Hanumangarh: नहर में चार लोगों के कार सहित गिरने का मामला, पुलिस जांच में सामने आया चौंकाने वाला खुलासा

Hanumangarh: नहर में चार लोगों के कार सहित गिरने का मामला, पुलिस जांच में सामने आया चौंकाने वाला खुलासा

Hanumangarh: नहर में चार लोगों के कार सहित गिरने का मामला, पुलिस जांच में सामने आया चौंकाने वाला खुलासा

हनुमानगढ़: फरवरी माह में गांव लखूवाली के पास संदिग्ध परिस्थितियों में कार सहित नहर में गिरे चार जनों की डूबने से मौत के मामले में शनिवार को बड़ा खुलासा हुआ. पुलिस जांच में सामने आया है कि यह आकस्मिक दुर्घटना न होकर सोची-समझी चार हत्याओं की साजिश थी. चालक ने ही अपने परिचित के साथ मिलकर सुनियोजित तरीके से कार को नहर में धक्का देकर चारों हत्याएं की थी. कार सवार मृतक को बेची गई जमीन की कीमत बढ़ने पर आरोपी की नियत बदल गई थी. वह मृतक को जमीन नहीं बेचना चाहता था. यही कारण रहा कि चालक ने अपने जानकार के साथ मिलकर सुनियोजित तरीके से चार जनों की हत्या कर दी. 

शनिवार को यह सनसनीखेज खुलासा जिला पुलिस अधीक्षक प्रीति जैन ने प्रेस वार्ता में किया. इसके साथ ही पूर्व में कार चालक के खिलाफ दर्ज गैर इरादतन हत्या का मामला हत्या में तब्दील हो गया. इस मामले में पुलिस ने कार चालक के सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि कोर्ट के निर्णय की पालना में मुख्य आरोपी कार चालक को नोटिस दिया है. पुलिस विधिक प्रक्रिया के तहत अनुसंधान कर उसकी भी गिरफ्तारी करेगी. मुख्य आरोपी कार चालक जांच अधिकारी के समक्ष होकर अपना जुर्म स्वीकार चुका है. 

चालक का मृतक के साथ सम्पति को लेकर विवाद था:
एसपी प्रीति जैन ने बताया कि प्रकरण की गम्भीरता को देखते हुए बीकानेर रेंज आईजी प्रफुल्ल कुमार के निर्देशन में 16 फरवरी को हनुमानगढ़ टाउन पुलिस थाना में आईपीसी की धारा 304ए के तहत दर्ज मामले की जांच रावतसर सीओ रणवीर सिंह मीणा को सौंपी गई. अनुसंधान के दौरान रावतसर सीओ रणवीर सिंह मीणा एवं हनुमानगढ़ सीओ सिटी प्रशांत कौशिक की संयुक्त पुलिस टीम ने मानवीय आसूचना व तकनीकी बिन्दुओं का बारिकी से विश्लेषण किया तो यह बात सामने आई कि कार चालक रमेश स्वामी जिसका मृतक विनोद कुमार के साथ सम्पति को लेकर विवाद था. जिसके कारण उसने मृतक की हत्या कर दी.

और पढ़ें