Live News »

धूमधाम से मनाया जा रहा शीतलाष्टमी का पर्व, शीतला माता मंदिर में अलसुबह से ही श्रद्धालुओं की कतारें

धूमधाम से मनाया जा रहा शीतलाष्टमी का पर्व, शीतला माता मंदिर में अलसुबह से ही श्रद्धालुओं की कतारें

बीकानेर: शीतलाष्टमी का पर्व प्रदेशभर के साथ बीकानेर में भी आज धूमधाम से मनाया जा रहा है. बीकानेर के शीतला गेट स्थित शीतला माता मंदिर में अलसुबह से ही श्रद्धालुओं की कतारें लगी नजर आई. शीतला माता मंदिर में श्रद्धालुओं ने पहुंचकर माता शीतला को बासी पकवानों का भोग लगाया. ठंडी राब, सांगरी की सब्जी आदि बासी पकवानों का माता शीतला को भोग लगाया गया. 

VIDEO: जयपुर बना देश का सियासी केंद्र, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बन रहे संकटमोचक 

शीतला माता मंदिर में आज मेला भी भरेगा:
साथ ही पानी और नमक से माता शीतला का अभिषेक भी किया गया. शीतला माता मंदिर में आज मेला भी भरेगा. श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. तो वही कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कल स्वास्थ्य विभाग द्वारा शीतला माता मंदिर परिसर में सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव भी किया गया था. 

कोरोना वायरस से जुड़ी राहत की खबर, राजस्थान के पॉजिटिव 3 मरीजों की रिपोर्ट आई नेगेटिव

और पढ़ें

Most Related Stories

Horoscope Today, 6 August 2020: गुरुवार को चमकेंगे इन पांच राशि वालों के सितारे, करें ये उपाय

Horoscope Today, 6 August 2020: गुरुवार को चमकेंगे इन पांच राशि वालों के सितारे, करें ये उपाय

जयपुर: दैनिक राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है. राशिफल की जानकारी करते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विश्लेषण किया जाता है. दैनिक राशिफल में सभी 12 राशियों के भविष्य के बारे में बताया जाता है. ऐसे में आप इस राशिफल को पढ़कर अपनी दैनिक योजनाओं को सफल बना सकते हैं. 

6 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त, आज के दिन जन्मे जातक होते हैं बुद्धिवान और भाग्यवान 

मेष (Aries): आज अपने दिन को सफ़ल बनाने के लिए कंट्रोल आपके ही हाथ में हो सकता है. सकारात्मक दृष्टिकोण से हर परिस्थिति को अपने अनुकूल करने का प्रयास करें. कारोबार से जुड़े लोगों के लिए समय मिश्रित है. आज के  दिन की सफलता के लिए लाल चन्दन का तिलक लगा कर घर से निकले. 

वृष (Taurus): आज इनकम, खर्चे और पैसों के हर तरह के मामले की बिल्कुल बारीकी से जांच करने  ही कोई फ़ैसला करें. कई दिनों से कार्यों में जो अवरोध आ रहे थे वे आज दूर होंगे. आज के दिन की सफलता के लिए विष्णु मंदिर  मे दूध का दान करें.

मिथुन (Gemini): आज आज किए गए बिजनेस के सौदे फायदेमंद होने के योग बन रहे हैं. कार्यक्षेत्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझें. आगे बढ़ने के अवसर मिलेंगे. सेहत का थोड़ा ध्यान रखे आज के दिन की सफलता के लिए प्रातः पितरों के नाम का घी का दीपक जलाये. 

कर्क (Cancer): आज आप खुद को समय के साथ चलने दें. जो जैसा हो रहा है, उसका विरोध न करें. कोई भी फैसला बिना सोचे-समझे न करें. वर्तमान स्थिति को स्वीकार करें क्योंकि वर्तमान में ही भविष्य का निर्माण होता है. आज के  दिन की सफलता के लिए विष्णु मंदिर में कमल पुष्प अर्पण करें. 

