Live News »

केशवरायपाटन में तेज बारिश, मेज नदी में आया पानी 

केशवरायपाटन में तेज बारिश, मेज नदी में आया पानी 

केशवरायपाटन (बूंदी)। केशवरायपाटन उपखण्ड में देर रात्रि में हुई मूसलाधार बारिश से किसानों के चेहरे खिले गये है। बारिश से मेज नदी में उफान आया, झालीजी का बराना मेज नदी की पुलिया डूबी गयी, जिससे झालीजी का बराना गेण्डोली मार्ग अवरुद्ध हो गया है। एक दर्जन गांवों का जिला मुख्यालय से संपर्क कट गया है।

उपखण्ड क्षेत्र में 2  दिनों से इंद्रदेव मेहरबान है और क्षेत्र में कही मूसलाधार तो कई रिमझिम बारिश का दौर जारी है। बारिश होने से किसानों के चेहरे भी खिल उठे है, खेतों में मुरझाई हुई फसलों को जीवनदान मिल गया है। वही बारिश से झालीजी का बराना मेज नदी की पुलिया पर बुधवार शाम से ही पानी की आवक तेज हो गई है, जिससे मेज नदी की पुलिया कल देर शाम से ही डूब चुकी है। इस कारण झालीजी का बराना-गेण्डोली  मार्ग अवरुद्ध हो गया, पुलिया पर पानी की चादर चल रही है। वहीं जिला मुख्यालय से करीब एक दर्जन गांवों का सम्पर्क कट गया है और पुलिया पर जलस्तर धीरे-धीरे बढ़ रहा है। लोगों को तेज गर्मी और उमस से निजात मिल गई है। 

और पढ़ें

Most Related Stories

मेवाड़ एक्सप्रेस की चपेट में आने से पिता-पुत्री की मौत

मेवाड़ एक्सप्रेस की चपेट में आने से पिता-पुत्री की मौत

केशवरायपाटन(बूंदी): कापरेन थाना क्षेत्र से होकर निकल रही दिल्ली-मुम्बई रेलवे लाइन पर मध्य रात्रि को गरजनी रेलवे फाटक पर पिता-पुत्री की रेल से कटकर मौत हो गई. जानकारी अनुसार देहीखेडा थाना क्षेत्र के जालेडा निवासी 60 वर्षीय पिता घासीलाल मीणा व 17 वर्षीय बेटी सुगना के शव गरजनी रेलवे फाटक पर पड़े मिले. सूचना पर कापरेन थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाए हैं.

Rajasthan Corona Updates: अस्पताल की दूसरी मंजिल से छलांग लगाने पर कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत, लगातार बढ़ रही संक्रमितों की संख्या 

परिजनों के अनुसार वह मानसिक अवसाद में थे: 
गौरतलब है कि पिता-पुत्री रात नौ बजे घर से निकले थे. पुलिस सूत्रों ने बताया कि पिता-पुत्री फाटक पार करते समय देर रात मेवाड़ एक्सप्रेस ट्रेन की चपेट में आ गए, जबकि परिजनों ने पुलिस को सौंपी रिपोर्ट में बताया कि वह मानसिक अवसाद में थे. पुलिस ने दोनों के शवों को राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय कापरेन लेकर आये. जहां दोनो के शवों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सपुर्द कर दिया. परिजनों के मुताबिक मृतक ने पांच पूर्व गांव के ही शिवराज गुर्जर के खिलाफ दीवार फांदकर घर मे घुसने का मामला भी दर्ज करवाया था. वहीं मामले में पुलिस ने युवक को भी गिरफ्तार कर रखा है. कापरेन पुलिस पूरे मामले की बारीकी से जांच कर रही है. 

