Live News »

अपहरण की बढ़ती वारदातें, सात साल के बच्चे का अपहरण विफल

अपहरण की बढ़ती वारदातें, सात साल के बच्चे का अपहरण विफल

जयपुर : राजधानी जयपुर इन दिनों अपराधियों की पनाहगार बना हुआ है दूसरे राज्यों के बदमाश जयपुर में डेरा ड़ालकर आपराधिक वारदातों को अंजाम दे रहे है.आज एक बार फिर जयपुर के जयसिंहपुरा भांकरोटा थाना इलाके से एक सात साल के बच्चे का अपहरण कर लिया गया.पुलिस की मुस्तैदी और तुरंत फुरंत कारवाही के चलते जब जयपुर में हर जगह नाकाबंदी करवाई गई तो अपहरणकर्ताओ ने डरकर बच्चे को सिविल लाइंस फाटक के पास छोड़ दिया.बच्चा सकुशल है लेकिन अब ज़रूरत है की आम जन सावधानी बरतें त्योहार के समय इस तरह की वारदातों की संख्या बढ़ जाती है.

ये भी जानिए,अपहरण किसे कहा जायेगा 
किसी नाबालिग लड़के, जिसकी उम्र सोलह साल से कम है या नाबालिग लड़की, जिसकी उम्र अट्ठारह साल से कम है, को उसके सरंक्षक की आज्ञा के बिना कहीं ले जाना अपहरण का अपराध है तथा इसके लिए अपराधी को सात साल की कैद और जुर्माना हो सकता है.अगर कोई बहला फुसला कर भी बच्चों को ले जाए तो कहने को तो बच्चा अपनी मर्जी से गया, लेकिन कानून में वह अपराध होगा

और पढ़ें

Most Related Stories

जयपुर एयरपोर्ट पर शुरू हुआ फ्लाइट संचालन, बेंगलुरु से जयपुर की फ्लाइट में आए 145 यात्री

जयपुर एयरपोर्ट पर शुरू हुआ फ्लाइट संचालन, बेंगलुरु से जयपुर की फ्लाइट में आए 145 यात्री

जयपुर: जयपुर एयरपोर्ट पर सोमवार से घरेलू फ्लाइट्स का संचालन शुरू हो गया है. सोमवार सुबह पहली फ्लाइट एयर एशिया एयरलाइन की जयपुर पहुंची. यह फ्लाइट संख्या I5-1720 बेंगलुरु से सुबह 8:45 बजे जयपुर पहुंची.

नए बदलावों का करना पड़ेगा सामना:
फ्लाइट में बेंगलुरु से 145 यात्री जयपुर आए. वहीं जयपुर से 23 यात्री इसी फ्लाइट से बेंगलुरु के लिए रवाना हुए. अब एयरपोर्ट पर आगमन के दौरान यात्रियों को कई नए बदलावों का सामना करना पड़ेगा. 

अब गाजियाबाद ने भी सील की दिल्ली बॉर्डर, सिर्फ इमरजेंसी सेवा और पास वालों को एंट्री

14 दिन का होम क्वॉरेंटाइन:
आगमन के समय यात्रियों का बॉडी टेंपरेचर लेने के साथ ही उनसे आवागमन व निवास की डिटेल ली जा रही है. साथ ही सभी यात्रियों को 14 दिन के लिए होम क्वॉरेंटाइन किया जा रहा है. 