सिंह (Leo): आज आप अपना काम चुपचाप करते रहे तो हर कार्य मे सफल हो जाएंगे. जोश के साथ आज होश के संतुलन को बनाये रखें. जो भी परेशानी हो उसका सामना करें. जल्द ही परिस्थिति अनुकूल हो जाएगी. आज के दिन की सफलता के लिए आज के दिन अनाथाश्रम मे फलों का दान करें. 

कन्या (Virgo): आज आपका दिन मिश्रित फल देने वाला रहेगा. आपके कामों में दूसरे लोगों की दखल अंदाजी हो सकती है. कुछ काम अधूरे रह सकते हैं.  जरूरत से ज्यादा खर्च करने से बचें. आज के दिन की सफलता के लिए अपने माता पिता को कुछ मीठा अवश्य खिलाये. 

तुला (Libra): आज अपने कार्य में तेजी लाएं. आज की जिम्मेदारी कल पर न छोड़ें. आय और व्यय का संतुलन बनाकर चलें. सोच-विचार में समय खराब करने से बचें. आज के दिन की सफलता के लिए छत पर या घर के बाहर पशु-पक्षियों के लिए पीने का पानी रखें. 

वृश्चिक (Scorpio): आज गंभीरता से की गई चर्चा से कुछ खास मामले सुलझने के योग हैं. कार्यक्षेत्र में आप बहुत हद तक सफल हो सकते हैं. किसी काम में संकोच न करें. आप बोलचाल में संयम रखने की कोशिश करें. आज के दिन की सफलता के लिए बंदरो को केले खिलायें.

धनु (Sagittarius): आज व्यापार-व्यवसाय में श्रेष्ठ योग बनेंगे. नए रास्ते खोजने, नए विकल्पों पर विचार करने में संकोच न करें. अपने आत्मसम्मान के साथ कोई समझौता न करें. आज के दिन की सफलता के लिए भगवान शिव की आरधना करके दिन की शुरुआत करें. 

मकर (Capricorn): आज अपने सोचने का तरीका थोड़ा बदल ले तो दिन अच्छा बीत सकता है. कुछ नया और कुछ अलग करने की कोशिश कर सकते हैं. साझेदारी में काम करना आपको फायदेमन्द रहेगा. आज दिन की सफलता के लिए छोटी कन्या को बिस्कुट का पैकेट का दान करें. 

कुंभ (Aquarius): आज अपने मन की आवाज़ अवश्य सुनें. अपनी विचारधारों को अत्यधिक त्यागना ज़रूरी नहीं जब तक की वह आपके और आपके अपनों के लिए हानिकारक न हो. दिन की सफलता के लिए श्री हनुमान जी मंदिर मे एक मीठा पान चढ़ाये. 

मीन (Pisces): आज जो भी काम सामने आए, उसमें आप अपनी पूरी शक्ति लगा दें. इसके अच्छे नतीजे मिलेंगे. फैसले लेने के लिए और योजनाओं पर काम शुरू करने के लिए बहुत अच्छा दिन है. आज आप अपने आपको डिस्टर्ब न होने दें. आज के  दिन की सफलता के लिए किसी भूखे आदमी को भोजन करवाएं. 

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

6 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त, आज के दिन जन्मे जातक होते हैं बुद्धिवान और भाग्यवान

6 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त, आज के दिन जन्मे जातक होते हैं बुद्धिवान और भाग्यवान

जयपुर: पंचांग का हिंदू धर्म में शुभ व अशुभ देखने के लिए विशेष महत्व होता है. पंचाम के माध्यम से समय एवं काल की सटीक गणना की जाती है. यहां हम दैनिक पंचांग में आपको शुभ मुहूर्त, शुभ तिथि, नक्षत्र, व्रतोत्सव, राहुकाल, दिशाशूल और आज शुभ चौघड़िये आदि की जानकारी देते हैं. तो ऐसे में आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल... 

