नई दिल्ली राफेल की 'शस्त्र पूजा' विवाद पर राजनाथ सिंह ने दिया जवाब, बचपन से मानता हूं कोई महाशक्ति है

राफेल की 'शस्त्र पूजा' विवाद पर राजनाथ सिंह ने दिया जवाब, बचपन से मानता हूं कोई महाशक्ति है

 राफेल की 'शस्त्र पूजा' विवाद पर राजनाथ सिंह ने दिया जवाब, बचपन से मानता हूं कोई महाशक्ति है

नई दिल्ली:रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) फ्रांस की तीन दिवसीय यात्रा समाप्त करके वापस देश लौट आए है..वह राफेल (Rafale) विमान को लेने के लिए फ्रांस गए थे. देश लौटते ही रक्षा मंत्री ने राफेल की पूजा किए जाने पर छिड़े विवाद को लेकर जवाब दिया.उन्होंने वापस लौटते ही राफेल एयरक्राफ्ट की पूजा किए जाने पर छिड़े विवाद को लेकर जवाब दिया डिफेंस मिनिस्टर ने कहा, 'मैंने वही किया, जो मुझे सही लगा. यह हमारी आस्था है कि कोई महाशक्ति है और मैं इस पर बचपन से भरोसा करता रहा हूं.

राजनाथ सिंह ने कहा, 'सभी धर्मों के लोगों को अपनी आस्था के अनुसार प्रार्थना करने का अधिकार है. यदि किसी और ने ऐसा किया होता, तब मैं इस पर कोई आपत्ति नहीं करता.' कांग्रेस के कुछ नेताओं की ओर से ऐतराज जताए को लेकर उन्होंने कहा, 'मैं मानता हूं कि कांग्रेस पार्टी में भी इस पर राय बंटी हुई होगी. जरूरी नहीं है कि हर किसी की यही राय हो।' राजनाथ ने कहा कि राफेल को शामिल करने से वायुसेना की रक्षा और अटैक की ताकत में इजाफा होगा.इसके अलावा राफेल विमान की 'शस्त्र पूजा' करने को लेकर उठे सवाल पर विपक्ष की आलोचना का जवाब देते हुए रक्षा मंत्री ने कहा, "चाहें जिसको जो कहना है कहे जो मुझे उचित लगा मैंने किया. भविष्य में भी जो उचित लगेगा मैं करूंगा. हमारी आस्था है, कोई न कोई एक सुपरपावर है,

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कहा कि फ्रांस की उनकी यात्रा बेहद सार्थक रही और इससे भारत तथा फ्रांस के द्विपक्षीय रक्षा संबंध और प्रगाढ़ होंगे.
 

और पढ़ें