अमेरिकी अधिकारी ने किया बड़ा खुलासा, आईएसआईएस ने पिछले साल भारत में हमले की साजिश रची थी

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/06 01:02

वाशिंगटन: आईएसआईएस के खुरासान समूह उर्फ आईएसआईएस-के ने पिछले साल भारत में आत्मघाती हमले की साजिश रची थी. खूंखार आतंकी संगठन ISIS(आईएसआईएस) के सरगना अबू बक्र अल बगदादी की मौत के बाद अमेरिका ने एक बड़ा खुलासा किया है.अमेरिका के एक शीर्ष अधिकारी ने सांसदों को यह जानकारी दी. राष्ट्रीय खुफिया निदेशालय के तहत आने वाले राष्ट्रीय आतंकवाद रोधी केंद्र के कार्यकारी निदेशक रसल ट्रैवर्स ने मंगलवार को कहा कि आईएसआईएस की सभी शाखाओं में से आईएसआईएस-के वह संगठन है, जो अमेरिका के लिए चिंता की सबसे बड़ी वजह है.

ट्रैवर्स ने कहा कि जब हसन ने आईएसआईएस-के की इस क्षेत्र में आतंकवादी हमलों को अंजाम देने की क्षमता के बारे में पूछा, 'उन्होंने निश्चित रूप से अफगानिस्तान के बाहर हमलों को प्रेरित करने का प्रयास किया है. उन्होंने पिछले साल भारत में आत्मघाती हमले का प्रयास किया था लेकिन यह विफल हो गया.भारतीय मूल की सांसद मैगी हसन के एक सवाल के जवाब में ट्रैवर्स ने कहा, “आईएसआईएस की शाखाओं एवं नेटवर्क में से, आईएसआईएस-के निश्चित तौर पर सबसे ज्यादा चिंतित करने वाला संगठन है

हसन ने पिछले महीने अफगानिस्तान और पाकिस्तान की यात्रा की थी, इस दौरान उन्होंने कहा कि उन्होंने आईएसआईएस-के के बढ़ते खतरे के बारे में अमेरिकी सेना की चिंताओं को पहली बार सुना है, जो अफगानिस्तान में आईएसआईएस से जुड़े हैं.” मैगी द्वारा क्षेत्र में आतंकवादी हमलों को अंजाम देने की आईएसआईएस-के की क्षमता के बारे में पूछे जाने पर ट्रैवर्स ने कहा, “संगठन अफगानिस्तान के बाहर हमले करने के लिए उकसाता है. उसने पिछले साल भारत में आत्मघाती हमला करने की साजिश रची थी, जो नाकाम हो गई.”पिछले हफ्ते ट्रेवर्स ने कहा कि आईएस की दुनियाभर में 20 शाखाएं हैं जिसमें से कुछ परिष्कृत तकनीक का उपयोग कर रहे हैं. जैसे कि ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल.

सीनेटर हसन ने कहा कि सीरिया और इराक में ISIS के खिलाफ अमेरिका की प्रमुख जीत के बावजूद, आतंकी संगठन संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए एक घातक खतरा बना हुआ है.सांसद हसन ने कहा कि बेशक अमेरिका ने सीरिया और इराक में आईएस पर जीत हासिल की है लेकिन यह आतंकी संगठन उसके लिए बहुत बड़ा खतरा बना हुआ हैट्रेवर्स का कहना है कि आईएसआईएस-के ने कुछ साल पहले न्यूयॉर्क पर हमला करने की कोशिश की थी लेकिन एफबीआई ने उसे रोक दिया

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in