शुभ मास- भाद्रपद मास कृष्ण पक्ष:-  
शुभ तिथि तृतीया जया संज्ञक तिथि रात्रि 12 बजकर 15 मिनट तक तत्पश्चात चतुर्थी रिक्ता संज्ञक तिथि आरम्भ. तृतीया तिथि मे सभी प्रकार के शुभ और मांगलिक कार्य, विवाह, प्रतिष्ठा, अन्नप्राशन, यज्ञोपवीत, उत्सव, यज्ञादि कार्य विशेष शुभ माने जाते हैं.  तृतीया तिथि मे जन्मे जातक प्रमादी, धनवान, बुद्धिवान, भाग्यवान, पराक्रमी होते हैं.

शुभ नक्षत्र शतभिषा नक्षत्र दोपहर 11 बजकर 18 मिनट तक तत्पश्चात पूर्वा भाद्रपद नक्षत रहेगा. शतभिषा नक्षत्र मे मुंडन, जनेऊ, देव प्रतिष्ठा, वास्तु, वाहन क्रय करना, विवाह ,व्यापर आरम्भ, बोरिंग, शिल्प , विद्या आरम्भ इत्यादि कार्य विशेष रूप से सिद्ध होते हैं.

चन्द्रमा - सम्पूर्ण दिन कुम्भ राशि में संचार करेगा

व्रतोत्सव -  सातुड़ी तीज, कजली तीज, चंद्रोदय समय -रात्रि 9-12 पर 

राहुकाल - दोपहर 1.30 बजे से 3 बजे तक                              

दिशाशूल - गुरुवार को दक्षिण दिशा मे दिशाशूल रहता है. यात्रा को सफल बनाने लिए घर से दही खा कर निकले.

आज के शुभ चौघड़िये - सूर्योदय से प्रातः 7.36 मिनट तक शुभ का, प्रातः 10.54 से दोपहर 3.50 मिनट तक चर, लाभ , अमृत का और सायं 5.29 से सूर्यास्त तक शुभ का चौघड़िया. 

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री 

Ram Mandir Bhumi Pujan: राम जन्मभूमि पूजन की धूम देश ही नहीं विदेश में भी, पीएम मोदी अयोध्या के लिए रवाना

Ram Mandir Bhumi Pujan: राम जन्मभूमि पूजन की धूम देश ही नहीं विदेश में भी, पीएम मोदी अयोध्या के लिए रवाना

नई दिल्ली: अब से कुछ देर बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अयोध्या में आज 12 बजकर 15 मिनट और 15 सेकंड पर राम मंदिर का भूमिपूजन करेंगे. इसको लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी आज ट्वीट किया और लिखा कि- भूमि पूजन के मौक़े पर पूरे देश को बधाई भगवान राम का आशीर्वाद हम पर बना रहे. उनके आशीर्वाद से हमारे देश को भुखमरी, अशिक्षा और ग़रीबी से मुक्ति मिले और भारत दुनिया का सबसे शक्तिशाली राष्ट्र बने. आने वाले समय में भारत दुनिया को दिशा दे. जय श्री राम! जय बजरंग बली!

राम जन्मभूमि पूजन की धूम देश ही नहीं विदेश में भी:
राम जन्मभूमि पूजन की धूम देश ही नहीं विदेश में भी है. अमेरिका में भारतीय समुदाय के लोग वॉशिंगटन डीसी के कैपिटल हिल के बाहर इक्ट्ठे हुए. उन्होंने अयोध्या में होने वाले शिलान्यस कार्यक्रम के लिए अपनी खुशी जताई.

USA: Members of the Indian community gathered outside the Capitol Hill in Washington DC to celebrate the foundation laying ceremony of #RamTemple in #Ayodhya pic.twitter.com/NofEWuM3E5

— ANI (@ANI) August 5, 2020

पीएम मोदी अयोध्या के लिए रवाना: 
पीएम नरेंद्र मोदी दिल्ली से अयोध्या के लिए विशेष विमान से रवाना हो गए हैं. 10:35 पर पीएम मोदी के विशेष विमान की लखनऊ एयरपोर्ट पर लैंडिंग होगी. इसके बाद 10:40 बजे हेलिकॉप्टर से अयोध्या के लिए निकलेंगे. 

