जयपुर Rajasthan Budget 2021: कोरोना के बीच हेल्थ सेक्टर को बड़ी डोज, चिकित्सा सेवाओं पर केन्द्रीत रहा सीएम गहलोत का बजट 3.3

Rajasthan Budget 2021: कोरोना के बीच हेल्थ सेक्टर को बड़ी डोज, चिकित्सा सेवाओं पर केन्द्रीत रहा सीएम गहलोत का बजट 3.3

Rajasthan Budget 2021: कोरोना के बीच हेल्थ सेक्टर को बड़ी डोज, चिकित्सा सेवाओं पर केन्द्रीत रहा सीएम गहलोत का बजट 3.3

जयपुर: पिछले एक साल से कोरोना महामारी की जंग लड़ रहे हेल्थ सेक्टर को सीएम गहलोत ने राहत की बड़ी डोज दी.गहलोत ने अपने तीसरे कार्यकाल के तीसरे बजट में चिकित्सा विभाग के लिए बड़ा पिटारा खोलते हुए 3500 करोड़ की यूनिवर्सल हैल्थ योजना की घोषणा की.इसके अलावा जनस्वास्थ्य बीमा योजना, निशुल्क जांच-दवा योजना का दायरा बढ़ाने के साथ ही प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र से लेकर मेडिकल कॉलेजों तक में इंफ्रास्ट्रक्चर को मजूबत करने की दिशा में भी बड़े प्रावधान किए.चिकित्सा शिक्षा व आयुष को मजबूती देने के लिए भी कई घोषणाएं बजट में की गई है.आपको बताते है कि आखिर एकसाल में मेडिकल क्षेत्र में क्या-क्या नया होने वाला है.

कैशलेस इलाज की सुविधा होगी उपलब्ध:
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बजट घोषणाओं में राजधानी जयपुर समेत बड़े शहरों की चिकित्सा व्यवस्थाओं को विकसित करने के साथ-साथ गांव-ढाणियों तक में बेहतर चिकित्सा मुहैया कराने का संकल्प साफ नजर आया है.राइट टू हेल्थ को लेकर भले ही अभी बिल पारित नहीं हुआ हो, लेकिन सरकार ने 3500 करोड़ की यूनिवर्सल हैल्थ योजना की घोषणा कर हर परिवार को बडी राहत दी है.योजना के तहत राज्य के प्रत्येक परिवार को 5 लाख रुपए की चिकित्सा बीमा योजना का लाभ मिलेगा.इसके तहत कैशलेस इलाज की सुविधा उपलब्ध होगी.

गहलोत का हेल्थ बजट:
-बजट में दिखी "पहला सुख निरोगी काया" की सोच
-सीएम गहलोत बजट 3.3
-प्रदेश में लागू होगा राजस्थान मॉडल ऑफ पब्लिक हेल्थ
-यह मॉडल के तहत प्रीवेंटिव केयर, प्राइमरी केयर और
-क्यूरेटिव केयर डब्ल्यूएचओ की भावना के अनुरूप लागू किया जाएगा
-मेडिकल के बाद अब हर जिले में नर्सिंग कॉलेज

गहलोत सरकार का हेल्थ बजट !:
-फिलहाल आठ जिला मुख्यालय पर है नर्सिंग कॉलेज
-शेष बचे 25 जिला मुख्यालय पर खुलेंगे नर्सिंग कॉलेज
-पहले चरण में बाड़मेर, भरतपुर, भीलवाड़ा, धौलपुर, पाली
-करौली, सीकर जिलों में खोले जाएंगे नर्सिंग कॉलेज
-सीएम गहलोत ने रखा पब्लिक हेल्थ पर विशेष फोकस
-संभाग मुख्यालयों पर पब्लिक हेल्थ कॉलेज की घोषणा
-सभी सातों संभाग मुख्यालयों पर खोले जाएंगे कॉलेज

जनता की योजना, निशुल्क जांच योजना:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट !
-बजट में निशुल्क जांच योजना का बढ़ाया गया दायरा
-प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर 15 से बढ़ाकर 61,
-सीएचसी पर 37 से बढ़ाकर 95, उपजिला अस्पताल में 56 से बढा़कर 109
-जिला अस्पताल में 56 से बढ़ाकर अब 133 की गई है जांचें

निरोगी राजस्थान का सपना होगा साकार:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट 
-महात्मा गांधी चिकित्सालय भीलवाड़ा में 205 बैड क्षमता
-इसके लिए 71 करोड़ रुपए का रखा गया प्रावधान
-कल्याण राजकीय सीकर चिकित्सालय में भी 300 बैड का नया भवन
-90 करोड़ रुपए की लागत से तैयार होगा यह भवन

