Live News »

राजस्थान में बिना सहमति CBI की नो-एंट्री, लेनी पड़ेगी अनुमति

राजस्थान में बिना सहमति CBI की नो-एंट्री, लेनी पड़ेगी अनुमति

जयपुर: राजस्थान में अब राज्य सरकार की बिना सहमति के CBI की एंट्री नहीं हो सकेगी. अब CBI सीधे किसी केस की जांच नहीं कर सकेगी. जांच के लिए राज्य सरकार की सहमति जरूरी होगी. गृह विभाग ने इस संबंध में अधिसूचना जारी की है. सरकार परिस्थिति के अनुसार किसी केस पर सहमति देगी. 

VIDEO: राजस्थान के राजनीतिक घटनाक्रम पर सीएम गहलोत का सबसे बेबाक इंटरव्यू, जाने हर सवाल का जवाब 

पहले की सभी सामान्य सहमति रद्द: 
राज्य सरकार ने पहले की सभी सामान्य सहमति रद्द की है. हालांकि विशिष्ट व्यक्तिगत मामलों में सहमति रहेगी. फोन टेपिंग में गृह मंत्रालय द्वारा रिपोर्ट करने के दूसरे दिन यह फैसला आया है. इस प्रकरण में संभावित CBI FIR के दृष्टिगत यह फैसला हुआ है. प. बंगाल में भी ममता बनर्जी ने ऐसा ही फैसला लिया था. हालांकि अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय व इंटर स्टेट मामलों में अब भी सीबीआई को राज्य सरकार की सहमति लेने की जरूरत नहीं है.

राजस्थान के सियासी घमासान पर हाईकोर्ट में आज भी जारी रहेगी सुनवाई, पायलट कैंप के एडवोकेट करेंगे बहस 

और पढ़ें

Most Related Stories

केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध में हरियाणा में किसान यूनियनों का प्रदर्शन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका

केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध में हरियाणा में किसान यूनियनों का प्रदर्शन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका

अंबाला/कुरुक्षेत्र: भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के कार्यकर्ताओं ने हरियाणा में कई जगहों पर केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन किया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला जलाया. कुरुक्षेत्र के शाहबाद में भाकियू कार्यकर्ताओं ने हरियाणा के पूर्व मंत्री और भाजपा नेता कृष्ण कुमार बेदी के घर के पास प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिये पुलिस ने पानी की बौछार का इस्तेमाल किया. कुछ प्रदर्शनकारियों ने काले झंडे ले रखे थे और उन्होंने नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए केंद्र और भाजपा के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की.

नारेबाजी कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंकाः
भाकियू के प्रदेश अध्यक्ष गुरनाम सिंह के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने अंबाला सिटी के निकट लखनपुर साहिब गांव में प्रदर्शन किया. प्रदर्शन स्थल पर किसानों ने केंद्र और भाजपा के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और कृषि कानूनों को वापस लिये जाने की मांग की. बाद में प्रदर्शन के तहत अंबाला और कुरुक्षेत्र में प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका. राज्य में कुछ अन्य जगहों पर भी भाकियू कार्यकर्ताओं ने ऐसा ही प्रदर्शन किया.

सुरक्षा इंतजामः काफी संख्या में पुलिसकर्मियों को किया गया तैनातः
गुरनाम सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि जब तक केंद्र सरकार नए कृषि कानूनों को वापस नहीं ले लेती तब तक उसके खिलाफ प्रदर्शन जारी रहेगा.अंबाला, कुरुक्षेत्र और यमुनानगर जिलों समेत विभिन्न स्थानों पर सुरक्षा इंतजाम के तहत सुबह से ही काफी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था. इस महीने के शुरू में कुरुक्षेत्र पुलिस ने सिंह के खिलाफ प्रधानमंत्री को लेकर कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर मामला दर्ज किया था.