चांदी का एक सिक्का भेंट किया जाएगा: 
भूमि पूजन समारोह में शामिल हर शख्स को लड्डू के साथ प्रसाद के रूप में चांदी का एक सिक्का भेंट किया जाएगा. चांदी के सिक्के के एक तरफ राम दरबार की छवि है. जिसमें भगवान राम, सीता, लक्ष्मण और हनुमान हैं. दूसरी तरफ ट्रस्ट का प्रतीक चिह्न है.

2 साल 8 महीने का लगेगा समय: 
भूमि पूजन का कार्यक्रम के बाद जल्द से जल्द मंदिर निर्माण को लेकर काम शुरू हो जाएगा. ट्रस्ट ने मंदिर निर्माण करने वाली कंपनी को मंदिर निर्माण पूरा करने के लिए अगले 32 महीने का वक्त दिया है यानी अब से 2 साल 8 महीने बाद भव्य राम मंदिर का निर्माण पूरा हो सकता है. राम मंदिर में 366 स्तंभ, 5 मंडप होंगे. ये 161 फुट ऊंचा होगा.

Ram Mandir Bhumi Pujan: आज राम मंदिर के लिए भूमि पूजन, 366 स्तंभ, पांच मंडप और 161 फुट ऊंचा होगा राम मंदिर

Ram Mandir Bhumi Pujan: आज राम मंदिर के लिए भूमि पूजन, 366 स्तंभ, पांच मंडप और 161 फुट ऊंचा होगा राम मंदिर

अयोध्या: अयोध्या में भव्य श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण की 5 सदी से चली आ रही प्रतीक्षा समाप्त होने का ऐतिहासिक पल आ गया है. राम मंदिर के शिलापट्ट का अनावरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे. शिलापट्ट का अनावरण 12.30 बजे होगा. पीएम मोदी और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भूमि पूजन के कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे. 12.44 बजे भूमि पूजन होगा.

रैपिड टेस्ट के बाद अब सवालों के घेरे में एंटीजन टेस्ट! चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने फिर उठाए केन्द्र पर सवाल

राममय हुई अयोध्या:
राम मंदिर के भूमि पूजन से पहले अयोध्या राममय हो गई है. हर तरफ राम नाम का संकीर्तन हो रहा है. जय श्रीराम के नारे की गूंज सुनाई दे रही है. हल्की बारिश भी हो रही है. हालांकि, कार्यक्रम स्थल पर वाटरप्रूफ टेंट लगाए गए हैं. इस खास अवसर पर पूरी राम नगरी को दुल्हन की तरह सजाया गया है. हालांकि इसके साथ ही जिले में सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या के जिलाधिकारी अनुज झा और डीआईजी दीपक कुमार ने बताया कि आज जिले में सभी बाजार खुले रहेंगे, लेकिन बाहरी लोगों को यहां आने की अनुमति नहीं होगी.

40 किलो चांदी की ईंट से रखी जाएगी मंदिर की नींव:
पीएम मोदी अयोध्या पहुंचेंगे. भूमि पूजन के दौरान वो 40 किलो की चांदी की ईंट राममंदिर की नींव में रखी जाएगी. इसके बाद वो मंदिर परिसर में पारिजात का पौधा लगाएंगे. सबसे पहले वो हनुमान गढ़ी में दर्शन के लिए जाएंगे. 