चिकित्सा राज्य मंत्री सुभाष गर्ग के गृहक्षेत्र में चिकित्सा सौंगात:
-बजट में भरतपुर जिले के लिए बड़ी चिकित्सा घोषणाएं
-आरबीएम चिकित्सालय भरतपुर में 250 बैड का नवीन भवन
-87 करोड़ की लागत से तैयार किया जाएगा यह भवन
-इसके अलावा भरतपुर में ही सुपर स्पेशिलिटी जैसे न्यूरोलॉजी,
-यूरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, कार्डियोलॉजी विभाग की होगी शुरूआत

हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर पर बजट में विशेष फोकस:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट !
-पाली जिला अस्पताल में 145 करोड़ की लागत से 380 बैड क्षमता
-चूरू जिला अस्पताल में 129 करोड़ की लागत से 370 बैड क्षमता
-बाडमेर जिला अस्पताल में 126 करोड़ की लागत से 360 बैड क्षमता
-इन बैड क्षमताओं को विकसिक करने के लिए बनेंगे भवन

गहलोत सरकार का हेल्थ बजट :
-जोधपुर मथुरादास माथुर चिकित्सालय में नवीन डायग्नोस्टिक विंग
-17 करोड़ की लागत से बनाई जाएगी यह विंग
-राजधानी जयपुर के गणगौरी अस्पताल की बदलेगी सूरत
-अस्पताल के विकास कार्यों के लिए 50 करोड़ का बजट

अजमेर मेडिकल कॉलेज का अब होगा नया एड्रेस !:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट !
-अजमेर शहर के बीचों-बीच स्थित कॉलेज कायड़ में होगा शिफ्ट
-इसके निर्माण के लिए 200 करोड़ रुपए की राशि का प्रावधान

गहलोत सरकार का हेल्थ बजट :
-प्रदेश में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों का बढ़ेगा दायरा
-सीएम गहलोत की 30 नए पीएचसी खोलने की घोषणा
-इसके साथ ही 50 पीएचसी होगी सीएचसी में क्रमोन्नत
-इसके अलावा बैजूपाडा दौसा, रानौली सीकर में नए सीएचसी

सांगानेर में खुलेगा नया सेटेलाइट हॉस्पिटल:
-मथानिया सीएचसी को भी किया जाएगा क्रमोन्नत
-सेटेलाइट अस्पताल के रूप में किया जाएगा क्रमोन्नत

9 क्षेत्रों को जिला अस्पताल की सौगात:
-भीलवाड़ा के शाहपुरा, बीकानेर के नोखा, करौली के हिण्डौन
-डूंगरपुर के सागवाड़ा, सवाई माधोपुर सीएचसी, नीमकाथाना,
-शिवगंज, बालोतरा, जोधपुर के प्रतापनगर का अस्पताल होगा क्रमोन्नत
-जिला अस्पताल के रूप में किया जाएगा इन्हें क्रमोन्नत
-इसके अलावा जयपुर के शाहपुरा और सीकर के फतेहपुर को भी सौगात
-यहां के सीएचसी को उप जिला चिकित्सालय के रूप में किया क्रमोन्नत

सड़क हादसों के घायलों को मिलेगा नया जीवन:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट !
-दस जगहों पर खोले जाएंगे नए ट्रोमा सेन्टर
-कुचामन सिटी, लाडनूं, उदयपुरवाटी, हलैना, मनियां,
-कोलायत समेत अन्य जगहों पर खुलेंगे ट्रोमा सेन्टर
-40 सीएचसी, 25 पीएचसी के लिए 206 करोड़ का प्रावधान
-भवन निर्माण के लिए किया गया बजट में यह प्रावधान

हेल्थ बजट:
-कोटा में 150 बैड का नया जिला अस्पताल
-जोधपुर का मण्डोर अस्पताल भी जिला अस्पताल में क्रमोन्नत
-विभिन्न चिकित्सालयों में 1 हजार बैड क्षमता में होगी बढ़ोत्तरी
-11 हजार प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र,
-उप स्वास्थ्य केन्द्र होंगे हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर के रूप में विकसित
-इसके लिए 11 हजार सीएचओ की भर्ती है प्रक्रियाधीन
-हर विधानसभा क्षेत्र में एक-एक बनेगी मॉडल सीएचसी
-सीएम गहलोत ने बजट स्पीच में विधायकों से किया आग्रह
-अपने क्षेत्र में एक सीएचसी का चयन करने का आग्रह
-और उस सीएचसी को बनाया जाए मॉडल सीएचसी

बजट में मेडिकल कॉलेजों में मूलभुत सुविधाएं बढ़ाने के लिए भी कई बड़ी घोषणाएं की गई.कोरोना महामारी को देखते हुए संक्रामक रोगियों को क्वालिटीयुक्त ट्रीटमेंट के लिए इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसिन व इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी की घोषणा की गई.इसके अलावा जयपुर और जोधपुर मेडिकल कॉलेज में कई नए विभाग खोलकर मरीजों को राहत देने का प्रयास किया गया.

