हमारे पास आक्रामक खेल दिखाने के अलावा कोई विकल्प नहीं था : मोर्गन

हमारे पास आक्रामक खेल दिखाने के अलावा कोई विकल्प नहीं था : मोर्गन

हमारे पास आक्रामक खेल दिखाने के अलावा कोई विकल्प नहीं था : मोर्गन

दुबई: कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कप्तान इयोन मोर्गन ने इंडियन प्रीमियर लीग के महत्वपूर्ण मैच में रणनीति के अनुसार खेल दिखाने पर खुशी व्यक्त करते हुए उनकी टीम राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में आक्रामकता के साथ खेलने उतरी थी क्योंकि उनके पास इसके अलावा कोई और रास्ता नहीं था.

कोलकाता के 192 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए रॉयल्स की टीम कमिंस (34 रन पर चार विकेट), शिवम मावी (15 रन पर दो विकेट) और वरूण चक्रवर्ती (20 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने नौ विकेट पर 131 रन ही बना सकी. नाइट राइडर्स ने मोर्गन की 35 गेंद में छह छक्कों और पांच चौकों की मदद से नाबाद 68 रन की पारी से सात विकेट पर 191 रन बनाये थे.

हम अधिक जोखिम उठाने के लिए तैयार थे: 
मोर्गन ने मैच के बाद कहा कि मैंने सोचा था कि 191 रन का स्कोर प्रतिस्पर्धी रहेगा. मुझे लगता है कि आउट होकर लौटे प्रत्येक बल्लेबाज ने कहा था कि विकेट बल्लेबाजी के लिए शानदार है. वैसे भी हम पूरी आक्रामकता के साथ खेलने के इरादे से उतरे थे क्योंकि इसके अलावा हमारे पास कोई रास्ता नहीं था. जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे तो अधिक जोखिम उठाने के लिए तैयार थे. मोर्गन ने कहा कि ओस उम्मीद से काफी पहले गिरने लगी जिससे रॉयल्स की टीम फायदे की स्थिति में नहीं रही. उन्होंने कहा कि ओस उम्मीद से काफी पहले गिरने लगी इसलिए वे फायदे की स्थिति में नहीं थे. 

पांच विकेट गंवाने के बाद जीत दर्ज कर पाना बेहद मुश्किल था- स्मिथ 
रॉयल्स के कप्तान स्टीव स्मिथ ने स्वीकार किया कि पावर प्ले में पांच विकेट गंवाने के बाद जीत दर्ज कर पाना बेहद मुश्किल था. स्मिथ ने कहा कि मुझे लगा कि यह 180 रन के आसपास का विकेट था. थोड़ी ओस थी. पावर प्ले में चार विकेट (पांच विकेट) गंवाने के बाद वहां से वापसी करना काफी मुश्किल था. कमिंस ने अच्छी लाइन और लेंथ के साथ गेंदबाजी की और हमें अच्छी गेंदों को भी खेलना पड़ा.

टूर्नामेंट का अंत दुर्भाग्यपूर्ण रहा:
उन्होंने कहा कि हमने काफी तेज शुरुआत की लेकिन इसके बाद काफी सारे विकेट एक साथ गंवा दिए. टूर्नामेंट का अंत दुर्भाग्यपूर्ण रहा. हमने काफी अच्छी शुरुआत की थी और इस मैच से पहले भी दो मैच जीते. बीच के चरण में हम राह से भटक गए. स्मिथ ने टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने वाले तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर और आलराउंडर राहुल तेवतिया की तारीफ की. उन्होंने कहा कि जोफ्रा ने लगभग सभी मैचों में शानदार प्रदर्शन किया. तेवतिया पूरे टूर्नामेंट के दौरान कुछ नया करता रहा लेकिन बाकी खिलाड़ी इनका साथ नहीं दे पाये. 

सोर्स- भाषा 

और पढ़ें