भूमि पूजन में 175 प्रतिष्ठित मेहमान शामिल होंगे:
आज राम मंदिर के भूमि पूजन में 175 प्रतिष्ठित मेहमान शामिल होंगे. इसमें सर संघचालक मोहन भागवत, सरकार्यवाह भय्याजी जोशी, दत्तात्रेय होसबले, सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल, विश्व हिंदू परिषद के मुखिया आलोक कुमार, पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, मुस्लिम पक्षकार रहे हाजी महबूब, इकबाल अंसारी, लावारिस लाशों का अंतिम संस्कार करने वाले पद्मश्री मुहम्मद शरीफ शामिल हैं. वहीं राम मंदिर आंदोलन के आधार रहे लालकृष्ण अडवाणी और मुरली मनोहर जोशी वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए भूमि पूजन के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे.

सवा लाख लड्डू होंगे तैयार: 
भूमि पूजन समारोह के लिए अयोध्या में करीब सवा लाख लड्डू तैयार हो रहे हैं. इन्हें प्रसाद के रूप में पूरे देश में वितरित किया जाएगा.

भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे:
भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे, पांच मंडप वाले और 161 फुट ऊंचे इस मंदिर को दुनिया के बेहतरीन मंदिरों में से गिना जाएगा. इसके खंभों में किसी तरह के लोहे का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चांदी के फावड़े और कन्नी का इस्तेमाल करेंगे.

दीया कुमारी बोलीं, मैं वसुंधरा राजे का बहुत सम्मान करती हूं, पहली बार संगठन में मंत्री उन्होंने ही बनाया

चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा:
राम मंदिर भूमि पूजन के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. अयोध्या की सीमा में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति और वाहन की जांच की जा रही है. कई इलाकों में रूट डायवर्ट किए गए हैं.


 

राम मंदिर को लेकर बोले सीएम गहलोत, कहा- यह मौका प्रधानमंत्री के लिए साहस दिखाने का...

राम मंदिर को लेकर बोले सीएम गहलोत, कहा- यह मौका प्रधानमंत्री के लिए साहस दिखाने का...

जयपुर: कल यानि पांच अगस्त को अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसकी आधारशिला रखेंगे. इसको लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि 5 अगस्त को होने वाला राम मंदिर शिलान्यास प्रधानमंत्री के लिये साहस दिखाने तथा लोगों को यह संकल्प लेने के लिये कहने का एक अवसर है कि मानवता पर लगे छुआछूत के कलंक को मिटायें तथा दलितों, आदिवासियों और पिछड़ों के साथ समानता का व्यवहार करें. ऐसा करके हम मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के आदर्शों को पूरा कर सकते हैं और उनकी भावना पर खरे उतर सकते हैं. 

कलराज मिश्र ने दी पीएम को बधाई:
राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने पीएम मोदी को विशेष रूप से बधाई दी है. उनका कहना है कि राम जन्मभूमि पर राम मंदिर बनाने का सपना साकार हो रहा है और प्रतिबद्धता पूरी हो रही है. 

Rajasthan Political Crisis: विधायकों के वेतन भत्ते रोकने से जुड़ी जनहित याचिका खारिज 

भूमिपूजन सोमवार से शुरू हो चुका: 
बता दें कि श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन सोमवार से शुरू हो चुका है. 21 वैदिक आचार्यों ने सोमवार सुबह 9 बजे यजमान महेश भरतचक्रा को संकल्प दिलाते हुए पूजन किया. आज रामार्चा पूजा हो रही है, जिसे डॉ.रामानंद दास करा रहे हैं. पीएम मोदी के भूमिपूजन के दिन अयोध्या, मथुरा, काशी, दिल्ली के आचार्य पूजन कराएंगे.

राममंदिर को लेकर रणदीप सुरजेवाला ने रखा कांग्रेस का पक्ष, राजस्थान के बागी विधायकों पर भी बोली बड़ी बात 

अयोध्या में मेहमानों का आना शुरू: 
बाबा रामदेव, स्वामी अवधेशानंद, चिदानंद मुनि, सुधीर दहिया, राजू स्वामी एक हेलीकॉप्टर से अयोध्या एयरपोर्ट पहुंचे. ब्रह्मानंद स्वामी, सुरेश पटेल व रितेश डांडिया दूसरे हेलीकॉप्टर से अयोध्या एयरपोर्ट पहुंचे. कल राम मंदिर भूमि पूजन में होंगे शामिल. 


