तत्काल मिलेगा एनआरआई को आधार कार्ड, 180 दिन इंतजार से मिली छुट्टी , पीएम के अमेरिका रवाना होने से पहले हुई घोषणा

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/09/21 05:34

नई दिल्ली: भारतीय पासपोर्ट धारक अनिवासी भारतीयों को अब अपना आधार कार्ड बनवाने के लिए 180 दिन इंतजार नहीं करना होगा.अब अनिवासी भारतीय तुरंत प्रभाव से आधार कार्ड हासिल कर सकेंगे.अप्रवासी भारतीय (NRI's) विश्व के तमाम मुल्कों में भारत का परचम लहराए हुए हैं ना सिर्फ विजनेस बल्कि राजनीति से लेकर अन्य क्षेत्रों में ये इंडिया की अलग ही पहचान बनाए हुए हैं ये एनआरआई विदेश में कामयाब होने के बाद अपने देश भारत के लिए बहुत कुछ करना चाहते हैं और करते भी हैं

केंद्र सरकार ने अनिवासी भारतीयों को तत्काल आधार कार्ड उपलब्ध कराने के संबंध में अधिसूचना भी जारी कर दी हैमोदी सरकार ने अब इनकी सुविधा के लिए एक बड़ा कदम उठाया है सरकार ने अब अप्रवासी भारतीय को भारत आने के बाद आधार कार्ड (Aadhar Card) तुरंत ही जारी करने के निर्देश दिए हैं पहले इसके लिए उनको करीब 180 दिनों का इंतजार करना पड़ता था सरकार ने NRI को भारत आने के बाद अपना आधार नंबर प्राप्त करने की मंजूरी दे दी है केंद्रीय बजट 2019 में, भारत आने के बाद भारतीय पासपोर्ट रखने वाले अनिवासी भारतीयों को आधार कार्ड जारी करने का प्रस्ताव किया गया था

सरकार ने अप्रवासी भारतीय को भारत आने के बाद अपना आधार नंबर प्राप्त करने की मंजूरी दे दी है वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने केंद्रीय बजट 2019 में भारत में आने के बाद अप्रवासी भारतीयों के पास आधार कार्ड जारी करने का प्रस्ताव किया गौरतसब है कि पहले एनआरआई को आधार कार्ड प्राप्त करने में 180 दिन लगते थे

20 सितंबर,2019 को सरकार ने इसके लिए एक गजट अधिसूचना जारी की है इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की अधिसूचना के अनुसार, दिनांक 20 सितंबर, 2019, 'केंद्र सरकार ने यह सूचित किया कि एक गैर-निवासी भारतीय, भारत आने के बाद एक आधार संख्या प्राप्त करने का हकदार होगा।' यह अधिसूचना आधिकारिक राजपत्र में प्रकाशन की तिथि से लागू होगीकेंद्र सरकार के इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि अनिवासी भारतीय भारत आने पर आधार कार्ड प्राप्त कर सकेंगे। हालांकि यह नियम उन अनिवासी भारतीयों के लिए लागू होगा जिनके पास वैध भारतीय पासपोर्ट है

यह एनआरआई को केवाईसी को जल्दी से पता करने में सक्षम बनाएगा और देश के भीतर वित्तीय लेनदेन करने के लिए कार्ड का उपयोग करेगा. इसके अलावा, यह उन्हें आयकर रिटर्न (ITR) दाखिल करने के लिए आधार कार्ड नंबर का उपयोग करने की सुविधा प्रदान करेगा

 इस अधिसूचना से पहले, प्रत्येक निवासी नामांकन की प्रक्रिया से गुजरकर अपनी जनसांख्यिकीय जानकारी और बायोमेट्रिक जानकारी जमा करके आधार संख्या प्राप्त करने का हकदार था.यह नियम अधिसूचना जारी होने की तारीख यानि 20 सितंबर से तत्काल प्रभाव से लागू होगा

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in