जयपुर Karauli Violence: करौली जिला बॉर्डर पर रोकी गई भाजपा की न्याय यात्रा, सड़क पर धरने पर बैठे भाजपा के कार्यकर्ता

Karauli Violence: करौली जिला बॉर्डर पर रोकी गई भाजपा की न्याय यात्रा, सड़क पर धरने पर बैठे भाजपा के कार्यकर्ता

जयपुर: करौली हिंसा मामले को लेकर बीजेपी लगातार गहलोत सरकार पर हमलावर है. इसी कड़ी में बीजेपी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या, सतीश पूनिया, सासंद रंजीता कोली और सांसद मनोज राजोरिया भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ करौली जा रहे थे लेकिन इस दौरान पुलिस ने न्याय यात्रा को करौली बॉर्डर पर रोक दिया. इससे आक्रोशित भाजपा के हजारों कार्यकर्ता सड़क पर धरने पर बैठ गए. उनका कहना है कि जब तक करौली नहीं जाने दिया जाएगा देर रात तक धरने पर बैठें रहेंगे. 

इससे पहले करीब आधा घंटा पुलिस एवं भाजपा कार्यकर्ताओं में आपस में मशक्कत चलती रही. भाजपा कार्यकर्ता सड़क पर बैठकर जय श्री राम एवं वंदे मातरम के उद्घोष लगाने लगे. बीजेपी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या बोले, करौली के लोगों को न्याय दिलाने किसी भी सूरत में पहुंचेंगे. करौली जिला बॉर्डर पर आईपीएस, आरपीएस एवं लगभग 700 पुलिस जवान तैनात हैं. 

भाजपा के कई बड़े नेता इस न्याय यात्रा में शामिल हुए:
आपको बता दें कि तेजस्वी सूर्या का बुधवार को करौली हिंसा पीड़िता हिंदू परिवारों से मुलाकात करने का कार्यक्रम था. भाजपा के कई बड़े नेता इस न्याय यात्रा में शामिल हुए. हालांकि, न्याय यात्रा को रोकने से बवाल हो गया है. पुलिस कुछ लोगों को ही करौली जाने की अनुमति देने की बात कह रही है. जबकि भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया सभी कार्यकर्ताओं को साथ ले जाने की बात पर अड़े हुए हैं. बता दें कि करौली में 14 अप्रैल तक कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है. 

और पढ़ें