सीकर में कोरोना विस्फोट, 30 नए केस आये सामने, जिला प्रशासन ने लोगों से की अपील, जरूरी हो तब ही घरों से निकले बाहर

Rajasthan Corona Updates: आज दोपहर तक 145 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, सर्वाधिक 50 मरीज अकेले पाली में चिन्हित

Rajasthan Corona Updates: आज दोपहर तक 145 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, सर्वाधिक 50 मरीज अकेले पाली में चिन्हित

जयपुर: राजस्थान में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. प्रदेश में आज दोपहर 2 बजे तक 145 नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. इसमें सर्वाधिक 50 मरीज अकेले पाली में चिन्हित किए गए हैं. इसके अलावा अलवर में 5, बाड़मेर में 5, भीलवाड़ा में 1, डूंगरपुर में 1, जयपुर में 12, जालोर 4, जोधपुर 17, कोटा 7, राजसमंद 2, सवाई माधोपुर 1, सीकर में 30, सिरोही में 9 और उदयपुर में 1 पॉजिटिव केस सामने आया है. ऐसे में अब पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़कर 7173 पहुंच गया है. 

कोरोना संक्रमण को लेकर नया खुलासा, इतने दिन के बाद संक्रमित से नहीं फैलता वायरस 

अब तक 163 लोगों की मौत:
राजस्थान में कोरोना से अब तक 163 लोगों की मौत हुई है. इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 82 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई. इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, पाली और नागौर में 6, भरतपुर और अजमेर में 5-5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है. वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई है.

पांच मिनट का वीडियो संदेश रिकॉर्ड करने संत ने लगाई फांसी, महिला ने लगाया था दुष्कर्म का आरोप  

रविवार को 286 नए रोगी मिले:
वहीं इससे पहले प्रदेश में रविवार को 286 नए रोगी मिले, जबकि जयपुर, पाली और चित्तौड़गढ़ में एक-एक मौत भी हुई. जयपुर के शहरी इलाकों के अलावा 13 गांवों में एकसाथ संक्रमण फैला. यहां सेंट्रल जेल और जिला जेल में क्रमश: 10 व 13 सहित 78 नए पॉजिटिव मिले. जोधपुर में मिले 35 नए रोगियों में रविवार को ही जन्मी बच्ची भी शामिल है. इसके अलावा राजसमंद में 24, उदयपुर में 21, अजमेर में 22, अलवर में 1, बाड़मेर में 6, भरतपुर में 6, भीलवाड़ा में 6, बीकानेर में 3, दौसा में 2, धौलपुर में 3, डूंगरपुर में 4, जैसलमेर में 4, झुंझुनूं में 3, कोटा में 6, नागौर में 47, पाली में 7, सीकर में 3, सिरोही में 3 नए रोगी मिले. इनके अलावा दो रोगी बाहरी राज्यों के हैं. 

जलती गर्मी में लू से बचने के लिए अपनाएं ये टिप्स

जलती गर्मी में लू से बचने के लिए अपनाएं ये टिप्स

जयपुर: गर्मी बढ़ने के साथ ही लोगों के पसीन छूटने लगे हैं. इस भयंकर गर्मी में लोगों के लिए खुद को हेल्दी बनाए रखना पहले से ज़्यादा जरूरी हो गया है. ऐसे में लोगों को लू के प्रति जागरूक होने की जरूरत है. लू का अगर समय रहते उपचार नहीं किया गया तो यह जानलेवा हो सकता है. लू लगने से सिरदर्द, थकान, चक्कर, शरीर में पानी की कमी और बुखार होने लगता है. व्यक्ति को भूख कम लगती है. इनके लक्षणों में उल्टी और बहुत अधिक पसीना भी शामिल हैं. ऐसे में आज हम आपको लू से बचने के कुछ उपाय बता रहे हैं...

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग 

-  शरीर को पूरी तरह से ढंक कर ही घर से बाहर निकलें और अपनी आंखों को भी धूप से बचाएं. 

- ठंडी जगह से निकलकर अचानक धूप में ना जाएं.

- अधिक से अधिक पानी पिएं और पानी से भरपूर फलों का सेवन करें.

- रोज़ाना खाने में कच्चे प्याज़ का इस्तेमाल करें अगर सफ़ेद प्याज़ का इस्तेमाल करें तो और बढ़िया होगा. 

- अधिक मात्रा में तरल पदार्थ पिएं.

- इसके अलावा सौंफ के बीज भी बड़े काम के साबित हो सकते हैं क्योंकि इसमें ठंडक देने वाले गुण होते हैं.

