VIDEO: धौलपुर के बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की हत्या की साजिश नाकाम, 4 आरोपी गिरफ्तार

VIDEO: धौलपुर के बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की हत्या की साजिश नाकाम, 4 आरोपी गिरफ्तार

धौलपुर: धौलपुर जिला पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत ने आज बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की हत्या की साजिश रचने के मामले में चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपियों में से एक आरोपी करीबन एक लाख के इनामी दस्यु केशव का सगा छोटा भाई है और तीन बदमाश उसके मौसेरे भाई बताए गए हैं. चारों बदमाश 26 जनवरी के आस पास जिले में दस्यु गैंग के साथ मिलकर बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की हत्या के साथ अन्य वारदातों को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे. 

धौलपुर पुलिस ने राजाखेड़ा इलाके से घेराबंदी कर दबोचा: 

चारों बदमाशों को तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर धौलपुर पुलिस ने राजाखेड़ा इलाके से घेराबंदी कर दबोच लिया है . आरोपियों से पुलिस ने सघनता से पूछताछ शुरू कर दी है , जिनसे बड़ी वारदातों के खुलासे हो सकते हैं पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पकड़े गए सभी बदमाश दस्यु केशब को जिले में बड़ी वारदातों को अंजाम देने को लेकर उकसा रहे थे जिसमें बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की हत्या की बात भी आरोपियों के द्वारा की जा रही थी. 1 लाख का इनामी डकैत केशव पुलिस का ध्यान भटकाने के लिए केशव का छोटा भाई और उसके तीनों मौसेरे भाइयों के द्वारा बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की हत्या की प्लानिंग भी की जा रही थी जिसका पता पुलिस की साइबर टीम के द्वारा लग  जाने के बाद सभी बदमाशों को लोकेशन के आधार पर राजाखेड़ा इलाके से धर दबोचा. 

दस्यु केशव गुर्जर की गिरफ्तारी को लेकर ताबड़तोड़ कार्रवाई: 

एसपी शेखावत ने बताया कि बीते दिनों दस्यु केशव गुर्जर की गिरफ्तारी को लेकर जिला पुलिस के द्वारा दिन रात लगातार की जा रही ताबड़तोड़ कार्यवाही से बदमाशों में दहशत है. इसी क्रम में 21 जनवरी 2021 की देर रात्रि को पुलिस को दस्यु केशव के प्यारे का पुरा थाना राजाखेड़ा में साजिश कर्ताओं के बीच आने की सूचना मिली थी. पुलिस ने साइबर टीम के माध्यम से मिली सूचना के आधार पर दबिश देकर बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की हत्या की साजिश रचने वाले चार साजिश कर्ताओं को दबोच लिया. पुलिस अधीक्षक ने खुलासा करते हुए बताया कि दस्यु केशव के पीछे पुलिस की लगातार सर्चिंग के पीछे बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा को मानते हुए उनकी हत्या की साजिश रची जा रही थी, जिससे उसके ऊपर से पुलिस का दबाव कुछ हद तक कम हो सके .

...फर्स्ट इंडिया के लिए विनोद तिवारी की रिपोर्ट 

 

और पढ़ें