अमेरिका ने फिर अनुच्छेद 370 पर दिया बयान, भारत के फैसले का समर्थन लेकिन जम्मू-कश्मीर में लगी पाबंदियों पर जताई चिंता

अमेरिका ने फिर अनुच्छेद 370 पर दिया बयान, भारत के फैसले का समर्थन लेकिन जम्मू-कश्मीर में लगी पाबंदियों पर जताई चिंता

अमेरिका ने फिर अनुच्छेद 370 पर दिया बयान, भारत के फैसले का समर्थन लेकिन जम्मू-कश्मीर में लगी पाबंदियों पर  जताई  चिंता

वॉशिंगटन : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए हुए दो महीने से अधिक हो गया है. पाकिस्तान के द्वारा इस मसले को लगातार दुनिया के कई मंचों पर उठाया गया है, लेकिन वह इस मसले को भारत के खिलाफ इस्तेमाल करने में नाकाम रहा है. अब अमेरिका ने एक बार फिर अनुच्छेद 370 पर भारत का समर्थन किया अमेरिका ने मंगलवार को कहा कि सीमा पार आतंकवाद पर आतंकी समूहों को पाकिस्तान का निरंतर समर्थन लगातार भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत में बाधा बना हुआ है. दक्षिण एवं मध्य एशिया मामलों की अमेरिकी कार्यवाहक सहायक विदेश मंत्री एलिस जी वेल्स ने कहा कि द्विपक्षीय वार्ता को फिर से शुरू करने के लिए विश्वास पैदा करने की आवश्यकता होती है, और मुख्य बाधा सीमा पार आतंकवाद में लगे आतंकी समूहों के लिए पाकिस्तान का निरंतर समर्थन है.

मोदी सरकार की ओर से जबसे ये फैसला लिया गया है, तो पाकिस्तान को काफी दिक्कत हुई हैउन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि पाकिस्तान लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकवादी समूहों को शरण दे रहा है जो नियंत्रण रेखा के पार हिंसा भड़काना चाहते हैं अमेरिका का यह बयान भारत द्वारा पीओके में आतंकी कैंपों को निशाना बनाकर छह से दस पाकिस्तानी सेना को मारने के बाद आया है.एलिस वेल्स ने कहा, ‘हम भारत के तर्कों का सम्मान करते हैं और फैसले का समर्थन करते हैं. अमेरिका इन हालातों पर नज़र बनाए हुए है, हालांकि हमारी ये भी उम्मीद है कि अभी जो पाबंदियां लगी हुई हैं वह जल्द ही खत्म होंगी’. उन्होंने कहा कि भारत को सभी फैसले मानवाधिकार के आधार पर लेने चाहिए, जल्द ही इंटरनेट और फोन सुविधा को जल्द शुरू करना चाहिए

और पढ़ें