इस्लामाबाद करतारपुर कॉरिडोर: PAK पीएम इमरान ने कहा, उद्घाटन के दिन शुल्क नहीं लेंगे और 10 दिन पहले पंजीकरण की अनिवार्यता की समाप्त

करतारपुर कॉरिडोर: PAK पीएम इमरान ने कहा, उद्घाटन के दिन शुल्क नहीं लेंगे और 10 दिन पहले पंजीकरण की अनिवार्यता की समाप्त

करतारपुर कॉरिडोर: PAK पीएम इमरान ने कहा, उद्घाटन के दिन शुल्क नहीं लेंगे  और 10 दिन पहले पंजीकरण की अनिवार्यता की समाप्त

इस्लामाबाद : करतारपुर आनेवाले तीर्थयात्रियों से शुल्क वसूलने के फैसले को लेकर पाकिस्तान सरकार की आलोचना के बाद अब पीएम इमरान खान ने एक दिन के लिए छूट देने की घोषणा की है.करतारपुर साहिब गुरुद्वारे की यात्रा को लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बड़ा फैसला किया है. इमरान खान ने ट्वीट करके कहा है कि भारत से करतारपुर की तीर्थयात्रा के लिए आने वाले सिखों के लिए मैंने 2 छूट दी हैं. पहली, उन्हें पासपोर्ट की आवश्यकता नहीं होगी - बस एक वैध आईडी  लेकर आना होगा. दूसरा, उन्हें अब 10 दिन पहले पंजीकरण नहीं करना होगा. साथ ही, करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन वाले दिन और गुरुजी के 550 वें जन्मदिन पर कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा. करतारपुर गलियारे से पाकिस्तान को हर महीने करीब 30 लाख डॉलर तक की कमाई हो सकती है. 12 नवंबर को गुरु नानक का 550वां प्रकाश पर्व मनाया जाएगा.सिखों के प्रथम गुरु गुरुनानक देव ने करतारपुर साहिब में अपने जीवन के 18 साल बिताए. श्री करतापुर साहिब गुरुद्वारे को पहला गुरुद्वारा माना जाता है जिसकी नींव गुरु नानक देव ने रखी थी.

9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन किया जाएगापाकिस्तान यात्रियों से 20 डॉलर (करीब 1400 रुपये) सेवा शुल्क वसूलने पर अड़ा हुआ है.केंद्र सरकार ने करतारपुर साहिब जाने वाले पहले जत्थे की सूची जारी कर दी है.पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी उन 575 लोगों में शामिल हैं जो करतारपुर गलियारे के जरिये पाकिस्तान में गुरुद्वारा दरबार साहिब जाने वाले पहले जत्थे का हिस्सा होंगे.

और पढ़ें