- नींबू नमक पानी, नारियल पानी आदि के जरिए पानी की पूर्ति करें.

- कटे हुए फल व सब्जियों के सेवन से बचे.

- कच्चे आम को उबालने की अपेक्षा उसे आग में भुनें और ठंडा होने पर उसका गूदा निकालकर उसमें जीरा, धनिया, चीनी, नमक, कालीमिर्च और पानी मिलाकर घोल बना लें. लू लगे व्यक्ति को पना का सेवन उसके ठीक होने तक करवाते रहें. 

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर 

पहली बार देश में घरों में हुई ईद की नमाज, जयपुर में कई परिवारों ने की एक साथ नमाज अदा

पहली बार देश में घरों में हुई ईद की नमाज, जयपुर में कई परिवारों ने की एक साथ नमाज अदा

जयपुर: राजधानी सहित प्रदेशभर में आज ईदुलफितर की नमाज अदा की गयी. लॉकडाउन के चलते केन्द्र और राज्य सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार मस्जिदों और ईदगाह में नमाज की इजाजत नहीं दी गयी है. ऐसे में प्रदेश में भी मुस्लिम समाज के लोगों ने अपने अपने घरों में ईद की नमाज अदा की. 

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज 

ईद की नमाज में बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक शामिल हुए: 
पहली बार घरों में हो रही ईद की नमाज में बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक शामिल हुए. लॉकडाउन के चलते इस बार घरों में भी रंग रोगन नहीं करवाए गये और ना नए कपड़ों, जूतों और अन्य सामान की खरीदारी हुई. लेकिन तमाम दिक्कतों के बीच ईद-उल-फितर पर सेवइयों की मिठास के साथ ही दस्तरख्वान पर परोसे जाने वाले व्यंजनों की फेहरिस्त जरूर तैयार हो गई है.   

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 72 पॉजिटिव केस आए सामने, राजस्थान में फिलहाल 3081 कोरोना के एक्टिव केस

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 72 पॉजिटिव केस आए सामने, राजस्थान में फिलहाल 3081 कोरोना के एक्टिव केस

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 72 पॉजिटिव केस आए सामने, राजस्थान में फिलहाल 3081 कोरोना के एक्टिव केस

जयपुर: राजस्थान में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा होता ही जा रहा है. पिछले 12 घंटे में 72 नए पॉजिटिव मामले सामने आए है. इसमें सर्वाधिक 25 केस अकेले पाली जिले में सामने आए हैं. इसके अलावा अलवर में 5, धौलपुर में 1, जयपुर में 11, कोटा में 7, सवाईमाधोपुर में 1 और सीकर में 22 पॉजिटिव मरीज मिले हैं. ऐसे में राजस्थान में अब पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़कर 7100 पहुंच गया है. वहीं अब तक इस वायरस की चपेट में आने से 163 लोगों ने दम तोड़ दिया है. 

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग 

राजस्थान में फिलहाल 3081 कोरोना के एक्टिव केस: 
दूसरी ओर राहत की खबर यह है कि प्रदेश में 3856 मरीज पॉजिटिव से नेगेटिव हो गए है. ऐसे में राजस्थान में फिलहाल 3081 कोरोना के एक्टिव केस है. इनमें से 1701 प्रवासी राजस्थानी शामिल है. राजस्थान में कोरोना से ठीक होने वालों की दर एक महीने में दोगुने से ज्यादा हो गई है. 