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की आवाज को दबाने के लिए ऐसे हथकंड़े अपना रही सरकारः
भाकियू नेता ने किसानों से अपील की थी कि वे दशहरे के दौरान प्रधानमंत्री का पुतला जलाएं. इसके बाद शाहबाद पुलिस थाने में उनके खिलाफ शिकायत दर्ज की गई थी. शिकायत सामाजिक कार्यकर्ता साहिल ने दर्ज कराई थी. इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सिंह ने कहा कि सरकार नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की आवाज को दबाने के लिए ऐसे हथकंडों का इस्तेमाल कर रही है.
सोर्स भाषा

खेलों को बढ़ावा देने के लिए गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 29 खिलाड़ियों को मिलेगा नौकरी को तोहफा

जयपुरः खेलों को बढ़ावा देने के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश के 29 खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी देने का ऐतिहासिक फैसला लिया है. गहलोत सरकार द्वारा दिए गए इस फैसले के बाद राजस्थान में न सिर्फ खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ेगा बल्कि प्रदेश का खेलों के स्तर में भी सुधार होगा. प्रदेश सरकार की ओर से दीपावाली से पहले मिले इस तोहफे से खिलाड़ियों के चेहरों पर खुशी का माहौल है.

{related}

खिलाड़ियों को DSP की नौकरीः 
गहलोत सरकार की ओर से रविवार को दिए गए इस फैसले के अनुसार पांच खिलाड़ियों को डीएसपी की नौकरी दी जाएगी. इन खिलाड़ियों में तीरंदाज रजत चौहान, ओम प्रकाश, जितेंद्र सिंह, शालिनी पाठक, राजूलाल और ओमप्रकाश निठारवाल का नाम शामिल बताया जा रहा है.

पैरा खिलाड़ियों को मिलेगी ए कैटेगरी में नौकरीः
सरकार की ओर से जारी फैसले के मुताबिक पैरा खिलाड़ियों को भी ए कैटेगरी में नौकरी दी जाएगी. इस लिस्ट में देवेंद्र झाझड़िया, सुंदर गुर्जर, संदीप मान, कृष्णा नागर, निशा तंवर का नाम शामिल है. इसमें  देवेंद्र, कृष्णा व संदीप को सहायक वन संरक्षक की नौकरी तो वहीं सुंदर व निशा को सहायक आबकारी अधिकारी की नौकरी दी जाएगी।

बी कैटेगरी में 19 खिलाड़ियों के नाम शामिलः
वहीं बात करें सरकार के आदेश की तो इसमें 19 खिलाड़ियों के नाम बी कैटेगरी में  शामिल किए गए हैं. जिनमें लवमीत कटारिया, सुमित्रा शर्मा, कमलेश खटीक, कचनार चौधरी, महेंद्र सिंह, अर्जुन जाट, ममता ढाका, मनोहरलाल, प्राची गुर्जर, अनिल गुजराल, सचिन, दर्शना राठौड़, श्याम सुंदर स्वामी, ओम प्रकाश, भावेश शेखावत, महिपाल सिंह, करण सिंह, अजय सिंह का नाम शामिल किया गया है. वहीं वैरिफाई नहीं होने के कारण उमा का नाम लिस्ट में शामिल नहीं किया गया.

विजयदशमी पर कोरोना की मारः बरसों से चली आ रही रावण का पुतला दहन करने की परंपरा टूटी

विजयदशमी पर कोरोना की मारः बरसों से चली आ रही रावण का पुतला दहन करने की परंपरा टूटी

देहरादून (उत्तराखंड): बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक के रूप में मनाये जाने वाले विजयदशमी त्योहार के अवसर पर हर साल यहां रावण, मेघनाद और कुंभकर्ण का पुतला दहन करने की परंपरा इस साल कोविड-19 महामारी के चलते टूट गई.

फीका रहा दशहरे का उत्साहः
परेड ग्राउंड और बन्नू स्कूल, दोनों ही जगह इस बार पुतला दहन के कार्यक्रम आयोजित नहीं हो पाए, जिसके चलते इस बार यहां दशहरा का उत्साह फीका रहा. राज्य सरकार ने परेड ग्राउंड में चल रहे विकास कार्यों के कारण वहां पुतला दहन की अनुमति नहीं दी. इसके अलावा, बन्नू स्कूल में भी कार्यक्रम में लोगों की मौजूदगी 50 व्यक्ति तक सीमित रखने के आदेश दिए गए थे. इस वजह से नाराज बन्नू बिरादरी समिति के लोगों ने कार्यक्रम का आयोजन ही रद्द कर दिया.