केंद्रीय गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, राजीव गांधी फाउंडेशन के लेनदेन की होगी जांच 

छोटी बहनों के साथ नदी में नहाने गई युवती की डूबने से मौत

छोटी बहनों के साथ नदी में नहाने गई युवती की डूबने से मौत

केशवरायपाटन(बूंदी): कापरेन थाना क्षेत्र के डोलर गांव में शनिवार सुबह दो चचेरी बालिकाओं के साथ नहाने गई युवती की डूबने से मौत हो गई. तीनों के एक साथ डूबने से गांव में सनसनी फैल गई. जानकारी मुताबिक डोलर निवासी रामलाल गुर्जर की बेटी मृतका सेना गुर्जर आयु 20 वर्ष अपनी चचेरी बहिनों के साथ रोजाना की तरह शनिवार को भी चम्बल नदी में नहाने गई थी. जो रोज की तरह नदी को पार कर एक छोर से दूसरे छोर जा रही थी. इस दौरान दूसरे छोर से लौटते वक्त नदी में डूब गई. बहिन को डूबता देख दोनों बहिने अर्चना व नीमा भी उसे बचाने दौड़ी तो वो भी डूबने लगी. 

बंदी ने जेल प्रहरी पर लगाया मोबाइल बेचने का संगीन आरोप, जेल के अंदर से की मारपीट की शिकायत 

नदी में युवती के डूबने की सूचना गांव में आग की तरह फैल गई:
इस दौरान पास ही नहा रहे डोलर चम्बल घड़ियाल चौकी के गश्ती दल के फोरेस्टर सत्यवीर, नीरज शर्मा व विक्रम सिंह ने दौड़कर दोनों बहिनों को सकुशल बाहर निकाला. तीसरी की भी तलाश की लेकिन सफलता नहीं मिली. नदी में युवती के डूबने की सूचना गांव में आग की तरह फैल गई. ऐसे में भारी संख्या में ग्रामीण नदी पर उमड़ पड़े. सूचना पर केशवरायपाटन पुलिस उपाधीक्षक दीपक गर्ग व कापरेन थानाधिकारी बुद्धिप्रकाश नामा मय जाब्ते पहुंचे. 

बकरी चोरी के आरोप में युवक से नग्न कर मारपीट, बाल काटे, मुंह काला किया 

ग्रामीणों व वन विभाग की टीम ने युवती के शव को बाहर निकाला:
करीब दो घण्टे की मशक्कत के बाद ग्रामीणों व वन विभाग की टीम ने युवती के शव को बाहर निकाला. जिसे राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय कापरेन लेकर गए. जहां चिकित्सकों ने शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया. वही गांव में पहली दफा हुई इस घटना से गमगीन माहौल बना रहा. मृतका सेना बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा थी. 
 

बजरी माफियाओं पर वन विभाग सख्त, चम्बल नदी से बजरी का दोहन करते ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त

बजरी माफियाओं पर वन विभाग सख्त, चम्बल नदी से बजरी का दोहन करते ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त

केशवरायपाटन(बूंदी): बरसाती मौसम नजदीक आते ही माफियाओं की नब्ज तेजी से चलना शुरू हो गई है. क्योंकि लॉकडाउन के चलते प्रशासनिक अधिकारियों की मुश्तेदी के चलते इस बार भूमाफियों की एक न चली. ना ही कोई मिलिभगत हो पाई. अब बरसाती मौसम से पूर्व माफियाओं का रुख चम्बल नदी से बजरी परिवहन की ओर बढ़ रहा है. ऐसे में राष्ट्रीय चम्बल घड़ियाल अभ्यारण की टीम ने भी पूरी तरह कमर कस रखी है. टीम ने रोटेदा नाके पर ही पड़ाव डाल रखा है. 

मुंह बोले भाई ने गला दबाकर की बहन की हत्या, खुद ने भी कांच से गला काटकर की आत्महत्या 

चम्बल नदी से बजरी परिवहन करते एक ट्रैक्टर को जब्त किया:
बीती रात देईखेड़ा इलाके के बसवाड़ा गांव में चम्बल नदी से बजरी परिवहन करते एक ट्रैक्टर को जब्त किया है. जिसे रोटेदा नाके में लाया गया. बजरी माफियाओं पर लगाम लगाने के लिए राष्ट्रीय चम्बल घड़ियाल अभ्यारण की टीम ने पूरी तरह कमर कस रखी है. बजरी माफियाओं पर लगाम लगाने के लिए चम्बल घड़ियाल की टीम क्षेत्रीय वन अधिकारी देवेंद्र गुर्जर व सहायक वनपाल सुमित कनोजिया की अगुवाई में बेधडक कार्यवाहीयो को अंजाम दे रही है. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में पांच मौतें, 144 नए पॉजिटिव केस, जयपुर के एक ही मकान में रहने वाले 26 लोग कोरोना संक्रमित 

