ता है। पूछा चिड़िया से किसी ने घौसला कैसे बनता है। कहा ​उसने कि तिनका तिनका उठाना पड़ता है।' इसके साथ ही सीएम राजे ने वित्त विधेयक 2018'19 को सदन की मेज पर रखा, जिस पर हां पक्ष ने समर्थन जताया। वहीं इसके बाद विधानसभाध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को 14 फरवरी सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।

", "sameAs": "http://www.firstindianews.com/news/the-speech-of-cm-vasundhara-raje-during-presets-rajasthan-budget-in-vidhan-sabha-1393108624", "about": [ "Works", "Catalog" ], "pageEnd": "368", "pageStart": "360", "name": "राजस्थान बजट 2018 : एक नजर में देखें, विधानसभा में सीएम राजे की 'पोटली' से क्या—क्या निकला", "author": "FirstIndia Correspondent" } ] }

राजस्थान बजट 2018 : एक नजर में देखें, विधानसभा में सीएम राजे की 'पोटली' से क्या—क्या निकला

Published Date 2018/02/12 01:26,Updated 2018/02/12 01:52, Written by- FirstIndia Correspondent

जयपुर। राजस्थान विधानसभा के बजट सत्र में सोमवार को विपक्ष के भारी हंगामे के साथ सदन की कार्यवाही शुरू हुई, जिसमें विपक्ष ने काला कानून, कर्जमाफी और किसानों की आत्महत्या समेत कई मुद्दों पर सरकार को जमकर घेरा। हंगामे के चलते सीएम राजे काफी देर तक सदन में हो रहे शोर—शराबे के खत्म होने का इंतजार करती रहीें। विपक्ष के हंगामे पर संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने भी विपक्ष के हंगामे पर अपना विरोध जताया। वहीं विधानसभाध्यक्ष ने विपक्ष को जमकर लताड़ लगाई।

राजस्थान विधानसभा में मुख्यमंत्री के बजट भाषण से पूर्व विपक्ष ने काले कानून, कर्जमाफी, किसानों की आत्महत्या समेत कई मुद्दों को सरकार को घेरा। इस दौरान विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ। वहीं विपक्ष पर बरसते हुए संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने कहा कि आने वाले बजट की आशंका को देखते हुए पेट में बल पड़ रहे हैं आपके। वहीं विधानसभाध्यक्ष ने विपक्ष को लताड़ते हुए कहा कि, सबको बाहर निकलवा दूंगा अगर आप नहीं मानते हैं तो, मजाक बना रखा है आपने विधानसभा को। 

विधानसभाध्यक्ष की लताड़ के बाद जब विधानसभा में शोर—शराबा कम हुआ तो मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपना बजट भाषण पढ़ना शुरू किया। इस दौरान सीएम राजे ने एक शेर भी पढ़ और कहा कि, 'ये मंजिल बड़ी जिद्दी होती है, हासिल कहां नसीब होती है...'। वहीं सीएम राजे ने 'न रुकेंगे, न थकेंगे' का स्लोगन कहते हुए शेष चुनौतियों को जल्द ही पूरा किए जाने की बात कही।

सुबह 11 बजे सदन की कार्रवाई शुरू हुई। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने वित्त मंत्री के नाते जैसे ही सदन में बजट पढ़ना शुरू किया, प्रतिपक्ष के नेता रामेश्ववर डूडी खड़े हो गए और फिर काले कानून को वापस लेने की मांग करने लगे। इसका संसदीय कार्यमंत्री राजेंद्र राठौड़ समेत सत्तापक्ष ने विरोध किया। करीब पांच मिनट तक सदन में हंगामे की स्थिति बनी। इसके बाद अध्यक्ष ने हंगामा कर रहे सदस्यों को चेतावनी दी और बैठने की व्यवस्था दी। इसके बाद सदन सीएम ने अपना बजट भाषण पढ़ना शुरू किया।  