{related}

भाजपा पर कांग्रेस का वार, कहा-सनातनी परंपरा को तोड़कर जन भावनाओं किया आहतः
हरिद्वार तथा प्रदेश में अन्य जगहों पर भी कोविड 19 के कारण पुतला दहन के कार्यक्रम नहीं आयोजित किए गए. मुख्य विपक्षी कांग्रेस ने इस मुद्दे पर देश और प्रदेश की भाजपा सरकारों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि उन्होंने सनातनी परंपरा को तोड़कर जन भावनाओं को आहत किया है. उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि हिंदू धर्म का ठेका उठाने वाले लोगों के राज में इतिहास में पहली बार इस महान पर्व पर सनातनी परंपराएं तोड़ दी गयीं और इससे जनभावनाएं बुरी तरह आहत हुई हैं.
सोर्स भाषा

विश्व कप विजेता कपिल ने जीती जिंदगी से जंग, स्वस्थ होकर अस्पताल से लौटे अपने घर

विश्व कप विजेता कपिल ने जीती जिंदगी से जंग, स्वस्थ होकर अस्पताल से लौटे अपने घर

नयी दिल्लीः भारत के पहले विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव को रविवार को शहर के एक अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी. दिल का दौरा पड़ने पर दो दिन पहले उनकी एंजियोप्लास्टी हुई थी. इस 61 वर्षीय पूर्व ऑलराउंडर को सीने में दर्द की शिकायत के बाद फोर्टिस एस्कोर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट के आपातकालीन विभाग में भर्ती कराया गया था. अब वह स्वस्थ हैं.

{related}

अस्पताल का बयान-जल्द ही शुरू कर सकते हैं अपनी दैनिक गतिविधियां
अस्पताल ने बयान में कहा कि कपिल देव को रविवार दोपहर बाद छुट्टी दे दी गयी. वह बेहतर स्थिति में हैं और जल्द ही अपनी दैनिक गतिविधि शुरू कर सकते हैं. वह डा. अतुल माथुर से लगातार परामर्श लेते रहेंगे.  एंजियोप्लास्टी ‘ब्लॉक’ हुई धमनियों को खोलने की प्रक्रिया है ताकि हृदय में सामान्य रक्त संचार हो सके.

कपिल देव के साथी चेतन शर्मा ने ट्वीट कर छुट्टी मिलने की खबर की साझाः
अस्पताल में भर्ती होने के बाद कपिल की स्थिति की जांच की गयी और अस्पताल के हृदय रोग विभाग के निदेशक डॉ. माथुर ने उनकी आपात कोरोनरी एंजियोप्लास्टी की. कपिल देव के पूर्व साथी चेतन शर्मा ने कपिल और डॉ. माथुर की तस्वीर के साथ ट्वीट किया, डॉ. अतुल माथुर ने कपिल पाजी की एंजियोप्लास्टी की. वह अब स्वस्थ हैं और उन्हें छुट्टी दे दी गयी है. यह तस्वीर अस्पताल से छुट्टी मिलने के समय की है.

सोशल मीडिया पर कपिल के स्वस्थ होने को लेकर क्रिकेटरों सहित उनके फैंस ने की थी कामनाः
सोशल मीडिया पर काफी लोगों ने 1983 विश्व विजेता महान आल राउंडर के शीर्ष स्वास्थ्य लाभ की कामना की थी. इनमें भारतीय कप्तान विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर सहित अन्य खिलाड़ी शामिल थे. भारत के महान क्रिकेटरों में से एक कपिल ने 131 टेस्ट और 225 वनडे खेले हैं. वह क्रिकेट के इतिहास में एकमात्र खिलाड़ी हैं जिन्होंने 400 से ज्यादा (434) विकेट अपने नाम कर टेस्ट मैचों में 5000 से ज्यादा रन जुटाये हैं. वह 1999 और 2000 के बीच भारत के राष्ट्रीय कोच भी रह चुके हैं. कपिल को 2010 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया था.
सोर्स भाषा