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज 

रविवार को 286 नए रोगी मिले:
वहीं इससे पहले प्रदेश में रविवार को 286 नए रोगी मिले, जबकि जयपुर, पाली और चित्तौड़गढ़ में एक-एक मौत भी हुई. जयपुर के शहरी इलाकों के अलावा 13 गांवों में एकसाथ संक्रमण फैला. यहां सेंट्रल जेल और जिला जेल में क्रमश: 10 व 13 सहित 78 नए पॉजिटिव मिले. जोधपुर में मिले 35 नए रोगियों में रविवार को ही जन्मी बच्ची भी शामिल है. इसके अलावा राजसमंद में 24, उदयपुर में 21, अजमेर में 22, अलवर में 1, बाड़मेर में 6, भरतपुर में 6, भीलवाड़ा में 6, बीकानेर में 3, दौसा में 2, धौलपुर में 3, डूंगरपुर में 4, जैसलमेर में 4, झुंझुनूं में 3, कोटा में 6, नागौर में 47, पाली में 7, सीकर में 3, सिरोही में 3 नए रोगी मिले. इनके अलावा दो रोगी बाहरी राज्यों के हैं. 

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग

 आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग

जयपुर: हिंदू कैलेंडर के अनुसार हर साल ज्येष्ठ महीने में सूर्य रोहिणी नक्षत्र में आ जाता है. जिससे गर्मी बढ़ने लगती है.  इस बार ज्येष्ठ महीने के शुक्लपक्ष की तृतीया तिथि यानी 25 मई को सूर्य कृतिका से रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करेगा और 8 जून तक इसी नक्षत्र में रहेगा. सूर्य के नक्षत्र बदलते ही नौतपा शुरू हो जाएगा. यानी 9 दिनों तक तेज गर्मी रहेगी. इसकी वजह यह है कि इस दौरान सूर्य की लंबवत किरणें धरती पर पड़ती हैं. लेकिन इस बार शुक्र तारा अस्त होने से इसका प्रभाव कम रहेगा. 

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज 

नौतपा के दौरान महिलाएं हाथ पैरों में मेहंदी लगाती हैं:
परंरपरा के अनुसार नौतपा के दौरान महिलाएं हाथ पैरों में मेहंदी लगाती हैं. क्योंकि मेहंदी की तासीर ठंडी होने से तेज गर्मी से राहत मिलती है. इन दिनों में पानी खूब पिया जाता है और जल दान भी किया जाता है ताकि पानी की कमी से लोग बीमार न हो. इस तेज गर्मी से बचने के लिए दही, मक्खन और दूध का उपयोग ज्यादा किया जाता है. इसके साथ ही नारियल पानी और ठंडक देने वाली दूसरी और भी चीजें खाई जाती हैं. 

25 मई से 2 जून तक रहेगा नौतपा: 
25 मई को सुबह करीब 8.10 पर सूर्यदेव रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करेंगे. सूर्य जब रोहिणी नक्षत्र में होकर वृष राशि के 10 से 20 अंश तक रहता है तब नौतपा होता है. इस नक्षत्र में सूर्य करीब 15 दिनों तक रहेगा. लेकिन शुरुआती 9 दिनों में गर्मी बहुत बढ़ जाती है.  इसलिए इन 9 दिनों के समय को ही नौतपा कहा जाता है. ये समय 25 मई से 2 जून तक रहेगा. इसके अलावा ज्येष्ठ महीने के शुक्लपक्ष में चंद्रमा जब आर्द्रा से स्वाती तक 10 नक्षत्रों में रहता हो तो नौतपा होता है. रोहिणी के दौरान बारिश हो जाती है तो इसे रोहिणी नक्षत्र का गलना भी कहा जाता है. 

आखिरी दो दिन तेज हवा-आंधी चलने व बारिश होने के भी योग:
इस बार नौतपा के दौरान 31 मई को शुक्र ग्रह वक्री होकर अपनी ही राशि में अस्त हो जाएगा और सूर्य के साथ रहेगा. रोहिणी नक्षत्र का का स्वामी ग्रह चंद्रमा है. सूर्य के साथ शुक्र भी वृषभ राशि में रहेगा. शुक्र रस प्रधान ग्रह है, इसलिए वह गर्मी से राहत भी दिलाएगा. इसलिए देश के कुछ हिस्सों में बूंदाबांदी और कुछ जगहों पर तेज हवा और आंधी-तूफान के साथ बारीश होने की संभावना ज्यादा है. नौतपा के आखिरी दो दिन तेज हवा-आंधी चलने व बारिश होने के भी योग बन रहे हैं. वराहमिहिर के बृहत्संहिता ग्रंथ में ने बताया है कि ग्रहों के अस्त होने से मौसम में बदलाव होता है. 

