close ads


पाक प्रधानमंत्री इमरान खान का इस्लामिक कार्ड फेल, पाकिस्तान के लिए करारा झटका, सऊदी का कश्मीर पर भारत को समर्थन

पाक प्रधानमंत्री इमरान खान का इस्लामिक कार्ड फेल, पाकिस्तान के लिए करारा झटका, सऊदी का कश्मीर पर भारत को समर्थन

नई दिल्ली:जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को मोदी सरकार ने खत्म कर दिया है. जिसके बाद देश-विदेश में भी इस फैसले का समर्थन किया जा रहा है. जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने और राज्य के पुनर्गठन को लेकर सऊदी अरब ने भारत का समर्थन किया है. कश्मीर को लेकर बौखलाहट में इस्लामिक कार्ड खेलने वाले पाकिस्तान के लिए यह करारा झटका है. 

दुनिया भर में प्रमुख इस्लामिक ताकत माने जाने वाले सऊदी अरब का समर्थन हासिल करना भारत के लिए बड़ी कूटनीतिक जीत है.सूत्रों के मुताबिक बुधवार को भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के बीच रियाद में हुई दो घंटे की मीटिंग में सऊदी अरब ने अपनी यह राय दी इस मीटिंग के दौरान दोनों देशों के बीच कई अहम द्विपक्षीय मसलों पर बातचीत हुई.उन्होंने कहा, 'इस बातचीत में जम्मू-कश्मीर का मसला भी उठा.

इस मसले पर सऊदी क्राउन प्रिंस ने कहा कि हम जम्मू-कश्मीर में भारत की ओर से उठाए गए कदमों को समझते हैं.बता दें कि भारत ने बीते 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने का फैसला लिया था और सूबे को दो अलग हिस्सों में बांटने का प्रस्ताव भी पारित हुआ.पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने हाल ही में सऊदी अरब का दौरा किया था.

पाकिस्तान के दौरे के बावजूद भी सऊदी अरब की ओर से भारत का समर्थन किया जाना, उसके लिए बड़ा झटका है  बीते 5 वर्षों में पीएम नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने सऊदी अरब से संबंधों को सुधारने के लिए भरसक प्रयास किए हैं. इसके चलते सऊदी अरब सुरक्षा और इंटेलिजेंस जैसे मामलों में भी भारत के साझीदार के तौर पर सामने आया है

और पढ़ें