VIDEO: लोकसभा चुनाव पर भी पड़ रहा महंगाई का असर, इस बार राज्य में 260 करोड़ का बनाया बजट

Dr. Rituraj Sharma Published Date 2019/04/18 11:57

जयपुर। महंगाई का असर लोकसभा चुनाव पर भी पड़ रहा है। आलम यह है कि पिछले लोकसभा चुनाव से इस चुनाव का आकलित बजट 85 करोड़ बढ़ा है। इस बार लोकसभा चुनाव में राज्य में 260 करोड़ का बजट बनाया गया है जो कि विधानसभा चुनाव से 10 करोड़ ज्यादा है।
हर बार लोकसभा चुनाव का खर्चा लगातर बढ़ता ही जा रहा है। इस बार लोकसभा चुनाव का बजट 260 करोड़ का है।

पिछले लोकसभा चुनाव से यह बजट 48.57%(85 करोड़ ) ज्यादा का है वहीं पिछले विधानसभा चुनाव से भी 10 करोड़ ज्यादा का बजट है। 

- पिछले विधानसभा चुनाव से 4% ज्यादा बजट 
- विधानसभा चुनाव में ढाई सौ करोड़ का बजट 
- लोकसभा चुनाव 2019 में है 260 करोड का बजट 
- 2013 विधानसभा चुनाव में 143 करोड़ का था बजट लोकसभा चुनाव 2014 में 175 करोड़ का था बजट
- कुल 260 करोड़ की राशि में से जिलों को 100 करोड़ की राशि आवंटित की जा चुकी है

आइए जानते हैं कि किस-किसमें खपता है बजट...
- इस बजट राशि का मोटा हिस्सा मतदान कर्मियों की ड्यूटी में खर्च होता है 
- लोकसभा चुनाव में साढ़े 4 लाख मतदान कर्मियों की ड्यूटी और उस दौरान भत्ते इसी मदद से दिए जा रहे हैं 
- इन कर्मियों का लंबा चौड़ा लवाजमा तैनात किया जाता है जिसमें भी लाखों से करोड़ की राशि व्यय होगी-
- पीआरओ,पीओ,सेक्टर अधिकारी व माइक्रो ऑब्जर्वर -
- ईवीएम टेक्नीशियन,मीडिया सेल,एमसीसी टीम्स-

अन्य-असिस्टेंट एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर्स-
- FST ‌‌व SST-
- VST,VVT
- अकाउटिंग टीम
- जिलास्तरीय नोडल अधिकारियों में एमसीएमसी व पेड न्यूज के लिए टीम
- एमसीसी व एक्सपेंडिचर मॉनिटरिंग
- लॉ एंड ऑर्डर वल्नरेबल मेपिंग
- पोल डे अरेंजमेंट
- राज्य व जिलास्तरीय एमसीएमसी
- विधानसभा स्तरीय मास्टर ट्रेनर को ट्रेनिंग
- जिलास्तर पर ट्रेनिंग
- पीआरओ व पीओएस को दो बार ट्रेनिंग
- इसके बाद बजट का बड़ा हिस्सा मतदान कार्य में लिए जाने वाले या अधिग्रहित करने वाले वाहनों पर खर्च होता है।

इन वाहनों की रहेगी जरूरत...
- बस व मिनी बस,कार,जीप, ट्रक,अन्य वाहन
 - पूरे बजट में 10 करोड़ का बजट स्वीप गतिविधियों के लिए है ।
- वहीं 65 लाख ट्रेनिंग कार्यक्रम के संचालन के लिए रखे गए हैं।
- इन अधिकारियों की ट्रेनिंग पर भी लाखों से करोड़ों हो रहे खर्च

ये काम भी होते हैं अहम...
- न मिटने वाली स्याही-10 सीसी की 1,27,440 से ज्यादा शीशी
- एरो क्रॉस मार्क रबर स्टांप,ग्रीन पेपर सील
- पिंक पेपर सील-इन कामों में होती है बड़ी राशि खर्च

पुलिस व अर्द्ध सैन्य बल मिलाकर 1 लाख 60 हजार से ज्यादा की तैनाती संभव है...जिसका खर्चा भी वहन किया जाएगा। इस बार नए अपनाए जा रहे सिस्टम के तहत सुरक्षाकर्मियों,पुलिस बलों,होमगार्ड्स और अर्द्ध सैन्य बलों के खाते में राशि पहुंचाई जाएगी। 

अनुमानित आकलन अनुसार विधानसभा चुनाव 2013 में 143.92 करोड खर्चा हुआ। इस लोकसभा चुनाव में भी बजट से ज्यादा खर्चा होना संभव है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in