VIDEO: पंचायत-निकाय चुनाव में इस बार दलित वोट बैंक पर भाजपा की पैनी नजर

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/08/22 10:12

जयपुर: पंचायत चुनाव और नगर निकायों के चुनाव बिल्कुल पास में है. ऐसे में भाजपा की पैनी निगाह इस बार दलित वोट बैंक पर है. जिसके तहत अब प्रदेश भाजपा अनुसूचित जाति यानि कि एससी तबके के खिलाफ हो रहे अपराध के खिलाफ भाजपा कल प्रदेश भर में धरना प्रदर्शन करेगी. एक रिपोर्ट:

धरने प्रदर्शन के जरिये प्रहार की तैयारी:
दरअसल भाजपा अच्छे से जानती हैं कि यदि प्रदेश में कांग्रेस सरकार के खिलाफ माहौल बनाना है, तो मुद्दे ऐसे उठाये जाएं कि जिनके आधार पर लोग भी स्वाभाविक रूप से जुड़ सकें. इस बार भाजपा ने दलित अत्याचार का मुद्दा उठाया है. कारण साफ की भाजपा भले ही दलित वोट बैंक को खुद का बताए, लेकिन एक बात साफ है कि भाजपा को उम्मीद के मुताबिक़ दलित वोट बैंक नहीं मिल रहा है. ऐसे में धरने प्रदर्शन के जरिये भाजपा कांग्रेस पर प्रहार की तैयारी में है. यही कारण है कि कल पूरे प्रदेश भर में जिला स्तर पर भाजपा के धरने प्रदर्शन आयोजित होंगे. 

राज्यपाल को ज्ञापन:
हालांकि भाजपा ने दलित अत्याचार मामले पर पिछले दिनों राज्यपाल को ज्ञापन दिया था, जिसमें प्रदेश के तमाम प्रमुख नेता राजभवन जाकर राज्यपाल को ज्ञापन देकर आये थे. कहा भी था कि आगामी 23 अगस्त को धरने प्रदर्शन आयोजित होंगे. भाजपा की दलील है कि थानागाजी मामले से लेकर हरीश जाटव मामले समेत अब तक के सर्वाधिक दलित अत्याचार के मामले इस सरकार में आये हैं. 

भाजपा की राह मुश्किल:
भारतीय जनता पार्टी भले ही बड़ी बातें करें लेकिन पार्टी के अंदरूनी हालातों को पार्टी के नेता बखूबी जानते है. लोकसभा चुनाव में सिर्फ मोदी फैक्टर ने जहां पर काम किया, वहां अब पंचायत और निकाय चुनावों में स्थानीय मुद्दे काफी हावी होंगे. ऐसे में प्रदेश अध्यक्ष का इंतज़ार कर रही भाजपा के लिए कांग्रेस को चित्त करना इतना आसान नहीं होगा. 

सुभाष गर्ग का बड़ा बयान:
वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस सरकार में मंत्री सुभाष गर्ग ने बीजेपी पर आरोप लगाया है की आगामी निकाय और पंचायत चुनाव के चलते बीजेपी एससी एसटी वोट बैंक को साधने के लिए तमाम तरीके के नाटक कर रही है. भाजपा को गुटों में बटी रहने वाली पार्टी बताते हुए कहा है कि कांग्रेस जाति या धर्म देखकर राजनीति कभी नहीं करती, जबकि भाजपा जाति और धर्म देखकर राजनीति करती है. उनकी पार्टी एकजुट है, जबकि भाजपा में वसुंधरा राजे गुट, राजेन्द्र राठौड़ गुट, गजेंद्र सिंह शेखावत गुट, कटारिया व राज्यवर्धन सिंह समेत अनेक गुट बने हुए हैं. 


First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in