IPL20: चेन्नई सुपरकिंग्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को आठ विकेट से दी मात

IPL20: चेन्नई सुपरकिंग्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को आठ विकेट से दी मात

दुबई: रुतुराज गायकवाड़ (59 )  की अर्ध्दशतकीय और कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी (19 ) की पारियों की बदौलत इंडियन प्रीमियर लीग में रविवार को चेन्नई सुपरकिंग्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को 8  विकेट से हरा दिया.बेंगलोर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए छह विकेट पर 145 रन बनाये. चेन्नई ने 18.4 ओवरों में दो विकेट पर 150 रन बनाकर जीत दर्ज की.

विराट ने खेली अर्धशतकीय पारीः
इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी आरसीबी की ओर से विराट कोहली ने अर्धशतक लगाया और एबी डिविलियर्स के साथ क्रीज पर पर्याप्त समय बिताया लेकिन इसके बावजूद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) रविवार को यहां चेन्नई सुपरकिंग्स की कसी हुई गेंदबाजी के सामने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में छह विकेट पर 145 रन ही बना सकी.

कोहली और डिविलियर्स के बीच तीसरे विकेट के लिये हुई 82 रनों की साझेदारीः
पिच धीमी है और ऐसे में रन बटोरना आसान नहीं था. कोहली ने 43 गेंदें खेली और 50 रन बनाये लेकिन इसमें केवल एक चौका और एक छक्का शामिल है. डिविलियर्स 36 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 39 रन ही बना पाये. इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिये 82 रन की साझेदारी की. आरसीबी ने अंतिम तीन ओवरों में केवल 20 रन बनाये और इस बीच चार विकेट गंवाये. चेन्नई की तरफ से सैम कुरेन ने तीन ओवर में 19 रन देकर तीन जबकि दीपक चाहर ने चार ओवर में 31 रन देकर दो विकेट लिये.

चेन्नई के स्पिनरों के सामने खुलकर नहीं खेल पाएं आरसीबी के बल्लेबाजः
आरसीबी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. आरोन फिंच (11 गेंदों पर 15) और देवदत्त पडिक्कल (21 गेंदों पर 22) ने पहले विकेट के लिये 31 रन ही जोड़े और फिर से लंबी भागीदारी निभाने में नाकाम रहे. पडिक्कल का कैच फाफ डु प्लेसिस के बेहतरीन प्रयास से सीमा रेखा पर रितुराज गायकवाड़ ने लिया. डिविलियर्स और कोहली चेन्नई के स्पिनरों इमरान ताहिर (चार ओवरों में 30 रन), मिशेल सेंटनर (चार ओवर, 23 रन एक विकेट) और रविंद्र जडेजा (तीन ओवर में 20 रन) के सामने बीच के ओवरों में खुलकर नहीं खेल पाये. कोहली ने 28वीं गेंद का सामना करते हुए अपना पहला चौका लगाया. आरसीबी 15वें ओवर में तिहरे अंक में पहुंचा.

कोहली 200 छक्के मारने वाले पांचवें बल्लेबाज बनेः
कोहली ने आखिर में जडेजा पर पारी का दूसरा छक्का लगाया. यह आईपीएल में उनका 200वां छक्का है. वह यह उपलब्धि हासिल करे वाले पांचवें बल्लेबाज हैं. इस सूची में क्रिस गेल (336 छक्के) के बाद दूसरे नंबर पर काबिज डिविलियर्स (231) अपनी पारी का पहला छक्का जड़ने के प्रयास में लांग आन पर कैच दे बैठे. मोईन अली (01) ने भी कैच का अभ्यास कराया. कोहली ने 42 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया लेकिन इसके बाद डुप्लेसिस के बेहतरीन प्रयास से पवेलियन लौट गये. क्रिस मौरिस (दो) भी आखिरी ओवरों में जलवा नहीं दिखा पाये.
सोर्स भाषा