 

Horoscope Today, 3 August 2020: बहनें राशि के अनुसार बांधें भाई के राखी, रहेगा बेहद खास

Horoscope Today, 3 August 2020: बहनें राशि के अनुसार बांधें भाई के राखी,  रहेगा बेहद खास

जयपुर: दैनिक राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है. राशिफल की जानकारी करते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विश्लेषण किया जाता है. दैनिक राशिफल में सभी 12 राशियों के भविष्य के बारे में बताया जाता है. ऐसे में आप इस राशिफल को पढ़कर अपनी दैनिक योजनाओं को सफल बना सकते हैं. 

Raksha Bandhan 2020: चौघड़िए अनुसार जानिए राखी बंधने का शुभ मुहूर्त, रहेगा परम कल्याणकारी 

मेष(Aries): मेष राशि वाली बहनें, भाई को कुमकुम का तिलक लगाएं और लाल रंग की डोरी वाली राखी बांधें. भाई को मालपुए खिलाएं. इससे पूरे साल भाई का स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा. मेष राशि वाले भाई अपनी बहन को लाल रंग का मोबाइल या पर्स उपहार स्वरूप दे. एक-दूसरे के प्रति गहरा लगाव बना रहेगा. 

वृष(Taurus): अगर आपकी राशि वृष है तो भाई को राखी बांधते वक्त उनके सिर पर सफेद रंग का रूमाल या तौलिया रखें और फिर चांदी या सिल्वर रंग की राखी बांधें.  भाई को दूध से निर्मित मिठाई खिलाएं. वहीं इस राशि वाले भाई अपनी बहन को ऑफवाइट प्रिंटेड साडी, मेकअप बॉक्स उपहार में दे सकते हैं. 

मिथुन(Gemini): मिथुन राशि वाली बहनें, राखी बांधते वक्त हरे वस्त्र से भाई का सिर ढकें. हरे धागे या हरे रंग की राखी बांधे. भाई को बेसन से निर्मित मिठाई खिलाएं. भाई अपनी बहन को हरे रंग की लाख की चूडि़यां उपहार मे अपनी बहना को भेंट कर सकते हैं. 

कर्क(Cancer): बहन की राशि कर्क हो तो भाई को सफेद या क्रीम रंग के धागों से बनी मोतियों वाली राखी बांधें. इससे भाई का मन हमेशा शांत रहेगा. भाई को रबड़ी खिलाएं. भाई सफेद व क्रीम रंग की साड़ी, टाउजर, परफयूम एंव मोती का माला अपनी बहन को गिप्ट कर सकते हैं. 

सिंह(Leo): सिंह राशी वाली बहनें, भाई की कलाई पर स्वर्ण, पीली या नारंगी रंग की राखी बांधें और माथे पर सिन्दूर या केसर का तिलक लगाएं. इससे आपके भाई का भाग्यवर्धन होगा. भाई को रस वाली मिठाई खिलाएं. भाई पीले व नारंगी कपड़े, हाथ घड़ी, सोने की अंगूठी अपनी बहन को उपहार में दे सकते हैं. 

कन्या(Virgo): अगर बहन की राशि कन्या है तो भाई को हरे रंग की राखी और चांदी या सफेद रंग का धागा बांधें. इससे भाई के जीवन की रक्षा होगी. भाई को मोतीचूर के लड्डू खिलाएं. भाई पन्ने की अंगूठी, हरे वस्त्र अपनी बहन को गिप्ट कर सकते हैं. 

तुला(Libra): तुला राशी की बहनें हल्का नीला या क्रीम रंग की राखी भाई को बांधें और राखी बांधते समय इन्हीं रंगों के रूमाल से भाई का सिर ढंकें. भाई को हलवा या घर में निर्मित मिठाई खिलाएं. भाई नीली व सफेद रंग की साड़ी, जींस, टाउजर, टॉप, हिल स्टेशन का टिकट अपनी बहन को गिप्ट में दे सकते हैं. 