जोधपुर मेडिकल कॉलेज को नए विभागों की सौंगात:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट
-जोधपुर में गठिया रोग के लिए इम्यूनोलॉजी एवं रूमेटोलॉजी विभाग
-पिडियाट्रिक यूरोलॉजी विभाग की घोषणा
-इसके अलावा जोधपुर में 500 बैड क्षमता के पीजी छात्रावास
-उदयपुर मेडिकल कॉलेज में 650 बैड क्षमता के पीजी छात्रावास की घोषणा

कोविड से लड़ने के लिए मजबूत होगा मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर !:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट
-क्रिटिकल केयर को मजबूत करने के लिए अजमेर, बीकानेर
-कोटा, जोधपुर, उदयपुर में 50-50 बैड के नवीन आईसीयू
-20-20 बैड के एनआईसीयू विकसित करने की घोषणा
-इसी प्रकार जिला अस्पताल भरतपुर, भीलवाड़ा, पाली, चूरू, डूंगरपुर
-बाडमेर, सीकर में भी 30-30 बैड के आईसीयू की घोषणा

संक्रामक रोगियों को मिलेगा डेडीकेटेड इंस्टीट्यूट में ट्रीटमेंट!:
-गहलोत के हेल्थ बजट से संक्रामक रोगियों के लिए बड़ी खबर
-जयपुर में बनेगा राष्ट्रीय स्तर का "इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसिन"
-स्वाइन फ्लू,इबोला,कोविड,डेंगू जैसी बीमारियों के लिए होगा ये इंस्टीट्यूट
-इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसिन" के अलावा
-इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी" की भी होगी जयपुर में स्थापना
-स्वाइन फ्लू, इबोला, कोविड,डेंगू वायरस के स्ट्रेन पर होगा रिसर्च
-इसके अलावा बनेगा राष्ट्रीय स्तर का इस्टीट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी

एसएमएस मेडिकल कॉलेज में शुरू होगी कई सेवाएं !:
-लिवर ट्रांसप्लांट के लिए हिपेटो पेनक्रियटो बिलेरी सर्जरी विभाग
-गठिया रोक के लिए इम्यूनोलॉजी एवं रूमेटोलॉजी विभाग
-बच्चों में यूरीनरी दिक्कतों को लिए पिडियाट्रिक यूरोलॉजी विभाग
-यूरीनरी कैंसर रोगियों के लिए यूरोओंकोलॉजी विंग की होगी स्थापना
-इसके अलावा अंग प्रत्यारोपण के तहत हार्ट लंग प्रत्यारोपण की सुविधा
-श्वास नली में रूकावट के लिए ईएनटी विभाग में CO2 लेजर मशीन
-ब्रेन स्ट्रोक रोगियों के बेहतर उपचार के लिए न्यूरोवैस्क्युलर एंजियोग्राफी लैब

जोधपुर के उम्मेद अस्पताल को 50 करोड़ की सौगात:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट
-उम्मेद पोस्ट ग्रेज्यूएट इंस्ट्रीट्यूट ऑफ मेटरनिटी एण्ड नियोनेटोलॉजी की स्थापना
-अस्पताल में राष्ट्रीय स्तर का बनाया जाएगा यह इंस्ट्रीट्यूट
-इसके अलावा पश्चिमी राजस्थान में बढ़ते कैंसर रोगियों को देखते हुए घोषणा
-जोधपुर में प्रादेशिक कैंसर इंस्टीट्यूट बनाने की घोषणा

गहलोत सरकार का हेल्थ बजट:
-22 अस्पतालों को मिलेगी जीवनवाहिनी
-एडवांस लाइफ सपोट क्रिटिकल केयर एम्बुलेंस की सौंगात
-इसके अतिरिक्त जोधपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, भरतपुर, झालावाड
-इन जिलो में 25 करोड़ की लागत से बनेंगे ट्रोमा सेन्टर

सीएम गहलोत ने आयुष को बढ़ावा देने की दिशा में भी बजट में कई घोषणाएं की.अजमेर में जहां आयुष अनुसंधान केन्द्र बनाने का प्रावधान बजट में जोड़ा गया, वहीं दूसरी ओर मेडी टयूरिज्म को बढ़ावा देने की दिशा में भी नए सेन्टर खोलने की घोषणा की.