खुद को फिल्म अभिनेता बताकर विदेशों में बेचता था बच्चों की अश्लील तस्वीरें

खुद को फिल्म अभिनेता बताकर विदेशों में बेचता था बच्चों की अश्लील तस्वीरें

नयी दिल्ली: सीबीआई ने मुंबई स्थित एक छुटभैया टीवी कलाकार के खिलाफ कथित रूप से अंतरराष्ट्रीय गिरोह के संचालन के आरोप में मामला दर्ज किया है जो विदेशों से नाबालिगों की अश्लील यौन सामग्री लालच देकर एवं ब्लैकमेल कर इंस्टाग्राम पर हासिल करता था और बाद में उन्हें अंतरराष्ट्रीय ग्राहकों को बेचता था. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी.

10-16 साल के नाबालिगों के अश्लील फोटो करता था साझाः
उन्होंने कहा कि आरोपी ने अमेरिका, यूरोप और दक्षिण एशियाई देशों के 10-16 साल के करीब एक हजार नाबालिगों से फोटो साझा करने वाले सोशल मीडिया ऐप इंस्टाग्राम के जरिये संपर्क किया. उन्होंने कहा कि एजेंसी ने टीवी धारावाहिकों में जूनियर आर्टिस्ट होने का दावा करने वाले आरोपी के घर की हाल में तलाशी ली थी और वहां से उसका मोबाइल फोन और लैपटॉप जब्त किया गया.

{related}

खुद को फिल्म स्टार बताकर नाबालिगों को संबंधों के लिये बहलाता थाः
अधिकारी ने बताया कि उसके उपकरणों के फॉरेंसिक विश्लेषण से ऑनलाइन यौन शोषण संबंधी सामग्री मिली जिसे आरोपी बाद में व्हाट्सऐप और अन्य मंचों का इस्तेमाल करते हुए अपने अंतरराष्ट्रीय ग्राहकों को वितरित करता था. अधिकारियों ने कहा कि हरिद्वार का रहने वाला आरोपी खुद को फिल्म स्टार बताकर नाबालिगों को ऑनलाइन संबंधों के लिये बहलाता-फुसलाता था और इस दौरान उनसे अश्लील तस्वीरें और वीडियो देने को कहता था जिनका इस्तेमाल वह उन्हें अवैध धंधे के जाल में फंसाने के लिये करता था.

पीड़ितों के विरोध करने पर तस्वीरें वायरल करने की देता था धमकीः
उन्होंने कहा कि आरोपी उनका व्हाट्सऐप नंबर लेकर उनसे चैट करता और वीडियो कॉल के दौरान उनसे अश्लील हरकतें करने को कहता जिन्हें इंस्टाग्राम के जरिये विभिन्न देशों में स्थित उसके ग्राहकों से साझा किया जाता था. अधिकारी ने कहा कि अगर पीड़ित आरोपी से संपर्क खत्म करने की कोशिश करते तो आरोपी उनकी तस्वीरें परिवार और दोस्तों से साझा करने की धमकी देता. जांच एजेंसी ने आरोपी के खिलाफ पोक्सो और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है.
सोर्स भाषा

भारत के साथ भागीदारी को लेकर यह मानते हैं राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन

भारत के साथ भागीदारी को लेकर यह मानते हैं राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन

वाशिंगटन: भारत के वायु प्रदूषण पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणी की आलोचना करते हुए डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन ने शनिवार को कहा कि वह और उप राष्ट्रपति पद के लिए उनकी पार्टी की उम्मीदवार कमला हैरिस, अमेरिका के साथ भारत की साझेदारी का बेहद सम्मान करते हैं.

राष्ट्रपति ट्रंप ने चीन, भारत और रूस को बताया था गंदाः
बाइडेन ने एक ट्वीट में कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने भारत को ‘गंदा’ देश बताया है. इस तरह से अपने मित्रों के बारे में बात नहीं की जाती है और इस तरह से जलवायु परिवर्तन जैसी वैश्विक चुनौतियों का सामना भी नहीं किया जाता है. ट्रंप ने दो दिन पहले राष्ट्रपति चुनाव की बहस के दौरान चीन, भारत और रूस के बारे में कहा था कि ये देश अपनी ‘गंदी’ हवाओं का ध्यान नहीं रख रहे हैं.