वृश्चिक(Scorpio): अगर आपकी राशि वृश्चिक है तो आप अपने भाई को लाल या गुलाबी रंग की चमकीली राखी या रक्षासूत्र बांधें. साथ ही भाई को लाल रंग की मिठाई भी खिलाएं. भाई को गुड़ से बनी मिठाई खिलाएं. भाई गुलाबी रंग के वस्त्र, टैबलट अपनी बहना को उपहार में दे सकते हैं. 

धनु(Sagittarius): अगर बहन की राशि धनु है तो उनके लिए अपने भाई को पीताम्बरी या पीले रंग की रेशमी धागों से बनी राखी बांधना शुभ रहेगा. इससे भाई के अध्ययन और व्यवसाय में तरक्की होगी. भाई को बालूशाही खिलाएं. भाई पीले व केसरिया रंग के कपड़े एंव कम्प्यूटर अपनी बहन को गिप्ट दे सकते हैं. 

मकर(Capricorn): अपने भाई को बुरी नजर से बचाने के लिए मकर राशि वाली बहनें भाई को नीले रंग की मोतियों वाली राखी बांधें. साथ ही ग्रे या नेवी ब्लू रूमाल से उनका सिर ढकें. भाई को रसगुल्ले खिलाएं. भाई काले रंग का पर्स, बैग, अटैची अपनी बहन को उपहार में दें. 

कुंभ(Aquarius): यदि आपकी राशि कुंभ है तो बेहतर होगा आप अपने भाई को आसमानी या नीले रंग की डोरी से बनी राखी बांधें. इससे भाई का भाग्य चमकेगा. भाई को कलाकंद खिलाएं. भाई लडडू गोपाल जी की मूर्ति अपनी बहन को गिप्ट में दे सकते हैं. 

मीन(Pisces): मीन राशि वाली बहनें, अपने भाई को लाल, पीले या संतरी रंग की राखी बांधें और हल्दी का तिलक लगाएं. इससे भाई के जीवन में शुभता आएगी. भाई को मिल्ककेक खिलाएं. भाई सोने की अॅगूठी, पैरों के अभूषण जैसे- पायल, बिछुआ आदि वस्तुयें अपनी बहन को उपहार में दे सकते हैं. 

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

Raksha Bandhan 2020: चौघड़िए अनुसार जानिए राखी बंधने का शुभ मुहूर्त, रहेगा परम कल्याणकारी

Raksha Bandhan 2020: चौघड़िए अनुसार जानिए राखी बंधने का शुभ मुहूर्त, रहेगा परम कल्याणकारी

जयपुर: आज रक्षा बंधन का त्योहार है. हिंदू पंचांग के अनुसार सावन महीने के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा पर यह पर्व मनाया जाता है. इस बार  रक्षाबंधन पर सर्वार्थ सिद्धि योग नाम का बहुत ही शुभ योग है. ज्योतिष के मुताबिक इस योग में अगर कोई भी शुभ कार्य किया जाता है कार्य बहुत ही जल्द सिद्धि हो जाता है. इसके साथ ही आज सावन महीने का अंतिम सोमवार भी है और सावन महीने आज खत्म हो जाएगा. 

रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त-
राखी बांधने का शुभ मुहूर्त प्रातः 9-29 मिनट से रात्रि 9-29 मिनट तक रहेगा. 

चौघड़िए अनुसार राखी बंधने का शुभ मुहूर्त इस प्रकार है -

प्रातः 9-29 मिनट से  पूर्वाह्न 10-54 मिनट तक शुभ के चौघड़िया मुहूर्त में राखी बंधवाना शुभ रहेगा. 