आयुष को बढ़ावा देने के लिए बजट में विशेष फोकस:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट
-जयपुर, बीकानेर, भरतपुर, अजमेर, कोटा, सीकर
-इन जिलों में खुलेंगे आयुर्वेद, योग व नेचुरोपैथी के एकीकृत कॉलेज
-इसके अलावा उदयपुर, जोधपुर में योग-नेचुरोपैथी के खुलेंगे कॉलेज
-इन सभी कॉलेजों में पंचकर्म की सुविधाएं होगी विकसित
-इंटरनेशनल सेन्टर ऑफ एक्सीलेंस इन पंचकर्म की भी घोषणा
-राष्ट्रीय आयुर्वेद विवि जोधपुर में बनेगा ये सेन्टर
-इसके अलावा ड्रग टेस्टिंग लैब की स्थापना की भी घोषणा

गहलोत सरकार का हेल्थ बजट:
-अजमेर में बनेगा आयुष अनुसंधान केन्द्र
-सीएम गहलोत ने बजट में की बड़ी घोषणा
-एक हजार आयुर्वेद औषधालय भी होंगे विकसित
-हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर के रूप में होंगे विकसित

राजस्थान में खुलेंगे "मेडी-ट्यूरिज्म" सेन्टर:
-गहलोत सरकार का हेल्थ बजट
-पर्यटन और धार्मिक स्थानों पर आयुर्वेद, योग एवं
-प्राकृतिक चिकित्सा के शुरू किए जाएंगे ये सेन्टर
-पीपीपी मोड पर चरणबद्ध तरीके से शुरू होंगे सेन्टर

गहलोत सरकार का हेल्थ बजट:
-जिला अस्पतालों में आठ विशिष्टताओं के लिए कोर्स
-पोस्ट एमबीबीएस डिप्लोमा कोर्स की होगी शुरूआत
-इससे हर साल 400 अतिरिक्त विशेषज्ञ चिकित्सक होंगे उपलब्घ
-विशेषज्ञ चिकित्सकों का अलग से बनाया जाएगा कैडर
-हॉस्पिटल मैनेजमेंट कैडर" का गठन किया जाना भी प्रस्तावित

मिलावट रोकने के प्रति सीएम गहलोत गंभीर:
-सीएम गहलोत सरकार का हेल्थ बजट !
-अब पूरे सालभर चलेगा शुद्ध के लिए युद्ध अभियान
-अभियान की मॉनिटरिंग के लिए बनाया डायरेक्ट्रेट ऑफ फूड सेफ्टी
-फूड सेफ्टी के लिहाज से डेडिकेटेड डायरेक्टर की होगी पोस्ट
-इसके अलावा सिलिकोसिस प्रिवेंशन एण्ड रिसर्च के लिए पांच करोड़ का प्रावधान

आखिर चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा के प्रयास लाए रंग:
-SMS अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था होगी चाक चौबन्द  
-सीएम गहलोत की बजट 3.3 में बड़ी घोषणा
-अस्पताल के लिए डेडीकेटेड पुलिस थाना खोलने की घोषणा
-चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने मुख्यमंत्री को लिखा था इस बाबत पत्र
-अस्पताल में मौजूद चौकी को थाने में क्रमोन्नत करने का किया था आग्रह

सीएम गहलोत की जीवन बचाने की मुहिम:
-गहलोत सरकार का बजट 3.3
-सड़क हादसों के पीडितों को बेहतर चिकित्सा के लिए घोषणा
-40 सीएचसी होगी प्राइमरी ट्रोमा सेन्टर के रूप में विकसित

बजट में स्वास्थ्य विभाग की घोषणाओं ने एकबार फिर से साबित कर दिया है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आमजन की सेहत के प्रति कितने गंभीर है.सीएम गहलोत की राइट टू हेल्थ और निरोगी राजस्थान के संकल्प.की सोच को ये बजट दर्शाता है.अब उम्मीद ये ही है कि चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा के निर्देशन में टीम मेडिकल बजट की घोषणाएं जल्द धरातल पर उतारेगी और जनता को इनका सीधा लाभ मिलेगा.

और पढ़ें