खेत-खलिहान छोड़ सड़कों पर उतरे किसान, भरी हुंकार

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/09/25 01:29

श्रीगंगानगर। प्रदेश में अन्न का कटोरा कहलाने वाले श्रीगंगानगर के किसान अब सड़को पर उतरने को मजबूर हो चुके है। यहां के किसान सिंचाई पानी की मांग और फिरोजपुर फीडर के मरम्मत की मांग को लेकर आंदोलन की राह पर है। आज जिले भर के किसान एक जुट हुए और  जिला कलेक्ट्रेट के बाहर धरने पर बैठ गए है।  

किसानो का आरोप है की उनके हक का पानी उन्हें नही दिया जा रहा। किसानों की माने तो पंजाब से बहकर आनेवाली नहरो में पानी की कटौती हो रही है। किसानों तक 2200 क्यूसेक पानी सिंचाई के लिए दिया जाना चाहिए। फिरोजपुर फीडर की मरम्मत के लिए लगातार किसान मांग करते आ रहे है । साथ ही नहरों में आ रहे केमिकल युक्त पानी से भी यंहा की जनता को निजात मिलनी चाहिए क्योंकि इस केमिकल वाले पानी से लोग बीमार हो रहे है। लेकिन सरकार की तरफ से इस संबंध में कोई कदम नही उठाया जा रहा ।  

सरकार की बेरुखी का खामियाजा यहां की आम जनता और किसानो को भुगतना पड़ रहा है। यही वजह है की इलाके के किसानो ने अब अपने हक के लिए हुंकार भरी है।  वही कांग्रेसी नेता अशोक चांडक का कहना है कि सूबे की सरकार गौरव यात्रा निकाल रही है जबकि किसान और आमजन परेशान है ऐसे में वसुंधरा राजे को गौरव यात्रा निकालने की बजाय इन समस्याओं का निदान करना चाहिए। किसानों ने जिला कलेक्ट्रेट के बाहर महापड़ाव डाल दिया।  इसके साथ ही किसानो ने चेतावनी भी दी है अगर मांगे नही मानी गई तो आंदोलन को और बड़ा रूप दिया जाएगा

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Big Fight Live | \'सम्राट\' अशोक, \'पायलट\' सचिन\' | 14 DEC, 2018

राफेल डील: रणदीप सुरजेवाला ने की JPC जांच की मांग
राफेल पर मोदी सरकार को बड़ी राहत, राफेल सौदे पर कोई संदेह नहीं : CJI
संसद हमले की 17वीं बरसी पर शहीदों को देश कर रहा है याद
गजेंद्र सिंह शेखावत पहुंचे जयपुर, मीडिया से की खास बातचीत
मध्यप्रदेश में ही रहेंगे \'मामा\'
मणिपुर के जज के हिन्दू राष्ट्र वाले बयान पर सियासी घमासान
मध्यप्रदेश में कांग्रेस जीत गई लेकिन दिग्गज हार गए
loading...
">
loading...