World Environment Day 2021: स्वच्छ पर्यावरण प्रत्येक प्राणी के जीवन के लिए आवश्यक, हमें कोरोना महामारी के दौरान हुआ इसका आभास - CM गहलोत

World Environment Day 2021: स्वच्छ पर्यावरण प्रत्येक प्राणी के जीवन के लिए आवश्यक, हमें कोरोना महामारी के दौरान हुआ इसका आभास - CM गहलोत

World Environment Day 2021: स्वच्छ पर्यावरण प्रत्येक प्राणी के जीवन के लिए आवश्यक,  हमें कोरोना महामारी के दौरान हुआ इसका आभास - CM गहलोत

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day 2021) के अवसर पर कहा कि स्वच्छ पर्यावरण प्रत्येक प्राणी के जीवन के लिए आवश्यक है. यह बात सदियों से हमारे पूर्वज मानते और अपनाते रहे हैं. 

उन्होंने शनिवार को ट्वीट करते हुए लिखा कि स्वच्छ पर्यावरण प्रत्येक प्राणी के जीवन के लिए आवश्यक है. यह बात सदियों से हमारे पूर्वज मानते और अपनाते रहे हैं. परन्तु समय के साथ विकास की महत्त्वाकांक्षा में मानव जाति ने पर्यावरण को बहुत हानि पहुँचाई. जिसका आभास हमें कोरोना महामारी के दौरान हुआ है. 

मुख्यमंत्री गहलोत ने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि हमें स्वच्छ पर्यावरण को पुनः स्थापित करना होगा. कोरोना से जंग हम तभी जीत पाएंगे जब हम स्वच्छ पर्यावरण में प्रकृति के संग रहेंगे. 

विश्व पर्यावरण दिवस का इतिहास:
आपको बता दें कि दुनियाभर में 5 जून के दिन हर साल विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है.  विश्व पर्यावरण दिवस की शुरुआत साल 1972 में संयुक्त राष्ट्र संघ की और से की गई थी. पर्यावरण दिवस की शुरुआत स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम से हुई थी. इसी दिन यहां पर दुनिया का पहला पर्यावरण सम्मेलन का आयोजन किया गया था. जिसमें भारत की ओर से तात्कालिन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने भाग लिया था. 

लोगों को समय-समय पर जागरुक किया जा सके:
इस सम्मेलन के दौरान ही संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) की भी नींव पड़ी थी. जिसके चलते हर साल विश्व पर्यावरण दिवस आयोजन का संकल्प लिया गया. जिससे लोगों को हर साल पर्यावरण में हो रहे बदलाव से अवगत कराया जा सके और पर्यावरण में संतुलन बनाए रखने के लिए लोगों को समय-समय पर जागरुक किया जा सके.

और पढ़ें