चम्बल घड़ियाल की टीम पूरी मुस्तेदी दिखा रही:
केशवरायपाटन क्षेत्र से होकर गुजर रही चम्बल नदी में अवैध बजरी के कारोबार पर लगाम लगाने के लिए चम्बल घड़ियाल की टीम पूरी मुस्तेदी दिखा रही है. मंगलवार अलसुबह देईखेड़ा इलाके के बसवाड़ा गांव में वन विभाग की टीम ने गश्त के दौरान चम्बल नदी से बजरी परिवहन करते एक ट्रैक्टर जब्त किया है. बजरी खनन पर वन विभाग की कार्यवाही होते ही बजरी माफियाओं में हड़कंप मच गया. ट्रेक्टर को जब्त कर वन विभाग की टीम रोटेदा चौकी पर ले आई. बजरी माफियाओं पर बेधड़क हो रही कार्यवाहियों से बजरी माफिया भी हरकत में आये हुए है. इस दौरान शैतानराम, नीरज, भूपेंद्र सिंह, फौजी आदि वनकर्मी मौजूद रहे. 

खेल खेल में घुमा दी ट्रैक्टर की चाबी, दो बच्चों की मौत

खेल खेल में घुमा दी ट्रैक्टर की चाबी, दो बच्चों की मौत

केशवरायपाटन(बूंदी): उपखण्ड क्षेत्र के कापरेन थाना अंतर्गत बोरदारोड सड़क पर मंगलवार सुबह ईट भट्टे पर कार्य करने वाले ट्रैक्टर चालक को ट्रैक्टर में चाबी छोड़ना भारी पड़ गया. ट्रैक्टर में सवार चालक के दोनों बच्चो ने खेल खेल में चाबी घुमा दी. जिससे ट्रैक्टर स्टार्ट हो गया और पलट गया. इससे मौके पर ही दोनों बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई. 

पूर्व CJI रंजन गोगोई राज्यसभा के लिए मनोनीत, सीएम गहलोत ने कहा- इससे लोगों का न्यायिक प्रणाली पर विश्वास खत्म हो जाएगा 

ट्रैक्टर स्टार्ट होकर पास ही गहरी खाई में जाकर पलट गया:
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक बोरदा रोड पर ईंट भट्टों पर काम करने वाला ट्रैक्टर चालक फतेह सिंह बंजारा अपने 4 वर्षीय बेटे गणेश व 8 वर्षीय बेटे श्याम को लेकर सुबह कापरेन बायपास पर पहुंचा था. वह दोनों मासूमों को ट्रैक्टर में छोड़कर नीचे उतर गया, तभी बच्चों ने ट्रैक्टर की चाबी घुमा दी, जिससे ट्रैक्टर स्टार्ट होकर पास ही गहरी खाई में जाकर पलट गया. 

VIDEO: रंजन गोगोई को राज्यसभा से मनोनीत किये जाने पर डॉ महेश जोशी ने उठाया सवाल, बीजेपी पर साधा निशाना 

सूचना पर पुलिस व आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई:
वहीं पुलिस के मुताबिक चालक दोनों बच्चों को ट्रैक्टर में लेकर जा रहा था. इस दौरान अनियंत्रित होकर ट्रॉली पलट गई और दोनों मासूम ट्रैक्टर के नीचे दबे रह गए, जिनकी मौके पर ही मौत हो गई. सूचना पर पुलिस व आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई. जिन्होंने दोनों बच्चों को बाहर निकाला और कापरेन राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय लेकर आये. जहां चिकित्सकों ने दोनों बच्चों को मृत घोषित कर दिया. बाद में दोनों शवों का चिकित्सकों ने पोस्टमार्टम कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया. वहीं पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है. 
 

Open Covid-19