देवेंद्र फडणवीस ने कहा, उपमुख्यमंत्री का फैसला शिव सेना करेंगी लेकिन मुख्यमंत्री पद वही रखेंगे

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/09/21 03:51

मुंबई: शिवसेना के साथ चुनाव लड़ने या नहीं लड़ने के सवाल से भी फडणवीस ने आशंकाओं के बादल दूर कर दिए. उन्होंने कहा कि हम शिवसेना के साथ चुनाव लड़ेंगे. फिलहाल सीट शेयरिंग पर बात चल रही है..महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों के ऐलान के साथ ही राजनीतिक दल अब अपनी-अपनी जीत के दावे करने लगे हैं. चुनाव शेड्यूल के ऐलान के बीच ही महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भरोसा जताया है कि वह एक बार फिर से सीएम के तौर पर लौटेंगे. उन्होंने कहा कि शिवसेना के साथ गठबंधन को लेकर मतभेदों पर कहा कि हम निश्चित तौर पर साथ लड़ेंगे. हालांकि उन्होंने सीएम पद की शिवसेना की मांग को लेकर कहा कि यह रिजर्व है, लेकिन वह डेप्युटी सीएम पर फैसला कर सकती है

शिवसेना सरकार की सहयोगी होते हुए भी बीजेपी की आलोचना करती है? इसके जवाब में फडणवीस ने कहा, 'अगर दोस्त पत्थर फेंके तो उसे फूल समझना चाहिए.अब तक शिवसेना महाराष्ट्र में बीजेपी के बराबर सीटों पर चुनाव लड़ने पर अड़ी थी, लेकिन अब 126 सीटों पर राजी होती दिख रही है. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी के कोटे में 162 सीटें जा सकती हैं, हालांकि अन्य छोटे सहयोगियों को भी वह अपने ही खाते से सीटें देगी। एक तरफ देवेंद्र फडणवीस ने वापसी का भरोसा जताया है तो कांग्रेस का कहना है कि जनता बीजेपी को सत्ता से बाहर करने की तैयारी में है. कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा, 'महाराष्ट्र में किसान परेशान हैं. आत्महत्या का दौर विकराल स्थिति में है। वे सरकार बदलने का इंतजार कर रहे हैं. हरियाणा में कानून व्यवस्था खत्म हो चुकी है. वहां भी लोग बीजेपी सरकार को बाहर का रास्ता दिखाने की तैयारी में हैं. इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने जब देवेंद्र फडणवीस से पूछा कि अगर आने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में उनकी सरकार बनती है तो क्या वे आदित्य ठाकरे को उपमुख्यमंत्री बनाएंगे.महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उन्हें शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे को उपमुख्यमंत्री बनाने पर ऐतराज नहीं है. लेकिन मुख्यमंत्री पद वही रखेंगे.

 सरकार में पिछले 5 साल के दौरान आई मुश्किलों पर भी फडणवीस ने राय रखी. उन्होंने कहा, मेरी सरकार को गिराने की काफी कोशिशें की गईं. लेकिन हमने सकारात्मकता से काम किया.
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in