वसुंधरा राजे की दो दिन की धार्मिक यात्रा का शुभारंभ, कहा-आपने अपार स्नेह दिया, मैं हृदय से इसके लिए आभारी हूं

वसुंधरा राजे की दो दिन की धार्मिक यात्रा का शुभारंभ, कहा-आपने अपार स्नेह दिया, मैं हृदय से इसके लिए आभारी हूं

जयपुर/भरतपुर: प्रदेश के भरतपुर जिले के पूछरी का लौठा में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की दो दिवसीय धार्मिक यात्रा की आज से शुरूआत हो गई हैं. वसुंधरा राजे 7 और 8 मार्च दो दिवसीय धार्मिक यात्रा पर रहेगी. इस मौके पर गिरिराज महाराज की जय के साथ वसुंधरा राजे का सम्बोधन शुरू हुआ. लंबे अरसे बाद वसुंधरा राजे पुराने अंदाज में नजर आई. राजे ने कहा कि आपने अपार स्नेह दिया, मैं हृदय से इस के लिए आभारी हूं. मेरे साथ आज का दिन बिताने का संकल्प लेकर आये हो. तीर्थ पर आई हूं तो परिवार के लोग भी आये हैं. जब आप सब साथ आये हो तो आज का तीर्थ पूरी तरह सफल रहेगा. ये धर्म नगरी है. 

पीएम मोदी का राम मंदिर निर्माण के लिए जताया आभार:
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का राम मंदिर निर्माण के लिए आभार जताया. राजे ने कहा कि एक सुखद संयोग है कि यहीं से पवित्र पत्थर राम मंदिर निर्माण के लिए जा रहा हैं. कृष्ण जी के क्षेत्र से मंदिर निर्माण का पत्थर जा रहा हैं. लोग मजाक करते थे कि ये जो काम करतीं भगवान के आशीर्वाद से करतीं, लेकिन भगवान के आशीर्वाद से बड़ा कुछ नहीं हैं. राजमाता साहब ने दीपक जलाया था, जिनकी रग रग में राष्ट्रवाद था. मैं उन्हीं राजमाता की बेटी हूं याद रखना. इस मौके पर वसुंधरा राजे ने अपने कार्यकाल की उपलब्धि बताई. बृज चौरासी कोस की विकास उपलब्धि बताई. 

राजे का हेलीपैड पर भव्य स्वागत:
वसुंधरा राजे ने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दो हिस्सों में बंटी सरकार को बाहर करने का काम करें, हमारे रुके कामों को पूरा करने का काम करेंगे. सभी साथ के यात्रा करेंगे. इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री राजे का हेलीपैड पर भव्य स्वागत किया गया. पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे 7 और 8 मार्च को बृज 84 कोस क्षेत्र में यात्रा कर रही हैं. अपने जन्मदिन के उपलक्ष्य में वसुंधरा राजे के दो दिवसीय धार्मिक आयोजनों के कार्यक्रम हैं. इस दौरान प्रदेशभर के वसुंधरा समर्थक,प्रशंशक और अन्य लोगो की इन आयोजनों में मौजूदगी रहेगी. राजे को लोग जन्मदिन की बधाई और शुभकामनाएं देंगे.

ये हैं दो दिवसीय धाार्मिक कार्यक्रम:
राजे सुबह 9:30 बजे हेलीकॉप्टर से पूछड़ी का लौठा के लिए जयपुर से रवाना हुईं. सड़क मार्ग से गोवर्धन गिरिराज मंदिर पहुंचकर 11:30 बजे पूजा अर्चना की. 11 बजकर 40 मिनट पर अभिषेक और पूजा के कार्यक्रम के बाद दानघाटी मंदिर मे 2:15 बजे का कार्यक्रम रखा गया है. सप्तकोशी परिक्रमा करने के बाद शाम 6 बजे आदि बद्रीनाथ मंदिर भरतपुर पहुँचेंगी. जहां पूजा अर्चना के कार्यक्रम हैं. दूसरे दिन सुबह 5:00 बजे आदि बद्रीनाथ मंदिर में मंगला आरती का कार्यक्रम होगा. दोपहर 12:30 बजे केदारनाथ मंदिर में दर्शन पूजा और भोज कार्यक्रम का आयोजन होगा. शाम 3:30 बजे केदारनाथ मंदिर से धौलपुर के लिए रवाना होंगी. उसके बाद हेलीकॉप्टर के जरिए वसुंधरा राजे धौलपुर पहुंच जाएंगी.

और पढ़ें