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर 

देश के रेगिस्तानी और पर्वतीय इलाकों में ज्यादा बारीश की संभावना:
इस साल संवत्सर के राजा बुध है और रोहिणी का निवास संधि में है. इससे बारीश तो समय पर आ जाएगी लेकिन कहीं पर ज्यादा तो कहीं पर कम बारिश हो सकती है. इस बार देश के रेगिस्तानी और पर्वतीय इलाकों में ज्यादा बारीश हो सकती है. बारीश के कारण अनाज और धान की पैदावार अच्छी रहेगी. धान्य, दूध व पेय पदार्थों में तेजी रहेगी. जौ, गेहूं, राई, सरसों, चना, बाजरा, मूंग की पैदावार आशानुकूल होगी. 

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज

जयपुर: कोरोना महामारी के बीच लॉकडाउन की बंदिशों के साथ आज जयपुर सहित प्रदेशभर में ईदुल फितर ईद की नमाज अदा की गयी. जयपुर की स्थापना के बाद ये पहला मौका है जब इस गुलाबीशहर में ईद की सामुहिक नमाज नही हुई. दिल्ली रोड़ स्थित ईदगाह में चीफ काजी और जौहरी बाजार स्थित जामा मस्जिद में मौलना मुफती अमजद अली ने ईद की नमाज अदा करायी. 

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर 

5-5 नमाजियों को नमाज की अनुमति दी गयी थी: 
दोनों ही जगहों पर प्रशासन की ओर से केवल 5—5 नमाजियों को नमाज की अनुमति दी गयी थी. प्रशासन की गुजारिश पर ईदगाह में सुबह 6 बजे तो वही जामा मस्जिद में सुबह सवा 6 बजे नमाज अदा करायी गयी. नमाज के बाद मुल्क और मुल्म की अवाम को कोरोना से निजात के लिए खास दुआ भी की गयी. वहीं नमाज के नमाजियों ने मौके पर मौजुद पुलिसकर्मियों को ईद की मुबारकबाद देते हुए उनके जज्बे लिए सलाम किया.

आज शुरू हुईं घरेलू उड़ान सेवा, इन दो राज्यों को छोड़कर पूरे देश में संचालन बहाल 

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर

जयपुर: सादुलपुर थाने के एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई का सुसाइड केस मामले की सीबीआई जांच की मांग को लेकर राजस्थान हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर हुई है. याचिका में पूरे मामले की सीबीआई या एसआईटी से जांच करवाने की मांग की गई है. 

आज शुरू हुईं घरेलू उड़ान सेवा, इन दो राज्यों को छोड़कर पूरे देश में संचालन बहाल 

पूरे मामले की जांच सीबीआई से होनी जरूरी:  
याचिकाकर्ता अधिवक्ता सोनिया गिल का कहना है पूरे मामले की जांच सीबीआई से होनी जरूरी है ताकि राजनीतिक दवाब के बिना सच्चाई सामने आ सके. इसी के साथ एसएचओ पर दवाब बनाने वाले पुलिस अधिकारियों, राजनीतिक व्यक्तियों पर कार्रवाई करने की मांग की गई है. याचिका में गिल ने पुलिस अधिकारियों, कांस्टेबलों की समस्याओं के निस्तारण के लिए भी आवश्यक कदम उठाया उठाने की भी गुहार लगायी है. 

राजकीय सम्मान के साथ हुआ SHO विष्णुदत्त विश्नोई का अंतिम संस्कार, नम आंखों से हजारों लोगों ने दी अंतिम विदाई

Open Covid-19