{related}

अमेरिका तथा भारत में मध्य वर्ग और जलवायु परिवर्तन जैसी चुनौतियों पर करेंगे साथ कामः
गुरुवार को टेनेसी के नैशविल में बाइडेन के साथ अंतिम बहस के दौरान ट्रंप ने कहा था कि चीन को देखें, वह कितना गंदा है. रूस को देखें. भारत को देखें. वहां हवा बहुत गंदी है. 'इंडिया वेस्ट' साप्ताहिक के हालिया अंक में प्रकाशित अपने स्तंभ (लेख) को ट्वीट करते हुए उन्होंने शनिवार को एक ट्वीट में कहा कि कमला हैरिस और मैं हमारी साझेदारी को खूब महत्व देते हैं और हम हमारी विदेशी नीति में सम्मान को फिर से केंद्र में रखेंगे. उन्होंने कहा कि अगर वह राष्ट्रपति चुने जाते हैं तो अमेरिका और भारत आतंकवाद के सभी रूपों के खिलाफ और शांति और स्थिरता के ऐसे क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए साथ काम करेंगे, जहां चीन या कोई अन्य देश अपने पड़ोसी देशों को चेतावनी नहीं देता हो. उन्होंने कहा कि वह बाजारों को खोलेंगे और अमेरिका तथा भारत में मध्य वर्ग के लिए काम करेंगे तथा जलवायु परिवर्तन जैसी अंतरराष्ट्रीय चुनौतियों का सामना भी साथ में करेंगे.
सोर्स भाषा

एक शासक की जिंदगी में अहंकार, झूठ और वादाखिलाफी की कोई जगह नहींः सोनिया गांधी

एक शासक की जिंदगी में अहंकार, झूठ और वादाखिलाफी की कोई जगह नहींः सोनिया गांधी

नयी दिल्ली: कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी ने दशहरा पर्व की लोगों को बधाई देते हुए रविवार को कहा कि विजय दशमी का सबसे बड़ा संदेश यह है कि शासन में लोग सर्वोपरि हैं और एक शासक की जिंदगी में अहंकार, झूठ और वादाखिलाफी की कोई जगह नहीं है.

दशहरा अहंकार पर विवेक की जीतः
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मौके पर ट्वीट कर कहा कि सच की अंतत: विजय होगी. दशहरे पर अपने संदेश में सोनिया गांधी ने सभी लोगों को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि दशहरा अन्याय पर न्याय, असत्य पर सत्य और अहंकार पर विवेक की जीत का प्रतीक है. नौ दिन की पूजा के बाद यह किसी भी स्थिति में कर्तव्यों को पूरा करने का प्रण लेकर आता है.

{related}

लोगों से की अपील-त्योहार के दौरान खुद को कोरोना वायरस से भी रखें सुरक्षितः 
सोनिया गांधी ने कहा कि शासन में जनता सर्वोपरि है और एक शासक की जिंदगी में अहंकार, झूठ और वादाखिलाफी की कोई जगह नहीं है. यह विजय दशमी का सबसे बड़ा संदेश है. कांग्रेस की अध्यक्ष ने उम्मीद जताई कि यह दशहरा लोगों की जिंदगियों में न सिर्फ खुशहाली, शांति और समृद्धि लेकर आएगा, बल्कि उनमें सौहार्द और सांस्कृतिक मूल्यों को भी मजबूत करेगा. उन्होंने लोगों से अपील की कि वे त्योहार के दौरान खुद को कोरोना वायरस से सुरक्षित रखें एवं कोविड-19 के सभी दिशा-निर्देशों का पालन करें. कांग्रेस महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपल, मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला और प्रियंका गांधी वाद्रा समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने दशहरे के मौके पर लोगों को शुभकामनाएं दीं.
सोर्स भाषा