दोपहर 2-12 मिनट से सायं 7-10 मिनट तक चर, लाभ ,अमृत के चौघड़िया मुहूर्त में भी राखी बंधवाना शुभ रहेगा. 

अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12-06  बजे से दोपहर 12-59 मिनट में भी राखी बंधवाना शुभ रहेगा. 

राहुकाल समय  प्रातः 7.30 से 9 बजे तक में अपने भाइयों को राखी बांधने से बचे. 

आप इस समय का लाभ उठाये और शुभ समय में रक्षाबंधन का त्यौहार मनाये. 

सौजन्य- राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

कोरोना की वजह से नहीं भरेगा विश्व प्रसिद्ध लोक देवता बाबा रामदेव का वार्षिक मेला

कोरोना की वजह से नहीं भरेगा विश्व प्रसिद्ध लोक देवता बाबा रामदेव का वार्षिक मेला

रामदेवरा: विश्व प्रसिद्ध बाबा रामदेव का वार्षिक मेला इस बार कोविड 19 के चलते नहीं लगेगा. इस बारे में एसडीएम अजय अमरावत ने जानकारी देकर स्पष्ट किया कि बाबा रामदेव का मेला इस बार नहीं लगेगा. रविवार को एसडीएम अजय अमरावत ने समाधि समिति कार्यालय में पदाधिकारीयो से भेंट कर इस बारे में अवगत करवाया. लोक देवता बाबा रामदेव का प्रतिवर्ष अगस्त-सितंबर में लगने वाला वार्षिक मेला इस बार रामदेवरा में नहीं लगेगा.

धार्मिक स्थलों को खोलने पर लगाई पाबंदी: 
इस बारे में एसडीएम अजय अमरावत ने रविवार को समाधि समिति कार्यालय पहुंच कर समाधि समिति के पदाधिकारियों के साथ चर्चा की और उन्हें इस बारे में अवगत करवाया. समाधि समिति कार्यालय में समाधि समिति के अध्यक्ष और गादीपति राव भोम सिंह तंवर,सरपंच समंदर सिंह तंवर,उपसरपंच खिवसिंह तंवर, आदि शामिल रहे. राज्य सरकार के 31 अगस्त तक सभी धार्मिक स्थलों को खोलने पर पाबंदी लगाई हुई हैं.

टोंक के उनियारा में गलवा बांध की मोरी में मिले 3 शव, एक ही परिवार के सदस्य बताए जा रहे तीनों मृतक 

कोरोना की वजह से लिया निर्णय:
वहीं इस बार बाबा रामदेव का मेला भी 20 अगस्त से 2 सितंबर तक आयोजित होना हैं. प्रतिवर्ष बाबा रामदेव के वार्षिक मेले में देश और प्रदेश से करीब 30 से 50 लाख श्रद्धालु समाधि के दर्शनों को आते हैं. इसी के चलते कोविड 19 की पालना में इस साल का वार्षिक बाबा रामदेव का मेला नहीं लग रहा है. सावन मास से ही श्रद्धालुओं का पैदल आगमन हो जाता है. लेकिन इस बार पैदल यात्री भी सड़कों पर बहुत कम नज़र आ रहे हैं.

बीकानेर में सेल्फी लेते वक्त पुलिया से नीचे गिरने पर युवक की मौत 

मेला नहीं लगने की आधिकारिक घोषणा:
स्थानीय व्यापार की सभी गतिविधियों पर पिछले 5 महीने से अवरोध लगा है. यात्रियों की आवक थमने से सभी रोजगार मन्दे पड़े हैं. वार्षिक मेले में श्रद्धालुओं के भारी आगमन से व्यापारियों को काफी अच्छी आय होती हैं. कई लोग पूरे साल की आय मेले में ही कमा लेते हैं. इस बार सभी मायूस हैं. रविवार को एसडीएम की ओर से मेला नहीं लगने की आधिकारिक घोषणा हो गई हैं.

...फर्स्ट इंडिया के लिए राजेन्द्र सोनी की रिपोर्ट

Open Covid-19