कभी बसों में पोस्टर तक लगाना पड़ा था, आज देश मना रहा है Mr Perfectionist का जन्मदिन

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/03/14 03:40

मंबई। बॉलीवुड के आमिर खान आज अपना 53वां जन्मदिन मना रहे हैं, मिस्टर परफेक्शनिश्ट को भला कौन नहीं जानता, देश के हर गांव और हर शहर में उनके दिवाने हैं। लेकिन आमिर को इतनी शोहरत यूं ही नहीं मिल गई, बल्कि इसके लिए उन्हें संर्घष करना पड़ा। इच्छाओं को साकार करने के लिए इंसान को आगे आना पड़ता है, उन इच्छाओं को गहरे मेहनत से सींचना होता है। यह बात आमिर ने कम उम्र में ही जान ली थी, यहीं कारण है कि उन्होंने कर्म को हमेशा बड़ा माना। 

हिंदूस्तान के हर घर में अपनी पहचान बना लेने वाले आमिर के बारे में कुछ बाते ऐसी भी हैं जो बहुत कम लोगो को मालुम है, शायद ऐसा इसलिए भी है कि आमिर ने हमेशा सादगी को महत्व दिया है और चमक-धमक से दूर रहना पसंद किया है। आज आमिर का जन्मदिन है, इसलिए हम उनके बारे में आपको कुछ ऐसी बाते बताने जा रहे हैं जो आपने संभवत: आप नहीं जानते होंगे। 

एक्टिंग सम्राट आमिर को कभी लॉन टेनिस से लगाव रह चुका है, स्कूल के दिनों में वो लॉन टेनिस शौकिन थे और स्कूली दिनों में घंटो बिना किसी परवाह के खेलते रहते थे। टेनिस का यह बुखार मात्र हॉबी बर नहीं था, बल्कि उन्होंने लॉन टेनिस खेल में अपने स्कूल को स्टेट लेवल चैंपियनशिप में रिप्रेजेंट भी किया था।   

आमिर खान ने अवंतर नाम का एक थियेटर ग्रुप ज्वॉइन किया था, इस ग्रुप में आमिर ने किसी एक्टर की तरह काम ना करके हेल्पर की तरह काम किया था। वो स्टेज के पीछे के सारे काम देखते थे और इस तरह उन्होंने वहां दो साल निकाल दिए। लेकिन यह थियेटर ग्रुप ही आमिर को एक्टिंग की तरफ लाने में कामयाब रहा और यहीं से आमिर के मन में एक्टर बनने की इच्छा जागी।

पहली फिल्म के रूप में आमिर ने एक डॉक्यूमेंट्री की थी, जिसका नाम  होली था। ये फिल्म स्टूडेंट्स ऑफ फिल्म एंड टेलीवीजन इंस्टीट्यूट के छात्रों ने बनाई थी। फिल्म में क्रेडिट के तौर पर आमिर का नाम आमिर हुसैन खान लिखा गया था। 

साल 1984 आमिर की जिंदगी में बदलाव भरा था, यहां से उनके जीवन में बहुत अहम मोड़ आए। इस साल आमिर की मुलाकत एक्ट्रेस रीना दत्ता से हुई और उसके बाद शुरू हुआ दोनो की दोस्ती ने साल 1986 में शादी का रूप ले लिया। आमिर खान की फिल्म कयामत से कयामत तक को कामयाब कहा गया, लेकिन उस कामयाबी के लिए मिस्टर परफेक्शनिश्ट को कितने पापड़ बेलने पड़े यह बात वो ही जानते हैं। 
फिल्म कयामत से कयामत तक को हिट कराने के लिए आमिर ने बसों और सड़कों पर जगह-जगह पोस्टर लगाने तक का काम किया था। आमिर ने ऑटो , रिक्शा और बस हर जगह पोस्टर लगाने का काम किया था। फिल्म को बाद में अच्छी सफलता मिली और कम बजट के होने पर भी कयामत से कयामत तक हिट हु्ई।

यह बात तो सबको मालुम है कि आमिर अवॉर्ड शोज में आना पसंद नहीं करते और वो अवॅार्ड शोज के अगेंस्ट है। लेकिन क्या आपको मालुम है कि इसके पीछे कारण क्या है? दरअसल अवॅार्ड शोज के प्रति आमिर का यह नजरिया साल 1990 में बना, उस अवॉर्ड फंक्शन में आमिर खान को बेस्ट एक्टर अवॉर्ड मिलने वाला था लेकिन बाद में नाम बदल दिया गया। अपने अवॅार्ड शोज से हाथ धोने पडने पर आमिर ने फिर अवॅार्ड शोज में जाना ही बंद कर दिया।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

जेल से चुनाव लड़ेगा \'शंभू\'! | Election Express

भाजपा का हाथ थम सकतें हैं विश्वेन्द्र सिंह? | Election Express
इंद्रेश का \'कैलाश\' में राम का \'संकल्प\' | Election Express
कांग्रेस में नहीं थमा CM फेस विवाद, अब बोले राहुल के करीबी भंवर जितेंद्र | Election Express
ट्रिपल तलाक़ के ज़रिए, सरकार का डबल अटैक | अध्यादेश मजबूरी या ज़रूरत ?
पुलिसकर्मी-अफसरों की 10 गुना तक बढ़ाई गई बीमा राशि
1st इंडिया न्यूज़ के चैनल हैड जगदीश चंद्र ने किया डांडिया महारास के पोस्टर का विमोचन
AICC चीफ राहुल गांधी कल फिर आएंगे राजस्थान, डूंगरपुर के सागवाड़ा में करेंगे जनसभा