Panchayati Raj Election 2020: दूसरे चरण की वोटिंग खत्म, 15334 उम्मीदवारों ने आजमाई किस्मत 

Panchayati Raj Election 2020: दूसरे चरण की वोटिंग खत्म, 15334 उम्मीदवारों ने आजमाई किस्मत 

Panchayati Raj Election 2020: दूसरे चरण की वोटिंग खत्म, 15334 उम्मीदवारों ने आजमाई किस्मत 

जयपुर: पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के लिए वोटिंग खत्म हो गई है. मतदान खत्म होने के बाद भी कई मतदान केंद्रों पर लंबी कतार लगी हुई है. ऐसे में अब मतदान केंद्र के अंदर मौजूद मतदाता ही अपने मत का प्रयोग कर रहे हैं. वहीं पंचायत चुनाव में आज अलग-अलग रंग भी देखने को मिले. बुजुर्ग मतदाओं के साथ आधी आबादी का जज्बा भी देखने लायक रहा. 

घूंघट में मताधिकार का इस्तेमाल: 
मतदाताओं ने गांव की सरकार चुनने के लिए पंचायत चुनाव बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया. इस दौरान कहीं हुड़दंग हुआ तो कहीं वोटों का बहिष्कार भी देखने को मिला. गांव की सरकार चुनने में ग्रामीण महिलाएं घूंघट में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करती नजर आई. सुबह ही मतदान केंद्रों पर महिलाओं की लंबी कतार देखने को मिली. 

दूसरे चरण के 25 जिलों में 21 सरपंच निर्विरोध:
दूसरे चरण की 74 पंचायत समितियों की 2312 ग्राम पंचायतों के 15127 वार्डों में मतदान करवाया गया. इन 74 पंचायत समिति क्षेत्र में कुल 77 लाख 56 हजार 416 मतदाताओं अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. इनमें से 40 लाख 13 हजार 220 पुरुष और 37 लाख 43 हजार 174 महिलाएं व 22 अन्य मतदाता शामिल हैं. सरपंच पदों के लिए मतगणना आज ही करवाई जाएगी. उप सरपंच के लिए चुनाव 23 जनवरी को करवाया जाएगा. दूसरे चरण के 25 जिलों में 21 सरपंच और 7 हजार 466 पंच निर्विरोध चुन लिए गए हैं. इस चरण में 74 पंचायत समितियों की 2333 ग्राम पंचायतों में सरपंच पदों के लिए 24 हजार 924 उम्मीदवारों ने 25 हजार 9 नामांकन पत्र दाखिल किए. जांच के बाद इनमें से 24 हजार 383 नामांकन वैध पाए गए. नाम वापसी की तिथि तक इनमें से 9 हजार 28 उम्मीदवारों ने अपने नाम वापस ले लिए. दूसरे चरण के 25 जिलों में 21 सरपंच निर्विरोध चुन लिए गए हैं. इस तरह दूसरे चरण में सरपंच पद के लिए कुल 15 हजार 334 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमाई. 

7 हजार 466 पंच निर्विरोध:
इसी तरह पंच पद के लिए प्रदेश के 25 जिलों की 2333 ग्राम पंचायतों के 22 हजार 593 वार्डों में 66 हजार 647 उम्मीदवारों ने 66 हजार 696 नामांकन दाखिल किए. जांच के बाद 64 हजार 751 उम्मीदवारों के नामांकन वैध पाए गए. इन प्रत्याशियों में से 13 हजार 909 उम्मीदवारों ने नाम वापसी के दिन अपने नाम वापस ले लिए. प्रदेश भर में 7 हजार 466 पंच निर्विरोध चुन लिए गए हैं. 43 हजार 376 उम्मीदवार पंच पद के लिए मैदान में रहे. 

11 हजार से ज्यादा ईवीएम मशीनों से चुनाव:
दूसरे चरण के चुनाव में 11 हजार से ज्यादा ईवीएम से चुनाव करवाए गए. सभी संस्थाओं के चुनाव में लगभग 30 प्रतिशत मशीनें रिजर्व में रखी गई. चुनाव के दौरान मशीनों में किसी भी तरह की परेशानी आने पर प्रत्येक जिले में भारत इलेक्ट्रोनिक्स लिमिटेड और इलेक्ट्रोनिक्स कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के इंजीनियर्स हर समय उपलब्ध रहे. मशीनों की देखरेख के लिए इंजीनियर्स 10 जनवरी से ही जिलों में पहुंच गए थे. 

और पढ़ें