राजस्थान विधानसभा में आज बजट पेश होने से पहले ही जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस ने काले कानून को वापस लेने की मांग को लेकर हंगामा किया। इस दौरान पक्ष और प्रतिपक्ष के बीच जमकर नोंकझोंक हुई। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि राजस्थान में किसानों पर 30 सितंबर तक के 50 हजार तक के लोन और ओवर ड्यू पर ब्याज की माफ होगा।उन्होंने कहा कि इससे राज्य सरकार पर आठ हजार करोड़ रुपए का भार आएगा। राज्य कृषि ऋण आयोग के गठन की घोषणा की। प्रतिपक्ष ने पूर्ण कर्जमाफी की घोषणा की मांग को लेकर हंगामा किया। इसके चलते मुख्यमंत्री को अपना बजट भाषण रोकना पड़ा। 

सीएम राजे के बजट भाषण के अंश इस प्रकार से हैं...

  • 2017—18 संशोधित बजट अनुमान और 2018—19 का राज्य बजट 
  • 20 दिसंबर 2013 को विजन 20—20 के तहत अपने विजन पेश किए।
  • बाड़मेर रिफाइनरी को रीमोडिफाई करके 40 हजार करोड़ रुपए का बजट प्रस्ताव पेश किया।
  • हमारी सरकार आम आदमी के साथ ही हर राजस्थानी को समर्पित है।
  • जयपुर को वर्ल्ड सिटी के तौर पर मानचित्र को विकसित किया।
  • रामनिवास गार्डन स्थित भूूमिगत पार्किंग, अमानीशाह नाले का द्रव्यवति नदी के रूप में विकसित किए जाने से इसका कायाकल्प होगा।
  • 2 करोड़ ऐतिहासिक लेखों को डिजिटाइजेशन किया है।
  • 2 लाख युवाओं को कौशल प्रशिक्षण
  • 1.5 लाख युवाओं कारकारी नौकरी
  • जैसलमेर और बाडमेर में मुडंला पोर्ट से जोडने के लिए नई रेल लाइन प्रस्तावित।
  • बीकेनेर राजस्थान स्टेट आर्काईव देश का प्रथम डिजिटल आर्काइव बन गया है।
  • भामाशाह योजना से 5 करोड लोगों को लाभ पहुंचाया जा रहा है।
  • स्किल यूनिवर्सिटी से 2 लाख युवाओं को रोजगार।
  • मिसिंग लिंक्स सड़कों को 767 करोड़ रुपए की लागत से मुख्य सड़कों से जोड़ने की योजना।
  • वाहन लाइसेंस के लिए फ्रंट आॅफिस को परिवहन कार्यालय के रूप में सं​चालित किया जाएगा।
  • वाहन लाइसेंस के कार्य को पेपरलेस किए जाने की घोषणा।
  • फलौदी, जौधपुर जैसे मेगा हाइवे को इंमरजेंसी लैंडिंग के रूप में भी विकसित किया जाएगा।
  • 360 करोड रुपए टॉयलेट पर खर्च होंगे।
  • ग्राम राजस्थान में हमने 2 लाख किसानों से सीधा संवाद किया।
  • हमने बाड़मेर रिफाइनरी का सपना सच किया।
  • राज्य में रोजगार के 13 लाख नए अवसर पैदा हुए।
  • हमने 1.5 लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां दी।
  • 1 लाख 84 हजार महिला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मानदेयकर्मी होंगी लाभान्वित।
  • महिला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मानदेयकर्मियों का मानदेय बढ़ाया।
  • ऊंटनी के दूध के प्रसंस्करण व वितरण के लिए जयपुर में बनेगा मिनी-प्लांट।
  • राज्य में 28 नए पीएचसी खोले जाएंगे।
  • 1000 नए अन्नपूर्णा भंडार खोले जाएंगे।
  • राजकीय विद्यालयों में नामांकन में 12 लाख की वृद्धि हुई है।
  • 54000 थर्ड ग्रेड शिक्षकों की होगी भर्तियां।
