बच्चे ने माता-पिता की मौत के चार साल बाद लिया जन्म, जानिए कैसे  

Published Date 2018/04/13 04:46,Updated 2018/04/13 04:53, Written by- FirstIndia Correspondent

पेइचिंग। चीन में एक बच्चे ने अपने मां-बाप के गुजरने के 4 साल बाद जनम लिया है। अब आप अगर ये सोच रहे हैं कि ये कैसे हो सकता है तो हम आपको बता दें कि ऐसा हुआ है। दरअसल, यह घटना चीन की है, जहां एक पति और पत्नि की 4 साल पहले एक कार दुर्घटना में मौत हो गई थी, लेकिन एक सरोगेट मां ने माता-पिता की मौत के चार साल बाद उनके बच्चे को जन्म दिया। हालांकि, वर्ष 2013 में हुई इस दुर्घटना से पहले इस दंपती का प्रजनन संबंधी उपचार चल रहा था।

आपकों बता दें कि दंपती की मौत के बाद उनके माता-पिता ने उनके निषेचित भ्रूण को हासिल करने के लिए लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी है। निषेचित भ्रूण को ननजिंग के पूर्वी शहर के एक अस्पताल में रखा गया था। बच्चे को 9 दिसंबर को लाओस की सरोगेट मां ने जन्म दिया। इस बच्चे के दादा-दादी को निषेचित भ्रूण को चीन से बाहर ले जाने के लिए कई समस्याओं का सामना करना पड़ा। 

हालांकि,परिवार की अगली समस्या बच्चे को वापस चीन ले जाना था क्योंकि सरोगेसी के जरिए देश से बाहर जन्मे बच्चों को वापस लाने के लिए डीएनए टेस्ट से यह साबित करने की जरूरत है कि बच्चे के माता-पिता में से एक चीनी नागरिक है। सरोगेट मां को टूरिस्ट वीजा पर चीन लाया गया और उन्होंने गुआंझो अस्पताल में इस बच्चे को जन्म दिया। इस बच्चे को अस्पताल में 15 दिनों तक रखा गया जब तक उसके दादा-दादी, नाना-नानी चारों ने डीएनए टेस्ट के लिए खून जांच नहीं करवा ली या हम यह भी कह सकते हैं कि जब तक परिवार को डीएनए टेस्ट की रिपोर्ट नही मिली तब तक बच्चे को अस्पताल में ही रहना पड़ा।

बता दें कि बच्चे की इच्छा रखने वालों को सरोगेसी तकनीक का विकल्प विदेश में तलाशना पड़ता है। सरोगेसी एक्सपर्ट और दंपती के माता-पिता की मदद करने वाली लियू बाउजन ने कहा है कि 'पहले हमने सोचा था कि इस भ्रूण को विमान से भेजा जाए लेकिन कोई भी विमानन कंपनी ऐसा करने के लिए राजी नहीं हुई। इसलिए दोनों परिवारों ने निषेचित भ्रूण को सड़क के रास्ते लाओस पहुंचाने का फैसला लिया।' 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


loading...

Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------