  • 9000 सेकंड ग्रेड शिक्षकों की होगी भर्तियां।
  • 24 आईटीआई में महिला विंग खोले जाएंगे।
  • राज्य के युवा क्रिकेटर कमलेश नागरकोटि को अंडर 19 वर्ल्ड कप मे उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए 25 लाख रुपए दिए जाने की घोषणा।
  • खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन के लिए 'यूथ आइकन स्कीम' की घोषणा।
  • भामाशाह कार्ड धारक NFSA परिवारों के लिए “भामाशाह सुरक्षा कवच” की घोषणा।
  • 7वें वेतन आयोग का एरियर मिलेगा।
  • महिला कर्मचारियों को कार्यकाल में 2 वर्ष की 'चाइल्ड केयर लीव' दी जाएगी।
  • जयपुर के रामनिवास बाग से बनेगा अंडरपास, दिल्ली जाने वाले लोगों की यात्रा होगी सुगम।
  • राजधानी के जयपुरिया अस्पताल मे स्वाइन फ्लू जांच केंद खोला जाएगा।
  • 28 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे।
  • उदयपुर में मदनमोहन मालवीय आयुर्वेद अस्पताल क्रमोन्नत होगा। पीजी डिप्लोमा के नए कोर्स शुरू होंगे।
  • बाल विकास परियोजनाओं में भर्ती निकलेगी।
  • अन्नपूर्णा भंडार के तहत स्कूल कॉलेज में सैनेट्री पैड्स का वितरण किया जाएगा। 76 करोड खर्च होंगे।
  • किसानाें के लिए 30 सितंबर तक के 50 हजार रुपए तक के लोन और ओवर ड्यू पर ब्याज माफ होगा। राज्य सरकार पर आएगा 8 हजार करोड़ रुपए का भार।
  • 936 नए सब स्टेशन स्थापित किए जाएंगे।
  • सात लाख नए बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे, किसानाें काे दाे लाख नए कनेक्शन।
  • बूंदी-झालीजी का बराना पेयजल परियोजना की घोषणा । 109 करोड़ 29 रुपए खर्च होंगे।
  • पोकरण फलसुंड बालोतरा परियोजना 2018 सितम्बर तक पूर्ण होगी।
  • कछावन पेयजल याेजना शुरू की जाएगी।
  • 500 नए आरआे प्लांट लगाने की घाेषणा।
  • गांवाें सीसी सड़कें बनेंगी। नालियां बनार्इ जाएंगी।
  • विश्व बैंक के सहयोग से पाली, जोधपुर और नागौर में 882 KM सड़कें बनेंगी।
  • 77 हजार एक सौ रिक्त पदों पर होगी भर्ती।
  • 18 उपखंडों पर नए राजकीय कॉलेज खोले जाएंगे।
  • पेमाइनस पेंशन के आधार पर रिटायर्ड व्याख्याता रखे जाएंगे।
  • हर जिले में एक नंदी गौशाला को 50 लाख का अनुदान।
  • ऊटों के संरक्षण के लिए जयपुर में मिनी प्लांट स्थापित होगा।
  • एक हजार नर्सिंग ट्रेनिंग टीचर की भर्ती की घोषणा।
  • 27 जिला अस्पतालों में आधुनिक फायर स्टेशन स्थापित होंगे।
  • शाहपुरा चिकित्सालय को किया जाएगा अपग्रेड 28 नए पीएसची खोली जाएगी।
  • 5 हजार 518 स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी।
  • बीकानेर मेडिकल कॉलेज में नए कैथ लैब स्थापना होगी।
  • अजमेर मेडिकल कॉलेज में भी नए कैथ लैब की स्थापना होगी।
  • चार सौ केवी का एक सब स्टेशन का लोकार्पण होगा।
  • सात लाख नए विद्युत कनेक्शन दिए जाएंगे।
  • किसानों के हितों में 2 लाख कृषि कनेक्शन दिए जाएंगे।
  • लघु और सीमांत कृषकों के शास्ती और ब्याज माफ की घोषणा की गई।
  • सीएम ने किसानों को एक बारगी 50 हजार रुपए तक के कर्ज की माफी की घोषणा भी की।
  • राजस्थान रोडवेज की बसों में 80 वर्ष से अधिक आयु वाले वृद्धजनों के लिए मुफ्त यात्रा। साथ ही उनके साथ मौजूद एक व्यक्ति को 50 प्रतिशत की रियायत की घोषणा।
  • जयपुर शहर में 40 नई इलेक्ट्रिक बसें चलाए जाने की घोषणा।
  • शहीद सैनिकों के परिजनों को वर्तमान में देय राशि को 20 लाख से बढ़ाकर 25 लाख किए जाने की घोषणा।
  • पुलिस फोर्स के नाकारा वाहनों को बदलवाया जाएगा। 210 वाहनों के लिए 7 करोड़ 10 लाख का बजट।
  • पुलिस थानों का आधुनिकीकरण किए जाने की घोषणा।
  • पत्रकारों, फोटो जर्नलिस्ट्स के कैमरा एवं अन्य उपकरणों के लिए इंश्योरेंस की योजना।
  • ऐसे पत्रकार जिनके नाम पर कोई भूखण्ड नहीं है, उन्हें मकान बनाने के लिए 25 लाख रुपए तक का ऋण उपलब्ध कराने के लिए योजना बनाने की घोषणा।
  • पत्रकारों व उनके परिवारों को असाध्य रोगों की स्थिति में 1 लाख रुपए तक की सहायता उपलब्ध कराए जाने की घोषणा।
  • 1832 स्कूलों को क्रमोन्नत किया जाएगा।
  • 77 हजार एक सौ रिक्त पदों पर होगी भर्ती।
  • 18 उपखंडों पर नए राजकीय कॉलेज खोले जाएंगे।
  • हर जिले में एक नंदी गौशाला को 50 लाख का अनुदान।
  • एक हजार नर्सिंग ट्रेनिंग टीचर की भर्ती की घोषणा।
  • 27 जिला अस्पतालों में आधुनिक फायर स्टेशन स्थापित होंगे।
  • शाहपुरा चिकित्सालय को अपग्रेड किया जाएगा।
  • 28 नए पीएसची खोली जाएगी।
  • 5 हजार 518 स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी।
  • बीकानेर मेडिकल कॉलेज में नए कैथ लैब स्थापना होगी।
  • अजमेर मेडिकल कॉलेज में भी नए कैथ लैब की स्थापना होगी।
  • मानदेयकर्मियों का आंगनबाड़ी 4700-6000, 3365-4500, सहायिका 3500, साथिन 3300, आशा सहयोगिनियों को 2500 प्रतिमाह, 
  • 25 करोड़ रुपए से अधिक लागत पर मदरसों को बनाया जाएगा आदर्श मदरसे।
  • RPSC, UPSC में इंटरव्यू वालों को रोडवेज़ में फ्री यात्रा।
  • राजकीय आयुर्वेद कॉलेज में नए पाठ्यक्रम की घोषणा।
  • जोधपुर, बीकानेर, झालावाड़ में 3 लैब की घोषणा।
  • इंजीनियरिंग कॉलेज में डिजाइन के लिए लैब की घोषणा।
  • राजस्थान के स्टार क्रिकेटर मुकेश नगरकोटी को सरकार देगी 25 लाख रुपए।
  • 10वीं और 12वीं कक्षा की छात्राओं को 85% से अधिक अंक लाने पर प्रत्येक 200 को स्कूटी दी जाएगी।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आखिर में अपने बजट भाषण को एक खूबसूरत शेर पढ़ते हुए समाप्त किया। राजे ने कहा कि, 'मंजिलें यूं ही नहीं मिलती दोस्तों। एक जज्बा जगाना पड़ता है। पूछा चिड़िया से किसी ने घौसला कैसे बनता है। कहा ​उसने कि तिनका तिनका उठाना पड़ता है।' इसके साथ ही सीएम राजे ने वित्त विधेयक 2018'19 को सदन की मेज पर रखा, जिस पर हां पक्ष ने समर्थन जताया। वहीं इसके बाद विधानसभाध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को 14 फरवरी सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


loading...

Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------